Submit your post

Follow Us

जामिया प्रोटेस्ट में पुलिस की गोली लगने का आरोप, मेडिकल रिपोर्ट में भी बुलेट का जिक्र

15 दिसंबर. दिल्ली की जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी के कैंपस में दिल्ली पुलिस घुस गई. छात्रों को पीटा. पुलिस का कहना है, प्रदर्शनकारियों ने पत्थरबाज़ी और आगजनी की. दिल्ली पुलिस पर कैंपस में गोली चलाने के भी आरोप लगे. मगर 16 दिसंबर के अपने प्रेस कॉन्फ्रेंस में दिल्ली पुलिस ने दावा किया कि यूनिवर्सिटी कैंपस में गोली चलाए जाने की बात ग़लत है. मगर गोली चलाए जाने वाले आरोप यहां ख़त्म नहीं हुए. इल्ज़ाम है कि 15 दिसंबर को हुई कार्रवाई के दौरान दो प्रदर्शनकारी स्टूडेंट्स को गोली लगी. इनके नाम हैं- अजाज़ अहमद (20 साल). और, मुहम्मद सुहैब (23 साल). अजाज़ BA में पढ़ते हैं और सुहैब बी टेक में हैं. दोनों का सफदरजंग अस्पताल में इलाज़ चल रहा है.

एक और इंसान के गोली से घायल होने का आरोप है
इसके अलावा मुहम्मद तमीन नाम के एक शख्स को भी गोली लगने का आरोप लगाया जा रहा है. तमीन का कहना है कि वो प्रदर्शन का हिस्सा नहीं था. वो बस पुलिस की कार्रवाई के दौरान उस इलाके से होकर जा रहे थे, जब उनके बायें पैर में गोली लगी. तमीन की मेडिकल रिपोर्ट भी उनके बायें पैर में गोली का जख़्म होने की बात है. जिस चीज को बुलेट का हिस्सा कहा जा रहा है, उसे फॉरेंसिक जांच के लिए भेज दिया गया है.

‘इंडिया टुडे’ के साथ बात करते हुए मुहम्मद तमीन ने कहा कि वो 15 दिसंबर को जामिया में हो रहे विरोध प्रदर्शनों में शामिल नहीं थे.वो बस ‘ग़लत समय’ पर ‘ग़लत जगह’ मौजूद थे. तमीन के मुताबिक-

वहां पुलिस के लोग थे जिन्होंने मुझे जाते हुए देखा. मुझसे कुछ पूछा नहीं उन्होंने, सीधे मेरे पांव पर गोली मार दी. मैं तो प्रदर्शन में भी हिस्सा नहीं ले रहा था. मैं बस ओखला के उस इलाके से होकर जा रहा था. बाइक पर था मैं, जब मैंने देखा कि पुलिस एकाएक स्टूडेंट्स पर लाठीचार्ज करने लगी. मैं सदमे में हूं. मेरा परिवार है. दिल्ली पुलिस ने किसी चीज के बारे में नहीं सोचा. अगर मैं मर जाता, तो क्या वो मेरे परिवार की जिम्मेदारी उठाते?

अस्पताल के डॉक्टरों ने क्या बताया?
तमीन का इलाज़ ‘होली फैमिली’ हॉस्पिटल में हो रहा है. यहां डॉक्टरों का कहना है कि अगर गोली शरीर के ऊपरी हिस्से में लगती, तो बहुत गंभीर जख़्म हो सकता था. ‘इंडिया टुडे’ से बात करते हुए दिल्ली पुलिस के जॉइंट कमिश्नर देवेश श्रीवास्तव ने कहा कि दिल्ली पुलिस के पास रबड़ बुलेट वाली बंदूक भी नहीं है. उनके मुताबिक-

हमने किसी पर गोली नहीं चलाई और न ही हमारे पास रबड़ बुलेट है.

उधर ‘इंडियन एक्सप्रेस’ ने दो जामिया स्टूडेंट्स के जख़्मी होने वाली ख़बर में पुलिस सूत्रों से बात की. उनके मुताबिक, शुरुआती तौर पर दोनों के जख़्म गोली से हुए लगते हैं. पुलिस सूत्रों का कहना है-

पुलिस के लोगों ने गोली चलाई या किसी और ने, इस बात की जांच होनी चाहिए. ज़्यादा स्पष्टता के लिए हम बलिस्टिक विशेषज्ञों से संपर्क करेंगे.

 

सफदरजंग के डॉक्टरों ने क्या बताया?
‘इंडियन एक्सप्रेस’ ने सफ़दरजंग अस्पताल में अजाज़ और सुहैब की स्थिति को लेकर पूछताछ की. सूत्रों ने उन्हें बताया कि दोनों 15 दिसंबर की शाम अस्पताल लाए गए थे. एक के सीने पर जख़्म था और दूसरे के पांव में. दोनों ने डॉक्टरों को बताया कि उन्हें गोली लगी है. अस्पताल सूत्रों के मुताबिक, जख़्म किस चीज से हुआ इसकी पुष्टि के लिए जांच करवानी होगी. सूत्रों ने बताया कि अजाज़ और सुहैब, दोनों का ऑपरेशन हो चुका है. अभी दो दिन उन्हें अस्पताल में ही रखा जाएगा. दोनों जिस वॉर्ड में हैं, उसके बाहर पुलिसकर्मी तैनात हैं.

अजाज़ के एक रिश्तेदार का कहना है कि वो अपनी मां के लिए दवा खरीदकर घर लौट रहा था. रास्ते में उसने देखा कि कारें तोड़ी-फोड़ी जा रही हैं. परिवार का कहना है कि अजाज़ के सीने में गोली लगी. दूसरी तरफ सुहैब के रिश्तेदार ने ‘इंडियन एक्सप्रेस’ को बताया कि उसके पांव में जख़्म है. मगर डॉक्टरों ने ये नहीं बताया कि जख़्म हुआ किस वजह से.

अस्पताल के एक डॉक्टर ने नाम न छापे जाने की शर्त पर ‘इंडियन एक्सप्रेस’ को बताया. कि अजाज़ की छाती से एक ‘पार्टिकल’ निकाला गया है. वो बुलेट है कि आंसू गैस का शेल, ये अभी पक्का नहीं है. इस बारे में बात करते हुए DCP (साउथईस्ट) चिन्मय बिस्वाल बोले-

बुलेट के जख़्म होने को लेकर कुछ अफ़वाहें हैं. होली फैमिली अस्पताल की रिपोर्ट कहती है कि कथित तौर पर गोली लगने की बात मिली है. ये घायल के बयान के आधार पर लिखी गई है. हमने स्टूडेंट्स पर गोली नहीं चलाई. धातु या प्लास्टिक जैसी चीजों की वजह से भी जख़्म हो सकता है. सफदरजंग अस्पताल में भी दो घायलों ने गोली से जख़्म होने की बात कही. लेकिन अगर कोई गोली लगने से घायल होता, तो ऐम्बुलेंस उन्हें लेकर होली फैमिली या फिर फोर्टिस अस्पताल जाती. वो ही सबसे नज़दीक थे. इन बातों से इतर हम इस बात की जांच कर रहे हैं कि इन तीनों मामलों में घायलों को गोली लगी या नहीं.

अजाज़, सुहैब और तमीन, इन तीनों के जख़्मों की जांच करवाई जा रही है. गोली लगी कि नहीं और जख़्म किस वजह से हुआ, ये रिपोर्ट आने के बाद साफ हो पाएगा.


CAA पर जारी विरोध के बीच जामिया में क्या-क्या हुआ?

क्या है नागरिकता संशोधन ऐक्ट (CAA) 2019, जिसे अमित शाह ने राज्य सभा से पास करा लिया

जामिया यूनिवर्सिटी की VC नजमा अख्तर ने की उच्चस्तरीय जांच की मांग

जामिया: सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो पुलिस की थिअरी को नकारते भी हैं और लाठियों की बारिश की वजह भी पूछते हैं

जामिया के बाद AMU और लखनऊ के कॉलेजों में भी प्रोटेस्ट शुरू हो गए हैं

नॉर्थ ईस्ट में नागरिकता संशोधन बिल (CAA)-NRC पर प्रोटेस्ट जारी, क्या गुवाहाटी में आबे-मोदी समिट होगा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

आर्यन खान केस: किरण गोसावी के बॉडीगार्ड का दावा, 18 करोड़ में डील होने की बात सुनी थी

आर्यन खान केस: किरण गोसावी के बॉडीगार्ड का दावा, 18 करोड़ में डील होने की बात सुनी थी

गवाह प्रभाकर सेल का दावा-8 करोड़ समीर वानखेड़े को देने की बात हुई थी.

LIC पॉलिसी से PAN नंबर लिंक नहीं है, ये बड़ा नुकसान होगा!

LIC पॉलिसी से PAN नंबर लिंक नहीं है, ये बड़ा नुकसान होगा!

लिंक करने का पूरा प्रोसेस बता रहे हैं, जान लीजिए.

यूपी चुनाव: सपा-सुभासपा गठबंधन का ऐलान, राजभर बोले- एक भी सीट नहीं देंगे तो भी समर्थन रहेगा

यूपी चुनाव: सपा-सुभासपा गठबंधन का ऐलान, राजभर बोले- एक भी सीट नहीं देंगे तो भी समर्थन रहेगा

सपा ने ट्वीट कर कहा- 2022 में मिलकर करेंगे बीजेपी को साफ़!

आगरा में पुलिस कस्टडी में सफाईकर्मी की मौत, बवाल के बाद पुलिसकर्मियों पर FIR, 6 सस्पेंड

आगरा में पुलिस कस्टडी में सफाईकर्मी की मौत, बवाल के बाद पुलिसकर्मियों पर FIR, 6 सस्पेंड

थाने के मालखाने से 25 लाख चोरी के आरोप में पुलिस ने पकड़ा था सफाईकर्मी को.

लखीमपुर की जांच से हाथ खींच रही यूपी सरकार? SC ने तगड़ी फटकार लगाते हुए और क्या सवाल दागे?

लखीमपुर की जांच से हाथ खींच रही यूपी सरकार? SC ने तगड़ी फटकार लगाते हुए और क्या सवाल दागे?

सुप्रीम कोर्ट ने कहा, कभी खत्म न होने वाली कहानी न बन जाए ये जांच.

केरल के साथ उत्तराखंड में भी बारिश का कहर, सड़कें, इमारतें, पुल ध्वस्त, 16 की मौत

केरल के साथ उत्तराखंड में भी बारिश का कहर, सड़कें, इमारतें, पुल ध्वस्त, 16 की मौत

केरल में भारी बारिश के कारण हुई मौतों की संख्या 35 तक पहुंची.

जिस CBI अफसर को केस बंद करने के लिए सौंपा गया था, उसी ने सलाखों के पीछे पहुंचा दिया राम रहीम को

जिस CBI अफसर को केस बंद करने के लिए सौंपा गया था, उसी ने सलाखों के पीछे पहुंचा दिया राम रहीम को

इंसाफ दिलाने के लिए धमकियों और खतरों की परवाह नहीं की.

लगातार दूसरे दिन आतंकियों ने गैर कश्मीरी मजदूरों को बनाया निशाना, 2 की मौत, 1 घायल

लगातार दूसरे दिन आतंकियों ने गैर कश्मीरी मजदूरों को बनाया निशाना, 2 की मौत, 1 घायल

पुलिस और सुरक्षा बलों ने इलाके को घेरा.

केरल में भारी बारिश से तबाही, 25 से ज़्यादा मौतें, कई लापता

केरल में भारी बारिश से तबाही, 25 से ज़्यादा मौतें, कई लापता

पीएम मोदी ने केरल के मुख्यमंत्री से की बात.

श्रीनगर में बिहार के रेहड़ीवाले और पुलवामा में यूपी के मजदूर की गोली मारकर हत्या

श्रीनगर में बिहार के रेहड़ीवाले और पुलवामा में यूपी के मजदूर की गोली मारकर हत्या

कश्मीर ज़ोन पुलिस ने बताया घटनास्थलों को खाली कराया गया. तलाशी जारी.