Submit your post

Follow Us

125 लोगों के साथ नमाज़ के लिए जुटना महाराष्ट्र के इस नेता को भारी पड़ गया

नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के विधान परिषद सदस्य बाबा जानी दुर्रानी को ईद पर 125 लोगों के साथ नमाज़ पढ़ना भारी पड़ गया. उनके ख़िलाफ केस दर्ज़ हो गया है. सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों को तोड़ने के आरोप में. सिर्फ़ बाबा दुर्रानी पर ही नहीं, बल्कि सभी 125 लोगों पर केस दर्ज़ हुआ है.

सोशल मीडिया से फैली बात

महाराष्ट्र के परभणी जिले के पथरी तहसील में 25 मई यानी ईद वाले रोज़ की सुबह बाबा जानी दुर्रानी अपने परिवार और गांव के लोगों के साथ नमाज़ के लिए जुटे. नमाज़ हुई. फिर पुलिस-प्रशासन के सामने मामला तब आया, जब ये फोटो सोशल मीडिया पर सर्कुलेट होने लगीं. ख़ास बात तो ये है कि बाबा दुर्रानी ने ख़ुद भी नमाज़ के वक्त की फोटो सोशल मीडिया पर अपलोड कर दीं.

इसी के बाद परभणी के एसपी कृष्णकांत उपाध्याय ने केस दर्ज करने के आदेश दे दिए. यहीं नहीं, पाथरी पुलिस स्टेशन के पांच कर्मचारी और एक अधिकारी पर भी एक्शन हुआ है. इन्हें लापरवाही बरतने और लोगों के जमा होने पर एक्शन न लेने के चलते कंट्रोल रूम अटैच कर दिया गया है.

दरअसल, कोरोना वायरस और लॉकडाउन के चलते फिलहाल किसी भी तरह की धार्मिक, सांस्कृतिक, राजनीतिक गैदरिंग पर पूरी तरह रोक है. ये नियम तोड़ने पर एक्शन लिया जा रहा है. इसके अलावा शादी-ब्याह में 50 से ज़्यादा और ग़मी में 20 से ज़्यादा लोगों के जुटने पर पाबंदी है. वो भी सोशल डिस्टेंसिंग के साथ.


मध्य प्रदेश में कांग्रेस को एक बार फिर झटका, 200 कार्यकर्ता BJP में शामिल हुए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

लद्दाख में भारत और चीन के बीच डोकलाम जैसे हालात हैं?

18 दिनों से भारत और चीन की फौज़ आमने-सामने हैं.

शादी और त्योहार से जुड़ी झारखंड की 5000 साल पुरानी इस चित्रकला को बड़ी पहचान मिली है

जानिए क्या खास है इस कला में.

जिस मंदिर के पास हजारों करोड़ रुपये हैं, उसके 50 प्रॉपर्टी बेचने के फैसले पर हंगामा क्यों हो गया

साल 2019 में इस मंदिर के 12 हजार करोड़ रुपये बैंकों में जमा थे.

पुलवामा हमले के लिए विस्फोटक कहां से और कैसे लाए गए, नई जानकारी सामने आई

पुलवामा हमला 14 फरवरी, 2019 को हुआ था.

दो महीने बाद शुरू हुई हवाई यात्रा, जानिए कैसा रहा पहले दिन का हाल?

दिल्ली में पहले दिन 80 से ज्यादा उड़ानें कैंसिल क्यों करनी पड़ी?

बलबीर सिंह सीनियर: तीन बार के हॉकी गोल्ड मेडलिस्ट, जिन्होंने 1948 में इंग्लैंड को घुटनों पर ला दिया था

हॉकी लेजेंड और भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और कोच बलबीर सिंह सीनियर का 96 साल की उम्र में निधन.

दूसरे राज्य इन शर्तों पर यूपी के मजदूरों को अपने यहां काम करने के लिए ले जा सकते हैं

प्रवासी मजदूरों को लेकर सीएम योगी ने बड़ा फैसला किया है.

ऑनलाइन क्लास में Noun समझाने के चक्कर में पाकिस्तान की तारीफ, टीचर सस्पेंड

टीचर शादाब खनम ने माफी भी मांगी, लेकिन पैरेंट्स ने शिकायत कर दी.

लद्दाख में तकरार बढ़ी, तीन जगह चीनी सेना ने मोर्चा लगाया, तंबू गाड़े

दोनों ओर के सैनिकों ने मोर्चा संभाला.

पाताल लोक वेब सीरीज में फोटो से छेड़छाड़ पर BJP विधायक ने की अनुष्का से माफी की मांग

प्रोड्यूसर अनुष्का शर्मा पर रासुका के तहत कार्रवाई की मांग की.