Submit your post

Follow Us

पूर्व CBI जज ने कहा, ज़मानत के लिए भाजपा नेता ने की थी 40 करोड़ की पेशकश

38.56 K
शेयर्स

जी जनार्दन रेड्डी. भाजपा नेता. रेड्डी बंधुओं में से एक. छोटे गली सोमशेखर रेड्डी, उनसे बड़े गली जनार्दन रेड्डी और सबसे बड़े गली करुणाकर रेड्डी. भाजपा के कुबेर कहे जाते रहे हैं. कर्नाटक के बेल्लारी से सुषमा स्वराज को सोनिया गांधी को चुनाव लड़ाने से लेकर बेल्लारी में ही मंत्रालय सम्हालने तक. कर्नाटक में भाजपा का चुनाव कैम्पेन फंड किया. भाजपा की हरसंभव मदद की. अवैध खनन के मामले में फंस गए. सीबीआई की जांच बैठ गयी. गिरफ्तार कर लिए गए. लेकिन ज़मानत भी मिल गयी. कहा गया कि इतने गंभीर मामले में ज़मानत कैसे मिल गयी. सवाल उठा कि क्या घूस दी गयी थी? अब लग रहा कि शायद दी गयी थी.

सुषमा स्वराज के साथ रेड्डी बंधु
सुषमा स्वराज के साथ रेड्डी बंधु

ऐसा हम खुद नहीं कह रहे हैं. सीबीआई के स्पेशल कोर्ट के पूर्व जज बी नागा मारुति सर्मा ने सोमवार यानि 26 अगस्त को ऐसे संकेत दिए हैं. टाइम्स ऑफ़ इंडिया में खबर छपी है. अखबार के मुताबिक़, एंटी करप्शन ब्यूरो से पूछताछ में सर्मा ने कहा है कि जी जनार्दन रेड्डी को ज़मानत देने के लिए उन्हें घूस के तौर पर 40 करोड़ की पेशकश की गयी थी. आरोप है कि ये घूस का ऑफर जी जनार्दन रेड्डी की तरफ से आया था, लेकिन इसे सर्मा के पास पहुंचाने के लिए आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट के तत्कालीन रजिस्ट्रार लक्ष्मी नारायण राव ने बातचीत की थी.

बक़ौल सर्मा, वे अप्रैल 2011 में हैदराबाद की सीबीआई कोर्ट में स्पेशल जज के तौर पर नियुक्त हुए थे. उनके पास कुछ ही दिनों बाद रेड्डी का मामला आ गया. रेड्डी की ज़मानत याचिका भी आई.

जनार्दन रेड्डी, जिनके कहने पर भाजपा टिकट तक काट देती थी.
जनार्दन रेड्डी, जिनके कहने पर भाजपा टिकट तक काट देती थी.

और अप्रैल 2012 के तीसरे हफ्ते में फ़ोन आया आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट के तत्कालीन रजिस्ट्रार लक्ष्मी नारायण राव की तरफ से. सर्मा ने फोन उठाया तो उन्हें लक्ष्मी नारायण राव ने कहा कि मिलना चाहते हैं.

सर्मा ने बताया है कि चूंकि रजिस्ट्रार उनसे सीनियर थे, इसलिए उन्होंने उनसे खुद ही मिलने का फैसला किया. खुद ही वे रजिस्ट्रार से मिलने पहुंचे 18 अप्रैल 2012 में. उनके घर. फिर सर्मा ने बताया कि उनके सामने जी जनार्दन रेड्डी को ज़मानत देने का प्रस्ताव सामने आया. सर्मा ने बताया कि उन्होंने रजिस्ट्रार के इस प्रस्ताव को खारिज कर दिया और कहा,

“क़ानून के रास्ते से हट जाना मेरे लिए मौत के समान है.”

इसके बाद रजिस्ट्रार ने कहा कि रेड्डी के लोग इस मदद के लिए 40 करोड़ रूपए देने को तैयार हैं. जज सर्मा कहते हैं कि उन्होंने ये प्रस्ताव सिरे से खारिज कर दिया और वहां से चले आए. इसके बाद सर्मा ने जी जनार्दन रेड्डी की ज़मानत याचिका ख़ारिज कर दी. जिस समय ये पूछताछ हो रही थी, उस समय कमरे में जी जनार्दन रेड्डी मौजूद थे.

कौन रेड्डी बंधु? जानने के लिए हमारे साथी निखिल की ये स्टोरी पढ़िए. 

आज जब ये खबर लिखी जा रही है, तब सीबीआई जी जनार्दन रेड्डी से पूछताछ कर रही है. जी जनार्दन रेड्डी अवैध खनन के मामले में फंसे हुए हैं. कहा गया है कि कर्नाटक में येद्दीयुरप्पा जब मुख्यमंत्री बने तो रेड्डी बंधुओं को बहुत लाभ मिला. बेल्लारी में जी जनार्दन रेड्डी ने खनन का अकाम शुरू किया और मिला सरकार का सीधा साथ. आगे बात चली कि बड़े लेवल का घोटाला हुआ है. रेड्डी को लाभ मिला.

सर्मा ने जी जनार्दन रेड्डी की ज़मानत याचिका ख़ारिज कर दी. लेकिन उनके बाद जज आए पट्टाभी रामा राव. उन्होंने जी जनार्दन रेड्डी को ज़मानत दे दी. लेकिन बाद में सीबीआई और एंटी-करप्शन ब्यूरो की जांच में घूस लेते पकड़े गए. गिरफ्तार करके जेल भेज दिए गए. बाद में लक्ष्मी नारायण राव को गिरफ्तार कर लिया गया था.


लल्लनटॉप वीडियो : क्या रामदेव के सहयोगी बालकृष्ण को किसी ने जहरीला पेड़ा खिला दिया था?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

उड़ते हुए जहाज में ऐसी हरकत करने लगा कि क्रू को बीच फ्लाइट ही उतारना पड़ा

चलती फ्लाइट में लोग असहज हो गए.

IIT कानपुर-IIM अहमदाबाद से पढ़ा, बढ़िया नौकरी की, मगर सुसाइड करने पर मजबूर हो गया

एक युवा, कामकाजी प्रोफेशनल क्यों 10वें फ्लोर से कूद गया?

फिल्म 'पानीपत' को लेकर अफगानिस्तान में ये क्या हो रहा है?

अहमद शाह अब्दाली का देश है अफगानिस्तान.

प्याज फिर महंगा, मंत्री ने लोगों से पूछा -बताएं कैसे कम होगी कीमत?

केंद्रीय खाद्य मंत्री रामविलास पासवान ने लोगों ने सुझाव मांगा.

पंचकूला दंगों की मुख्य आरोपी और 'पापा की परी' हनीप्रीत को बेल मिल गई

रेपिस्ट राम-रहीम को जेल से भगाने की साज़िश का भी आरोप है.

किसी बेटे को ऐसे दिन न देखने पड़ें, जैसे इस करोड़पति बाप के बेटे ने देखे

घर से भाग गया था. महीने भर बाद ऐसे हाल में मिला. उफ़.

अफ़गानी क्रिकेट फैन को होटल में नहीं मिला कमरा, वजह जानकर कोहली तक दंग रह जाते

तहज़ीब के शहर लखनऊ में हुआ ऐसा निष्ठुर व्यव्हार.

अब आईपीएल में नो बॉल के लिए अंपायर की व्यवस्था अलग से हो गई है

IPL 2020 में क्या बदल जाएगा?

भारत-बांग्लादेश के दिल्ली वाले मैच में 2 क्रिकेटरों को फील्ड पर हुई उल्टी!

क्या ये दिल्ली के प्रदूषण की वजह से हुआ?

करतारपुर कॉरिडोर से जुड़े पाकिस्तान के ये किस 'हिडन एजेंडा' की बात कर रहे हैं कैप्टन अमरिंदर?

नवजोत सिंह सिद्धू को सबसे पहले पाक आर्मी ने क्या बताया था?