Submit your post

Follow Us

CBI, ED चीफ का कार्यकाल 5 साल तक बढ़ाया जा सकेगा, ED प्रमुख के रिटायरमेंट से 3 दिन पहले अध्यादेश

केंद्र सरकार ने केंद्रीय जांच ब्यूरो CBI और प्रवर्तन निदेशालय ED के प्रमुख का कार्यकाल बढ़ाने का फैसला किया है. इसके लिए सरकार एक अध्यादेश ले आई है. अध्यादेश में कहा गया है कि सीबीआई और ईडी के निदेशकों के कार्यकाल को पांच साल तक के लिए बढ़ाया जा सकता है. अध्यादेश के अनुसार, दो साल का कार्यकाल पूरा होने के बाद इन शीर्ष एजेंसियों के प्रमुखों के कार्यकाल को 1+1+1 के आधार पर बढ़ाया जा सकता है.

इन अध्यादेश में कहा गया है कि पहले सीबीआई और ईडी के डायरेक्टरों की नियुक्ति दो साल के लिए होती थी. अगर सरकार चाहे तो दो साल पूरे होने पर एक-एक साल करके तीन बार इनका कार्यकाल बढ़ा सकती है. यानी पहले 2 और बाद में 3 साल, कुल मिलाकर 5 साल. पांच साल के बाद इनके कार्यकाल को और नहीं बढ़ाया जा सकता.

ED प्रमुख के रिटायरमेंट से 3 दिन पहले आया अध्यादेश

न्यूज एजेंसी PTI के मुताबिक, विनीत नारायण के प्रसिद्ध मामले में सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों के मद्देनजर सीबीआई और ईडी के निदेशकों की नियुक्ति की तारीख से उनका दो साल का निश्चित कार्यकाल होता है. केंद्रीय सतर्कता आयोग (संशोधन) अध्यादेश को मौजूदा प्रवर्तन निदेशालय प्रमुख एस के मिश्रा की सेवानिवृत्ति से महज तीन दिन पहले जारी किया गया है. सरकार ने उनका दो साल का कार्यकाल पूरा होने के बाद 2020 में एक और सेवा विस्तार दिया था. इस मामले में इस साल सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई जिसने सेवा विस्तार को रद्द नहीं किया, लेकिन सरकार से मिश्रा को 17 नवंबर के बाद और सेवा विस्तार नहीं देने को कहा. हालांकि, अधिकारियों ने कहा कि अध्यादेश लागू होने के बाद देखना होगा कि मिश्रा ईडी प्रमुख के रूप में काम करते रहेंगे या नहीं.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा जारी अध्यादेश कहा गया है,

शर्ते जिस अवधि के लिए प्रवर्तन निदेशालय के निदेशक अपनी प्रारंभिक नियुक्ति पर पद धारण करते हैं, उसे सार्वजनिक हित में, खंड (ए) के तहत समिति की सिफारिश पर और लिखित रूप में दर्ज किए जाने वाले कारणों के लिए, एक बार में एक वर्ष तक बढ़ाया जा सकता है.

प्रवर्तन निदेशालय वित्त मंत्रालय के राजस्व विभाग के तहत काम करता है. इसका काम विदेशी मुद्रा से जुड़े कानूनों और मनी लॉन्ड्रिग से जुड़े मामलों का पता लगाना और उनकी जांच करना है. ईडी निदेशक की नियुक्ति केंद्रीय सतर्कता आयुक्त की अध्यक्षता वाली समिति की सिफारिश पर केंद्र सरकार करती है. इसके सदस्यों में सतर्कता आयुक्त, गृह सचिव, कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग के सचिव और राजस्व सचिव शामिल हैं.

CBI को लेकर भी आया अध्यादेश

सरकार ने दिल्ली विशेष पुलिस स्थापन (DSPI) (संशोधन) अध्यादेश, 2021 भी जारी किया है. इस अध्यादेश में DSPI कानून में प्रावधान जोड़ा गया है,

बशर्ते जिस अवधि के लिए निदेशक अपनी प्रारंभिक नियुक्ति पर पद धारण करते हैं, उसे सार्वजनिक हित में, धारा 44 की उप-धारा (1) के तहत समिति की सिफारिश पर और लिखित रूप में दर्ज किए जाने वाले कारणों के लिए, एक बार में एक वर्ष तक बढ़ाया जा सकता है. बशर्ते प्रारंभिक नियुक्ति में उल्लेखित अवधि समेत कुल पांच वर्ष की अवधि पूरी होने के बाद ऐसा कोई सेवा विस्तार नहीं दिया जाएगा.

सीबीआई कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय के तहत काम करने वाली एक जांच एजेंसी है. इसका काम रिश्वतखोरी, सरकारी भ्रष्टाचार, केन्द्रीय कानूनों का उल्लंघन आपराधिक और आर्थिक मामलों की जांच करना है.सीबीआई के निदेशक का चयन प्रधानमंत्री, भारत के प्रधान न्यायाधीश और लोकसभा में विपक्ष के नेता की एक समिति की सिफारिश के आधार पर होता है.


  वीडियो: अनिल देशमुख ने ED की पूछताछ से पहले वीडियो जारी कर बड़ा सवाल पूछ दिया है!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

मृतक व्यक्ति पर नाबालिग से बलात्कार का आरोप था.

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5G के रोल आउट को लेकर दिक्कतें चालू.

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

बीमा कंपनी गाड़ी चोरी या दुर्घटनाग्रस्त होने का बहाना बनाए तो ये आदेश दिखा देना.

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

दबी जुबान में क्या कह रही है पुलिस?

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

जानेंगे बैंक FD में क्यों घट रही है लोगों की दिलचस्पी.

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

तौकीर रजा कांग्रेस पर आरोप लगा चुके हैं कि उसने मुसलमानों पर आतंकी का टैग लगाया.

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

जानिए UPA के समय हुई इस डील ने कैसे देश को शर्मसार किया.

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

बीबीसी का आरोप, टीम के साथ नरसिंहानंद के समर्थकों ने गाली-गलौज और धक्का-मुक्की की.

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

मुख्य आरोपी के साथ उसके दोस्तों को पुलिस ने पकड़ लिया है.

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

पार्टी के इस कदम से आहत हरक सिंह रावत मीडिया के सामने भावुक हो गए.