Submit your post

Follow Us

मध्य प्रदेश में एक और हनीट्रैप रैकेट: सेक्स के लालच में कई अमीर लोग फंसे

मध्य प्रदेश का हनीट्रैप मामला सुर्खियों में है. आए दिन नए-नए अपडेट्स आ रहे हैं. इसी बीच इसी तरह का एक दूसरा मामला भी सामने आया है. भोपाल से. निशातपुरा पुलिस ने एक हनीट्रैप गिरोह का भंडाफोड़ किया है. चार लोगों की गिरफ्तारी भी हो चुकी है. ये गिरोह अमीर आदमियों को अपने जाल में फंसाता था. उन्हें डिमांड पर सेक्स सेवाएं देता था. उसके बदले पैसा लेता था और बाद में उन्हीं लोगों को रेप के केस में फंसाकर जेल भिजवाने की धमकी देता था. ब्लैकमेल करके फिर से मोटी रकम वसूलता था.

पुलिस ने जिन चार लोगों को गिरफ्तार किया है, उनमें दो औरत और दो आदमी है.

क्या करता था गिरोह?

लड़कियां बहुत सी डेटिंग वेबसाइट्स और मोबाइल एप्लीकेशन पर प्रोफाइल बनाती थीं. वहीं उनके दोनों साथी सोशल मेलमिलाप के जरिए लोगों से जुड़ते थे. फोकस शादीशुदा अमीर आदमियों पर रखते थे. उन्हें अपना क्लाइंट्स बनाते. उन्हें एस्कॉर्ट सेवा देते. देश के कई बड़े शहरों में दोनों औरतें एस्कॉर्ट सेवा देने जातीं. क्लाइंट्स से 10 हज़ार से लेकर 40 हज़ार रुपए तक की फीस चार्ज करतीं. साथ ही आलीशान होटल में ठहरती थीं. क्लाइंट्स के साथ फोन पर हुई बातचीत रिकॉर्ड करतीं.

उसके बाद दोनों आदमी के साथ मिलकर ये औरतें अपने क्लाइंट्स को ब्लैकमेल करने लगतीं. उन्हें धमकी देतीं. कहतीं कि उनके खिलाफ रेप का केस दर्ज करवा दिया जाएगा, अगर वो इससे बचना चाहते हैं तो पैसे देने होंगे. भारी-भरकम रकम मांगतीं. लाखों में. इन चारों ने करीब दर्जनों लोगों को ठगा है.

कैसे भंडाफोड़ हुआ?

दोनों में से एक लड़की ने निशातपुरा पुलिस स्टेशन में एक आदमी के खिलाफ केस दर्ज करवाया. रेप का केस. 28 अगस्त के दिन. ये आदमी उसका क्लाइंट था. पुलिस ने उस आदमी को गिरफ्तार कर लिया और कोर्ट के सामने पेश करके जेल भेज दिया. कुछ दिन बाद उस आदमी को ज़मानत मिल गई.

बेल पर बाहर आने के बाद उस आदमी ने लड़की के खिलाफ केस दर्ज कराया. एक्सटॉर्शन का केस. अपनी शिकायत में बताया कि लड़की और उसके साथियों ने एस्कॉर्ट सर्विस देने के लिए पहले उससे पैसे लिए, फिर उसे धमकी दी, कि उसके खिलाफ रेप का केस दर्ज कर देंगे. कहा कि अगर वो चाहता है कि रेप का केस दर्ज न हो, तो बदले में 20 लाख रुपए दे. उस आदमी की शिकायत पर पुलिस ने छानबीन की. ये सामने आया कि लड़की ने 2018 में भी एक आदमी के खिलाफ रेप का केस दर्ज करवाया था.

पुलिस ने पड़ताल करते हुए लड़कियों और उसके दोनों साथियों को गिरफ्तार किया. पूछताछ की. तब ये सामने आया कि ये गैंग पहले अमीर लोगों को अपना क्लाइंट बनाता था. फिर उन्हीं को रेप के झूठे केस में फंसाने की धमकी देकर ब्लैकमेल करता था. लाखों रुपए मांगता था. रिपोर्ट्स के मुताबिक इस गैंग ने दर्जनों लोगों के साथ ऐसा किया है. पुलिस के पास सारे क्लाइंट्स के नंबर है. जांच चल रही है.


वीडियो देखें:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने के बाद भी डॉक्टर के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर डॉक्टर्स क्या बोले?

ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने के बाद भी डॉक्टर के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर डॉक्टर्स क्या बोले?

बेंगलुरु में 46 साल के एक डॉक्टर कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन से संक्रमित पाए गए हैं.

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

ये रिपोर्ट कान खड़े कर देगी.

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.