Submit your post

Follow Us

यूपी में एक शख़्स की सड़क पर मौत हो गई, तो शव को कूड़ागाड़ी में भरकर ले गए

बलरामपुर. उत्तर प्रदेश का एक जिला. यहां का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. इसमें दिख रहा है कि कुछ लोग एक शव को उठाकर कूड़ागाड़ी में डाल रहे हैं. बताया जा रहा है कि एक व्यक्ति की संदिग्ध हालात में मौत हो गई थी. कोरोना से मौत की आशंका के चलते किसी ने हाथ नहीं लगाया. फिर उसके शव को कूड़ागाड़ी में डालकर पोस्टमॉर्टम के लिए ले जाया गया.

क्या है मामला?

घटना बलरामपुर जिले के उतरौला कोतवाली क्षेत्र की है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मोहम्मद अनवर (42 साल) किसी काम से आए थे. तभी तहसील के गेट पर वो अचानक गिर गए. इसके बाद वहां मौजूद कुछ लोगों इसकी खबर पुलिस और एम्बुलेंस को दी. जानकारी मिलने पर वहां एम्बुलेंस भी आई और पुलिस भी आई. पुलिस ने शव को एंबुलेंस या किसी अन्य गाड़ी से पोस्टमॉर्टम हाउस तक भेजने की बजाए नगरपालिका परिषद की कूड़ागाड़ी बुलवाकर सफाई कर्मियों से शव को भेज दिया.

एनडीटीवी के पत्रकार आलोक पांडेय ने ट्विटर पर वीडियो पोस्ट किया है. इसमें दिख रहा है कि कुछ लोग एक व्यक्ति के शव को कूड़ा गाड़ी में डाल रहे हैं. तीन पुलिस वाले खड़े हैं. वहीं एक और वीडियो में दिख रहा है कि मौके पर एंबुलेंस भी पहुंची, लेकिन कोरोना के डर की वजह से किसी ने शव को हाथ नहीं लगाया.

घटना सामने आने के बाद पुलिस ने कार्रवाई की है. एसपी देवरंजन वर्मा ने बताया,

पुलिस और नगरपालिका अधिकारियों को जब सूचना मिली, तो टीम भेजी गई. ये भी जानकारी में आया है कि संभवत: मेडिकल टीम भी भेजी गई थी. लेकिन कोरोना की वजह से संशय बना हुआ है, उसकी वजह से इन लोगों ने लापरवाही की. संवेदनहीन हरकत की है. मृतक की बॉडी को कूड़ा ढोने वाली गाड़ी में रखकर हटाया गया. ये बहुत ही गलत बात हुई है.

उन्होंने आगे कहा,

अगर वह कोरोना का संदिग्ध भी था, तो पीपीई किट पहनकर इसे हैंडिल किया जाना चाहिए था. इस स्तर पर लापरवाही हुई. एसडीएम और सीओ के नेतृत्व में जांच करेंगे और बताएं कि पुलिस विभाग, स्वास्थ्य विभाग और नगरपालिका से कौन-कौन दोषी हैं. चिह्नित करके उनके खिलाफ कार्रवाई करेंगे.

बलरामपुर पुलिस ने ट्वीट कर बताया कि शव को कूड़ागाड़ी में डालकर ले जाने की संवेदनहीन और खेदजनक घटना का तत्काल संज्ञान लेते हुए एसपी द्वारा वायरल वीडियो में दिख रहे दारोगा रवीन्द्र कुमार रमन, दो आरक्षक शुभम पटेल और शैलेन्द्र शर्मा के अलावा नगरपालिका के चार कर्मचारियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है.


Video: कोरोनावायरस के बिना लक्षण वाले मरीज़ों को लेकर WHO ने अब ये नई बात कही है!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

WHO ने कोरोना पर राहत देने वाली बात की तो दुनियाभर के वैज्ञानिकों ने कहा, “अरी मोरी मईया!”

पलटकर WHO से ही सबूत मांग रहे हैं लोग.

ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनकी मां को हुआ कोरोना इंफेक्शन, दिल्ली के अस्पताल में भर्ती

बीते कुछ दिनों से दोनों की तबीयत खराब थी.

बिहार: अमित शाह ने वर्चुअल रैली में तेजस्वी को घेरा, कहा-लालटेन राज से एलईडी युग में आ गए

तेजस्वी यादव ने रैली पर 144 करोड़ खर्च करने का आरोप लगाया.

गर्भवती ने 13 घंटे तक आठ अस्पतालों के चक्कर लगाए, किसी ने भर्ती नहीं किया, मौत हो गई

महिला की मौत के बाद अब जिला प्रशासन जांच की बात कर रहा है.

दिल्ली के सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में अब सिर्फ दिल्ली वालों का इलाज होगा

दिल्ली के बॉर्डर खोले जाने पर भी हुआ फैसला.

लद्दाख में तनाव: भारत-चीन सेना के कमांडरों की मीटिंग में क्या हुआ, विदेश मंत्रालय ने बताया

6 जून को दोनों देशों के सेना के कमांडरों की मीटिंग करीब 3 घंटे तक चली थी.

पहले से फंसी 69000 शिक्षक भर्ती में अब पता चला, रुमाल से हो रही थी नकल!

शुरू से विवादों में रही 69 हजार शिक्षक भर्ती में जुड़ा एक और विवाद

'निसर्ग' चक्रवात क्या है और ये कितना ख़तरनाक है?

'निसर्ग' नाम का मतलब भी बता रहे हैं.

कोरोना काल में क्रिकेट खेलने वाले मनोज तिवारी ‘आउट’

दिल्ली में हार के बाद बीजेपी का पहला बड़ा फैसला.

1 जून से लॉकडाउन को लेकर क्या नियम हैं? जानिए इससे जुड़े सवालों के जवाब

सरकार ने कहा कि यह 'अनलॉक' करने का पहला कदम है.