Submit your post

Follow Us

जूनियर वर्ल्ड रेसलिंग चैंपियनशिप से कितने मेडल्स के साथ लौटेंगे हमारे पहलवान?

जूनियर वर्ल्ड रेसलिंग चैंपियनशिप में भारत का सफर बिना किसी गोल्ड मेडल के खत्म हुआ. विमिंस रेसलिंग टीम के हिस्से में तीन सिल्वर और दो ब्रॉन्ज मेडल आए. जबकि मेंस टीम ने कुल छह मेडल्स जीते. भारत की संजू देवी, भटेरी, बिपाशा और रविंदर ने सिल्वर मेडल जीते जबकि बाकी पहलवानों के हिस्से ब्रॉन्ज़ मेडल आया. इनके अलावा महिला पहलवान सानेह इंजरी के चलते ब्रॉन्ज मेडल के प्लेऑफ मुकाबले से बाहर हो गईं.

रूस के उफा में जूनियर वर्ल्ड रेसलिंग चैंपियनशिप का आयोजन किया गया है. जहां युवा पहलवानों ने दमदार प्रदर्शन तो किया, लेकिन गोल्ड जीतने में असफल रहे. ना मेंस रेसलिंग टीम का कोई पहलवान गोल्ड जीत सका. और न ही विमिंस टीम. हालांकि, विमिंस के पास तीन जबकि मेंस के पास एक मौका ऐसा आया, जहां भारत को गोल्ड मेडल मिल सकता था. लेकिन चारों बार हमें हार झेलनी पड़ी.

# फाइनल में हारी संजू और भटेरी

संजू देवी 62 किलो वर्ग में लड़ रहीं थीं. फाइनल मुकाबले में उन्हें रूस की एलिना कासाबिएवा ने मात दी. इस मुकाबले में भारतीय पहलवान संजू को वापसी का ज़रा भी मौका नहीं मिला. रूसी महिला पहलवान ने पूरे मैच में दबदबा बनाए रखा और टेक्निकल सुपीरियरिटी के दम पर जीत हासिल की. संजू देवी को सिल्वर से संतोष करना पड़ा.

एक अन्य फाइनल मुकाबले में भटेरी को भी हार का मुंह देखना पड़ा. 65 किलो वर्ग के फाइनल मुकाबले में मोल्डोवा की इतिना रिगाची ने भटेरी को हराया. इस मैच में भटेरी धोबी पछाड़ लगाने का इंतजार ही करती रह गई. डिफेंसिव रणनीति ने भटेरी को हार की तरफ धकेल दिया. मोल्डोवा की पहलवान ने टेक्निकल सुपीरियरिटी के दम पर भटेरी को 12-2 के अंतर से हराया.

इससे पहले 76 किलो वर्ग में बिपाशा ने सिल्वर मेडल जीता था. जबकि सिमरन और सितो ने ब्रॉन्ज़ मेडल अपने नाम किए थे.

# मेंस रेसलिंग टीम ने जीते 6 मेडल

दूसरी ओर मेंस रेसलिंग टीम ने छह मेडल अपने नाम किये. एक सिल्वर और पांच ब्रॉन्ज. 61 किलो वर्ग में रविंदर ने सिल्वर मेडल जीता. उन्हें ईरानी खिलाड़ी ने फाइनल में 9-3 के अंतर से हराया.

74 किलो वर्ग में यश, 92 किलो वर्ग में पृथ्वीराज पाटिल, और 125 किलो वर्ग में अनिरुद्ध कुमार ने कांस्य पदक जीता था. इससे पहले 79 किलो वर्ग में गौरव बलियान और दीपक ने 97 किलो वर्ग में कांस्य पदक अपने नाम किया था.


इस भारतीय क्रिकेटर पर क्यों लगा पिच रोलर चोरी का आरोप?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

ये रिपोर्ट कान खड़े कर देगी.

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?