Submit your post

Follow Us

प्रियंका गांधी को जो बंगला छोड़ने का नोटिस मिला है, उसमें अब BJP के ये नेता रहेंगे

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा. 1 अगस्त तक उन्हें दिल्ली के लोधी एस्‍टेट वाला सरकारी बंगला खाली करना होगा, ये बंगला अब बीजेपी के नेशनल मीडिया हेड और राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी को अलॉट कर दिया गया है. समाचार एजेंसी PTI के मुताबिक, केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय (Ministry of Housing and Urban Affairs) ने इस बात की जानकारी दी.

1 जुलाई को सरकार ने प्रियंका को ये बंगला खाली करने का आदेश दिया था. उन्हें एक महीने का वक्त दिया गया है. मंत्रालय का कहना है,

‘प्रियंका का बंगला अब अनिल बलूनी को दे दिया गया है. उन्होंने इसके लिए रिक्वेस्ट की थी. कांग्रेस नेता जब ये बंगला खाली करेंगी, उसके बाद बलूनी वहां रहेंगे.’

सूत्रों का कहना है कि बलूनी ने अपने स्वास्थ्य को आधार बताते हुए इस बंगले की मांग की थी. कुछ समय पहले ही उनका कैंसर का इलाज हुआ है. हालांकि वो अब ठीक हो चुके हैं, लेकिन उन्हें कुछ सावधानियां बरतने को कहा गया है. बलूनी का कहना है कि अभी वो जहां रह रहे हैं, वो उनके लिए सही जगह नहीं है.

प्रियंका से बंगला क्यों वापस लिया गया?

बंगला खाली कराने के पीछे एसपीजी सुरक्षा हटने को वजह बताया गया है. प्रियंका को भेजे गए नोटिस में लिखा है,

‘SPG प्रोटेक्‍शन हटने के बाद आपको Z+ सिक्‍योरिटी कवर दिया गया है. इसमें सुरक्षा के आधार पर सरकारी बंगले के आवंटन/रिटेंशन का प्रावधान नहीं है, इसलिए लोधी एस्‍टेट का हाउस नंबर 35 का अलॉटमेंट रद्द किया जाता है. आपको एक महीने का कंसेशनल पीरियड दिया जा रहा है.’

‘इंडिया टुडे’ की खबर के मुताबिक, टाइप-6 बंगले में प्रियंका गांधी 1997 से रह रही हैं. नवंबर, 2019 में गांधी परिवार यानी राहुल, प्रियंका और सोनिया गांधी से एसपीजी सुरक्षा वापस ले ली गई थी. इसकी जगह Z+ सुरक्षा दी गई है. सिक्योरिटी से जुड़े इस फैसले के सात महीने बाद प्रियंका गांधी को बंगला खाली करने को कहा गया है.

इसे भी पढ़ें- किस टाइप के सरकारी बंगले में रहती आई हैं प्रियंका, खाली करने पर कितने पैसे भरने पड़े?


वीडियो देखें: कानपुर में पुलिसकर्मियों पर हमले के बाद हुए एनकाउंटर में IG और SSP ने कैसे जान बचाई?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

दिल्ली की जेल में सजा काट रहे सिख दंगे के दोषी नेता की कोरोना से मौत हो गई

विधायक रह चुके इस नेता की कोरोना रिपोर्ट 26 जून को पॉज़िटिव आई थी.

श्रीलंका का ये क्रिकेटर हत्या के आरोप में गिरफ्तार

44 टेस्ट, 76 वनडे और 26 टी20 खेल चुका है.

लेह में दिए अपने भाषण में पीएम मोदी ने चीन का नाम लिए बिना क्या-क्या कहा?

जवानों पर, बॉर्डर के विकास पर, दुनिया की सोच पर बहुत कुछ बोला है.

ICMR ने एक महीने में कोरोना की वैक्सीन लॉन्च करने का झूठा दावा किया है!

क्या वैक्सीन के ट्रायल में घपला हो रहा है?

भारत-चीन के तनाव के बीच पीएम मोदी ने लद्दाख़ पहुंचकर किससे बात की?

पहले राजनाथ सिंह जाने वाले थे, नहीं गए.

मलेरिया वाली जिस दवा को कोरोना में जान बचाने के लिए इस्तेमाल कर रहे, वो उल्टा काम कर रही है?

हाईड्रॉक्सीक्लोरोक्विन पर चौंकाने वाली रिसर्च!

इस साल के आख़िर तक मिलने लगेगी कोरोना की 'मेड इन इंडिया' वैक्सीन!

भारत बायोटेक के अधिकारी ने क्या बताया?

'कोरोनिल' पर पतंजलि के आचार्य बालकृष्ण पूरी तरह यू-टर्न मार गए!

पतंजलि का दावा था कि 'कोरोनिल' दवा कोरोना वायरस ठीक करने में कारगर होगी.

चीन के ऐप तो बैन हो गए, पर उन भारतीयों का क्या जो इनमें काम करते हैं

चीनी ऐप के कर्मचारियों में घबराहट है.

चीनी ऐप पर बैन के बाद चीन ने भारत के बारे में क्या बयान दिया है?

भारत को कैसी जिम्मेदारी याद दिलाई चीन ने?