Submit your post

Follow Us

पता चल गया, किस शहर में हो सकता है IPL2020

इंडियन प्रीमियर लीग. IPL. दुनिया की सबसे प्रसिद्ध T20 लीग. हर साल पूरी दुनिया के क्रिकेट फैंस का दिल इस लीग में लगा रहता है. इस साल कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते लीग अभी तक शुरू नहीं हो पाई है. इस बीच लीग को कराने के तमाम पॉसिबल तरीकों में इसे एक ही शहर में कराने के तरीके पर भी विचार हो रहा है. PTI के मुताबिक, एक मेजर शेयरहोल्डर का कहना है कि इस बार टूर्नामेंट सिर्फ मुंबई में कराने पर भी विचार किया जा रहा है.

अभी तक की रिपोर्ट्स के मुताबिक, BCCI इस टूर्नामेंट को सितंबर-अक्टूबर विंडो में कराने पर विचार कर रहा है. हालांकि इस विंडो में T20 वर्ल्ड कप भी होना है. ICC ने इस पर अभी कोई फैसला नहीं लिया है. इसके चलते BCCI भी खुलकर नहीं बोल पा रहा.

# आसान नहीं होगा

एक BCCI ऑफिशल ने PTI से कहा,

‘अभी यह बेहद जल्दबाजी है, लेकिन अगर IPL भारत में हुआ और अक्टूबर तक मुंबई में हालात काबू में रहे, तो मुंबई में चार टॉप क्लास फ्लडलाइट ग्राउंड्स उपलब्ध है. BCCI, ब्रॉडकास्टर्स (स्टार स्पोर्ट्स) के लिए साजो-सामान समेत तमाम चीजें आसानी से मैनेज की जा सकती हैं.’

अभी मुंबई में 31 हजार से ज्यादा कोरोना पॉजिटिव केस हैं. यह देश में चौथा सबसे ज्यादा प्रभावित शहर है. ऐसे में यहां IPL कराने के लिए हालात सुधरना बेहद जरूरी है. इसमें एक बात ये भी है कि शहर में सिर्फ तीन बड़े ग्राउंड- वानखेड़े, ब्रेबोर्न और DY पाटिल (नवी मुंबई) हैं और ये तीनों ही कोरोना के हाल बिगड़ने पर काम आने वाले प्लान में शामिल हैं.

BCCI प्रेसिडेंट सौरव गांगुली लगातार कह रहे हैं कि इस साल IPL कराने की पूरी कोशिश करेंगे. इसमें ध्यान देने वाली बात ये भी है कि IPL न होने से BCCI को लगभग 4000 करोड़ का नुकसान होगा, ऐसे में BCCI हर हाल में इसे कराना चाहेगा.

वर्ल्ड क्रिकेट की बात करें, तो वेस्टइंडीज़ की टीम इंग्लैंड पहुंच गई है. अगले हफ्ते से दोनों देशों के बीच टेस्ट सीरीज शुरू होनी है. इधर पाकिस्तान क्रिकेट टीम भी इंग्लैंड पहुंच रही है. पाकिस्तान की टीम इस महीने के अंत से इंग्लैंड से भिड़ेगी.


कोरोना वायरस के दौर के पहले टेस्ट में वेस्ट इंडीज की टीम क्या बड़ा करने वाली है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

'कोरोनिल' पर पतंजलि के आचार्य बालकृष्ण पूरी तरह यू-टर्न मार गए!

पतंजलि का दावा था कि 'कोरोनिल' दवा कोरोना वायरस ठीक करने में कारगर होगी.

चीन के ऐप तो बैन हो गए, पर उन भारतीयों का क्या जो इनमें काम करते हैं

चीनी ऐप के कर्मचारियों में घबराहट है.

चीनी ऐप पर बैन के बाद चीन ने भारत के बारे में क्या बयान दिया है?

भारत को कैसी जिम्मेदारी याद दिलाई चीन ने?

लगभग 16 मिनट के राष्ट्र के नाम संदेश में नरेंद्र मोदी ने क्या काम की बात की?

संदेश का सार यहां पढ़िए.

भारत सरकार के चाइनीज़ ऐप बंद करने के स्टेप पर TikTok ने चिट्ठी में क्या लिखा?

अपने यूज़र्स के बारे में भी कुछ कहा है.

PM CARES के तहत बने देसी वेंटिलेटर इस हाल में मिले कि लौटाने की नौबत आ गई

और ख़राब वेंटिलेटर बनाने वालों ने क्या सफ़ाई दी?

भारत में चीन के 59 मोबाइल ऐप बैन, टिकटॉक, यूसी, वीचैट भी लपेटे में

कहा कि देश की सुरक्षा की ख़ातिर इन्हें बैन किया जा रहा है.

गैंगस्टर आनंदपाल एनकाउंटर के बाद हुई हिंसा के लिए CBI ने चार्जशीट में किस-किस का नाम जोड़ा है?

एनकाउंटर की सीबीआई जांच की मांग को लेकर हिंसा हुई थी.

क्या अरुणाचल में चीन भारतीय सीमा में 50 किलोमीटर तक घुस गया है?

बीजेपी सांसद ने यह दावा किया है.

पतंजलि का कोरोनिल लॉन्च करने वाले डॉक्टर ने दवा की सबसे बड़ी गड़बड़ी बता दी!

मरीज़ों को केवल कोरोनिल नहीं दी गई थी.