Submit your post

Follow Us

भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय के विधायक पुत्र ने बैट से अधिकारी को पीटा

पिता कैलाश विजयवर्गीय भाजपा के ताकतवर महासचिव. और खुद इंदौर-3 से विधायक. नाम- आकाश विजयवर्गीय. आकाश को विधायकी पहली बार मिली है. जाहिर है जोश हाई है. 26 जून के दिन ये जोश फट पड़ा इंदौर नगर निगम के अधिकारियों और कर्मचारियों पर. आकाश ने पहले तो नगर निगम अफसरों को धमकाया. कहा-10 मिनट में यहां से निकल लो. जब अफसर वहां से नहीं हटे, तो विधायक भड़क गए. उन्होंने आव देखा न ताव क्रिकेट बैट लेकर नगर निगम कर्मचारियों पर हमला बोल दिया. और फिर जो सामने आया, सबकी बैट से ठुकाई कर दी.

क्यों भड़क गए विधायक?
इंदौर नगर निगम इन दिनों खतरनाक और जर्जर मकान तोड़ने की कार्रवाई कर रहा है. इसके लिए शहर भर में 26 मकान चिह्नित किए गए हैं. बुधवार 26 जून के दिन नगर निगम की टीम गंजी कंपाउंड में एक बिल्डिंग को तोड़ने पहुंची. नगर निगम टीम को देखकर स्थानीय लोगों ने विरोध किया. कुछ ही देर में विधायक आकाश विजयवर्गीय भी मौके पर पहुंच गए. आकाश ने आते ही नगर निगम अधिकारियों और कर्मचारियों को धमकाना शुरू कर दिया. उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि 10 मिनट में यहां से निकल जाओ. नहीं तो जो होगा, उसकी जिम्मेदारी आप लोगों की होगी. इस बीच उन्होंने वहां जेसीबी मशीन की चाबी भी निकाल ली. इस दौरान नगर निगम के अफसर विधायक को समझाते-बुझाते रहे. मगर वे शांत नहीं हुए. और फिर विवाद बढ़ गया. आकाश विजयवर्गीय अपना आपा खो बैठे. उन्होंने क्रिकेट बैट से नगर निगम कर्मचारियों पर हमला कर दिया. विधायक को मारपीट करते देख वहां मौजूद पुलिसकर्मी भी सकते में आ गए. नगर निगम कर्मचारी जान बचाने के लिए इधर-उधर भागे. बाद में पुलिस और मौके पर मौजूद दूसरे लोगों ने किसी तरह विधायक को पकड़कर शांत किया.

सियासत तेज
इस पूरे मामले पर अब सियासत तेज हो गई है. नगर निगम कर्मचारी विधायक के खिलाफ रिपोर्ट लिखाने थाने पहुंचे तो विधायक समर्थकों ने थाना घेर लिया. उधर मध्य प्रदेश सरकार के मंत्री जीतू पटवारी ने आकाश विजयवर्गीय की गिरफ्तारी के आदेश दिए हैं. इसको लेकर कांग्रेस और भाजपा के बीच सियासत तेज हो गई है. उधर, सोशल मीडिया पर भी लोग विधायक की जमकर आलोचना कर रहे हैं. कुछ लोग विधायक की मौज ले रहे हैं. लोग कह रहे हैं कि पिता कैलाश विजयवर्गीय पश्चिम बंगाल भाजपा के प्रभारी हैं. पश्चिम बंगाल में वे आरोप लगाते हैं कि तृणमूल कांग्रेस और ममता बनर्जी हिंसा फैला रहे हैं. और खुद उनके सुपुत्र कौन सा उदाहरण लोगों के सामने पेश कर रहे हैं.

धमकाना डांटना विधायक की आदत
आकाश के बारे में कहा जाता है कि लोगों को धमकाना- डांटना विधायक की आदत में शुमार हो चुका है. कुछ दिन पहले भी उनका एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था. इसमें आकाश नगर निगम अधिकारियों को धमकाते नजर आ रहे थे. जनवरी, 2019 में इंदौर नगर निगम के कुछ अफसरों ने एक कार्यक्रम रखा था. इसकी सूचना विधायक को थोड़ी देर से दी गई. इस पर विधायक भड़क गए थे. तब एक पुल का शिलान्यास कार्यक्रम था. आकाश जब वहां पहुंचे तो देखा कि उनके लिए बैठने का इंतजाम नहीं है. इस पर वे निगम अधिकारियों पर भड़क गए.


वी़डियोः कैलाश विजयवर्गीय की जगह उनके बेटे आकाश को टिकट क्यों दे दिया गया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

अब केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने लगवाया नारा, "देश के गद्दारों को, गोली मारो *लों को"

क्या केन्द्रीय मंत्री ऐसे बयान दे सकता है?

माओवादियों ने डराया तो गांववालों ने पत्थर और तीर चलाकर माओवादी को ही मार डाला

और बदले में जलाए गए गांववालों के घर

बंगले की दीवार लांघकर पी. चिदम्बरम को गिरफ्तार किया, अब राष्ट्रपति मेडल मिला

CBI के 28 अधिकारियों को राष्ट्रपति पुलिस मेडल दिया गया.

झारखंड के लोहरदगा में मार्च निकल रहा था, जबरदस्त बवाल हुआ, इसका CAA कनेक्शन भी है

एक महीने में दूसरी बार झारखंड में ऐसा बवाल हुआ है.

BJP नेता कैलाश विजयवर्गीय लोगों को पोहा खाते देख उनकी नागरिकता जान लेते हैं!

विजयवर्गीय ने कहा- देश में अवैध रूप से रह रहे लोग सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा हैं.

CAA-NRC, अयोध्या और जम्मू-कश्मीर पर नेशन का मूड क्या है?

आज लोकसभा चुनाव हुए तो क्या होगा मोदी सरकार का हाल?

JNU हिंसा केस में दिल्ली पुलिस की बड़ी गड़बड़ी सामने आई है

RTI से सामने आई ये बात.

CAA पर सुप्रीम कोर्ट में लगी 140 से ज्यादा याचिकाओं पर बड़ा फैसला आ गया

असम में NRC पर अब अलग से बात होगी.

दिल्ली चुनाव में BJP से गठबंधन पर JDU प्रवक्ता ने CM नीतीश को पुरानी बातें याद दिला दीं

चिट्ठी लिखी, जो अब वायरल हो रही है.

CAA और कश्मीर पर बोलने वाले मलयेशियाई PM अब खुद को छोटा क्यों बता रहे हैं?

हाल में भारत और मलयेशिया के बीच रिश्तों में खटास बढ़ती गई है.