Submit your post

Follow Us

BJP ने UP में सरकार और अपने विधायकों के काम का सर्वे कराया, जानिए क्या नतीजा निकला

BJP उत्तर प्रदेश के फेसबुक पेज से 27 अगस्त को एक पोस्ट किया गया. पोस्ट में राज्य सरकार के काम पर फीडबैक मांगा गया. सरकार और विधायकों के काम-काज से जुड़े कुछ सवाल हैं, जिनके जवाब नमो ऐप पर जाकर दिए जा सकते हैं. नमो ऐप पर जवाब देने की विंडो अभी खुली है. वहां से क्या नतीजा निकलेगा, वो तो अभी नहीं पता, लेकिन सोशल मीडिया की जनता ने कमेंट बॉक्स में ही अपना फैसला सुना दिया. पहले जान लेते हैं कि सवाल क्या थे, फिर लोगों के जवाब जानेंगे. सवाल थे –

# अपनी राज्य सरकार के प्रदर्शन को आप क्या रेटिंग देंगे?

# क्या आप क्षेत्र के विधायक के कार्यों से संतुष्ट हैं?

# आपके लिए वोट करते समय कौन सा कारण निर्णायक होता है?

# आपके चुनाव क्षेत्र में तीन सबसे ज़्यादा लोकप्रिय भाजपा नेता के नाम बताइए.

पहले, तीसरे और चौथे सवाल पर तो लोगों ने ज़्यादा कमेंट्स नहीं किए. कुछ लोगों ने इन सवालों पर ये भी लिखा कि साब, योगी जी तो अच्छा काम कर रहे, लेकिन नीचे वाले ठीक नहीं हैं. लेकिन विधायकों से जुड़े दूसरे सवाल पर जमकर कमेंटबाजी हुई. ये स्टोरी लिखे जाने तक अकेले इस सवाल पर ढाई हज़ार से ज़्यादा कमेंट्स आ चुके हैं.

गौरव त्रिवेदी नाम के यूज़र ने लिखा –

“सदर विधायक सीतापुर- काम और विकास से कोसों दूर सिर्फ और सिर्फ अपनी बिरादरी में घुले रहना.”

अजय भूषण धर दुबे ने लिखा –

“गोरखपुर ग्रामीण विधानसभा में एकदम कोई विकास कार्य नहीं हुआ.”

अश्विनी केसरवानी ने लिखा –

“प्रयागराज शहर पश्चिम विधायक सिद्धार्थ नाथ किसी काम के नहीं हैं. चुनाव के बाद आज तक उनको देखा नहीं.”

इक्का-दुक्का यूज़र्स ही रहे, जो विधायक के काम से संतुष्ट दिखे. विनोद तिवारी ने लिखा कि –

“287 विधानसभा पयागपुर से माननीय सुभाष त्रिपाठी जी से हम बहुत संतुष्ट हैं.”

वहीं अभिषेक लोधी राजपूत ने लिखा कि-

“169 विधान सभा BKT जनपद लखनऊ काम और विकास से कोसों दूर सिर्फ और सिर्फ अपनी बिरादरी में घुले रहना.”

बलवीर पाल ने लिखा –

“261 विधान सभा प्रयागराज में तो दूर दूर तक विकास का पता नहीं. बाकी 5 साल में विधायक जी 5 बार दौरे पर आए हैं. गलती एक बार होती है, बार-बार नहीं. कमल का फूल जाओ भूल.”

सत्यम पांडेय ने लिखा –

“जिला जौनपुर के 368 विधानसभा मुगरा बादशाहपुर में विधायक से ज्यादा बिना पद पर रहते हुए कोई और कार्य कर रहा है 5 साल से.”

इसके अलावा भी अधिकतर यूज़र्स ने विधायकों के काम से नाराजगी जताई. ‘क्या आप विधायक के काम से संतुष्ट हैं’ के जवाब में कमेंट बॉक्स में ‘नहीं’ भरे पड़े हैं.


UP चुनाव: योगी को मोदी की फोटोस्टेट बताने वाले ताऊ ने बीजेपी का नारा क्यों बदल दिया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने पीएम मोदी के लिए क्या कहा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

उपचुनाव के नतीजे एक जगह पर.