Submit your post

Follow Us

इस स्पेस शिप की कहानी सुनकर 'तेरी मेहरबानियां' गाना डेडीकेट करने का मन करेगा

1997में एक स्पेस शिप छोड़ा गया था. नाम था कसीनी. पिछले 20 सालों से कसीनी शनि ग्रह के चक्कर लगा रहा है और उस प्लैनेट और प्लैनेट के चंद्रमाओं के बारे में जितनी जानकारी मिल सकती है, दे रहा है. शनि के कुल 63 चंद्रमा हैं जिसमें 53 के नामकरण हो चुके हैं. इसमें से टाइटन एक प्रमुख नाम है. कसीनी इन्हीं सब के बारे में इन्फॉर्मेशन कलेक्ट कर रहा है. जुलाई 2004 में कसीनी सैटर्न यानी शनि ग्रह की ऑर्बिट में पहुंच गया था. तबसे उसका काम चालू है. 


स्पेस शिप असल में होती एक गाड़ी ही है लेकिन नासा के भौकाल के चलते बड़ी चीज लगने लगती है. जैसे गाड़ी सड़क पर सामान लादे हुए चलती है वैसे ही स्पेस शिप ऊपर उड़ जाता है. फरक बस इतना ही है. स्पेस शिप गाड़ी ही है. और कोई भी गाड़ी बिना ईंधन के नहीं चल सकती. कसीनी भी बिना ईंधन नहीं उड़ सकता. इसमें ईंधन ख़त्म हो रहा है. ऐसे में ऑप्शन ये है कि ईंधन दोबारा भरवाया जाए या फिर उस गाड़ी को वहीं छोड़ दिया जाए. साइंटिस्ट्स ने सोचा है कि इतनी दूर ईंधन भरने नहीं जायेंगे. स्पेस में कोई पेट्रोल पम्प भी नहीं होता है. तो दूसरा ऑप्शन ये बचता है कि उस गाड़ी को ऐसे ही छोड़ दिया जाए.


 

अगर उसे ऐसे ही छोड़ दिया गया तो वो कहीं न कहीं तो जायेगा ही. साइंटिस्ट्स इतने काइयां होते हैं कि उन्होंने ये भी कैल्कुलेट करके रक्खा हुआ है कि अगर उस स्पेस शिप को ऐसे ही छोड़ दिया तो वो सैटर्न और उसके चंद्रमाओं की ग्रेविटी के चक्कर में कहां जायेगा. और उनके हिसाब से वो स्पेस शिप सैटर्न के एक चांद पर जायेगा. चूंकि वहां की सतह की जानकारी इकठ्ठा की जानी बाकी है इसलिए उस सतह को किसी भी तारह से प्रदूषित नहीं किया जाना चाहिए. इसलिये उस स्पेस शिप को वहां नहीं जाने दिया जा सकता.

इससे निपटने के लिये ये सोचा गया कि एक तीर से दो शिकार किये जाएं. कसीनी को पूरी ताकत से सैटर्न की तरफ ढकेला जाए जिससे वो उसके सर्फेस से जा टकराए और वहीं नष्ट हो जाये. साथ ही जितनी देर में वो सैटर्न की सतह तक पहुंचेगा, उतनी देर में वो हज़ारों फ़ोटोग्राफ़्स खींच कर यहां साइंटिस्ट्स तक पहुंचा देगा. इससे हमें सैटर्न के बारे में ऐसा डेटा मिलेगा जो हमें आज तक कभी भी नहीं मिला है.

26 अप्रैल को कसीनी शनि के आस-पास के छल्लों के बीच गोत़ा लगाता हुआ उस प्लैनेट की सतह की ओर कूच करेगा. इस दौरान वो छल्लों के 22 चक्कर लगाएगा और फिर शनि की सतह से टकरा जाएगा.

cassini
1997 में धरती से कूच करने से पहले कसीनी

 

कसीनी की कहानी क्या है?

डोमेनिको कसीनी. 1625 में जन्मे एस्ट्रोनॉमर थे. ये पहले इंसान थे जिसने शनि ग्रह के चारों ओर मौजूद छल्लों में डिवीज़न के बारे में बात की थी. ऐसा इन्होंने 1650 में किया था और लगभग 300 साल के बाद इन्हीं हज़रात के नाम पर रखा गया स्पेस शिप शनि के बारे में वो जानकारी देने जा रहा है जो आज तक नहीं मिली है.

कसीनी ने इस महीने की शुरुआत में एक बहुत ही ज़रूरी जानकारी भेजी थी. हमें मालूम चला कि सैटर्न ग्रह के एक चांद एनसेलेडस पर हाइड्रोजन गैस मौजूद है. जब कसीनी इस चांद के सर्फेस की ओर जा रहा था, तो साइंटिस्ट्स को पानी की उड़ती हुई महीन परतें दिखाई दी थीं. इसके सैम्पल को जब जांचा गया तो मालूम चला कि वहां हाइड्रोजन गैस मौजूद थी.

हाइड्रोजन की मौजूदगी ये बताती है कि वहां छोटे-छोटे माइक्रोब्स पैदा हो सकते हैं. घबराइये मत. माइक्रोब्स शब्द भारी सुनाई देता है, असली मसाला बहुत ही छोटा होता है. इतना छोटा कि आंखों से दिखाई नहीं देता है. माइक्रोब्स को देखने के लिए माइक्रोस्कोप खरीदना पड़ता है. बैक्टीरिया वगैरह माइक्रोब्स ही हैं. इन्हीं से मानव जीवन की उत्पत्ति हुई थी. अगर ये पैदा हो सकते हैं तो मतलब इंसान भी वहां पैदा हो सकते हैं. दूर की कौड़ी है लेकिन है तो सही.

शनि ग्रह से दिखती पृथ्वी
शनि ग्रह से दिखती पृथ्वी

साथ ही सैटर्न की सतह पर मौजूद पानी से कार्बन डाइऑक्साइड निकाल कर हाइड्रोजन गैस के साथ मिलाकर उससे एनर्जी ले सकते हैं. ये एनर्जी उनके जीने के लिए ज़रूरी होगी. हमेशा याद रखना, घर के जीने के लिए रेलिंग और इंसान के जीने के लिए एनर्जी ज़रूरी होती है.

कार्बन डाइऑक्साइड और हाइड्रोजन को मिलाकर जब माइक्रोब्स एनर्जी बनायेंगे तो मीथेन गैस भी बनेगी. मीथेन जीवन की सबसे पहली सीढ़ी पर मौजूद रहती है. और साइंटिस्ट्स ये मानते हैं कि मानव जीवन की उत्पत्ति में मीथेन ने बहुत बड़ा रोल निभाया होगा.

कुल मिलाकर कसीनी ने अपने पूरे जीवन के दौरान जितनी ज़रूरी इन्फो दी है, जाते-जाते भी वो एक बड़ा काम कर रहा है. तेरी मेहरबानियां टाइप गाने इसको डेडीकेट किये जाने चाहिए. आप न करिए, हम कर देते हैं.

और बाद में जब हम इसे मिस करेंगे तो मैं इसके लिए ये गाना डेडीकेट करूंगा:


 ये भी पढ़ें:

तन्मय भट्ट का नया वीडियो आया है, इस बार केस नहीं होगा

आपकी फेवरेट वेबसाइट्स कितना डेटा चूसती हैं, चेक कर लो

उससे मिलिए, जो कहती है चेतन भगत चोर हैं

सलमान की वो फिल्म जो ‘बजरंगी भाईजान’ को भी पीछे छोड़ सकती है

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

पेट्रोल के दाम में भारी कटौती हो गई है!

पेट्रोल के दाम में भारी कटौती हो गई है!

कुछ पैसों की नहीं, पूरे 3 रुपये की कटौती हुई है!

तेज प्रताप यादव पत्रकारों को किस बात पर धमका रहे हैं?

तेज प्रताप यादव पत्रकारों को किस बात पर धमका रहे हैं?

पोस्टर वॉर के पीछे की कहानी क्या है?

हरियाणा में कई सरकारी भर्ती परीक्षाओं के पेपर लीक होने का दावा, सवालों के घेरे में HSSC

हरियाणा में कई सरकारी भर्ती परीक्षाओं के पेपर लीक होने का दावा, सवालों के घेरे में HSSC

3 साल बाद हुई कॉन्स्टेबल भर्ती परीक्षा को भी पेपर लीक कांड के बाद रद्द कर दिया गया है.

Ujjwala Yojana 2.0: मोदी सरकार की फ्लैगशिप स्कीम में नया क्या है?

Ujjwala Yojana 2.0: मोदी सरकार की फ्लैगशिप स्कीम में नया क्या है?

पीएम मोदी ने मंगलवार को उज्ज्वला योजना के दूसरे संस्करण की शुरुआत की.

दलितों के लिए आपत्तिजनक बातें कहने वाली एक्ट्रेस मीरा के खिलाफ पुलिस ने एक्शन लिया

दलितों के लिए आपत्तिजनक बातें कहने वाली एक्ट्रेस मीरा के खिलाफ पुलिस ने एक्शन लिया

पुलिस ने 7 धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है. 'बिग बॉस' का हिस्सा रह चुकी हैं मॉडल कम एक्ट्रेस मीरा मिथुन.

बाबर पर बनी इस वेब सीरीज़ का ट्रेलर देखकर इसकी नई डायरेक्टर से उम्मीदें बंध गई हैं

बाबर पर बनी इस वेब सीरीज़ का ट्रेलर देखकर इसकी नई डायरेक्टर से उम्मीदें बंध गई हैं

Disney Plus Hotstar की नई वेब सीरीज़ The Empire का ट्रेलर आया.

अनिल देशमुख को फंसा देगा वो काग़ज़, जिसके लिए मुंबई पुलिस ने CBI तक को धमका दिया?

अनिल देशमुख को फंसा देगा वो काग़ज़, जिसके लिए मुंबई पुलिस ने CBI तक को धमका दिया?

क्या ये काग़ज़ CBI के हत्थे लगने से अनिल देशमुख की हालत ख़राब हो जाएगी?

'CID', 'जोधा अकबर' जैसे टीवी शोज़ में काम कर चुके एक्टर को डायबिटीज़ के चलते पैर कटवाना पड़ा

'CID', 'जोधा अकबर' जैसे टीवी शोज़ में काम कर चुके एक्टर को डायबिटीज़ के चलते पैर कटवाना पड़ा

लोकेंद्र सिंह राजावत रणबीर कपूर के साथ 'जग्गा जासूस' में भी नज़र आ चुके हैं.

मुहर्रम को लेकर यूपी पुलिस के 'गोपनीय' सर्कुलर में क्या है, जिस पर मुस्लिम धर्मगुरुओं की सख्त आपत्ति है?

मुहर्रम को लेकर यूपी पुलिस के 'गोपनीय' सर्कुलर में क्या है, जिस पर मुस्लिम धर्मगुरुओं की सख्त आपत्ति है?

यूपी पुलिस का कहना है कि उसके सर्कुलर में कुछ भी नया नहीं है.

7 लाख का इनामी गैंगस्टर काला जठेड़ी यूपी के सहारनपुर से गिरफ्तार

7 लाख का इनामी गैंगस्टर काला जठेड़ी यूपी के सहारनपुर से गिरफ्तार

साथी अनुराधा उर्फ मैडम मिंज भी गिरफ्तार.