Submit your post

Follow Us

EWS कोटे से असिस्टेंट प्रोफेसर बने बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी के भाई का इस्तीफा

यूपी के बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी के भाई अरुण द्विवेदी ने सिद्धार्थ विश्वविद्यालय के असिस्टेंट प्रोफेसर पद से इस्तीफा दे दिया है. उनकी नियुक्ति EWS कोटे (आर्थिक रूप से कमजोर सामान्य अभ्यर्थी) से हुई थी. इसके बाद काफी विवाद हुआ था. जानकारी के मुताबिक, अरुण द्विवेदी ने व्यक्तिगत कारणों का हवाला देते हुए अपने पद से इस्तीफा दिया है. कुलपति सुरेंद्र दुबे ने उनका इस्तीफा मंजूर कर लिया है.

मंत्री के भाई अरुण द्विवेदी का ये इस्तीफा उस दिन आया है, जब गुरुवार को ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सिद्धार्थनगर पहुंच रहे हैं. यूपी के सीएम इन दिनों कोरोना संकट के बीच प्रदेश के अलग-अलग इलाकों का दौरा कर रहे हैं, इसी कड़ी में उन्हें गुरुवार को सिद्धार्थनगर पहुंचना है.

अरुण द्विवेदी ने अपने इस्तीफे के बाद एक प्रेस नोट जारी किया है. इसमें लिखा है कि उनका चयन निर्धारित प्रक्रिया के तहत हुआ था. लेकिन दुर्भाग्य से उनके कार्यभार ग्रहण करने के तुरंत बाद ही विवाद हो गया. उनके बड़े भाई सतीश द्विवेदी की छवि को धूमिल करने का प्रयास किया गया. अरुण ने कहा कि वह नहीं चाहते हैं कि उनके कारण भाई पर बेबुनियाद आरोप लगे. मंत्री के भाई ने कहा कि वह मानसिक संत्रास की स्थिति से गुजर रहे हैं. उनके लिए परिवार और उनके बड़े भाई सतीश त्रिवेदी कि सामाजिक और राजनीतिक सम्मान से ज्यादा अहमियत किसी भी चीज की नहीं है.

अरुण द्विवेदी ने दावा किया कि नवंबर 2019 में आवेदन के समय उन्होंने अपनी आर्थिक आर्थिक स्थिति के अनुसारEWS का प्रमाण पत्र बनवाकर आवेदन दिया था. बाद में उच्च शिक्षा में सेवारत लड़की का शादी का प्रस्ताव आने पर अपने जीवन की बेहतरी का प्रयास किया. उन्होंने कहा कि इस भर्ती के लिए उन्होंने सारी प्रक्रियाएं पूरी की थी और सतीश द्विवेदी की इसमें कोई भूमिका नहीं थी.

Ews Kota
Ews Kota

EWS कोटे से भाई की नियुक्ति पर विवाद के बाद मंत्री सतीश द्विवेदी ने कहा था कि उनके भाई की अलग पहचान है,उसके पास अपना पहचान पत्र है. लेकिन उसके बाद भी किसी को आपत्ति हो तो वह जांच करवा ले.

डॉक्टर सतीश द्विवेदी, खुद भी PHD हैं. वे सिद्धार्थनगर जिले की इटवा विधानसभा सीट से विधायक हैं. राज्य के बेसिक शिक्षा मंत्री हैं. उनके भाई डॉक्टर अरुण द्विवेदी भी PHD डिग्री धारक हैं. सरकारी नौकरी में EWS वालों को 10 फीसदी आरक्षण दिया जाता है. सवर्ण गरीबों को आरक्षण इसी के तहत मिलता है. इसी कोटे के तहत मंत्री के भाई की नियुक्ति हुई थी.

वही खबर सामने आने के बाद सिद्धार्थ विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर सुरेंद्र दुबे ने कहा था कि मनोविज्ञान विभाग में असिस्टेंट प्रोफेसर के 2 पद खाली थे. इनमें से एक पद ओबीसी कैटेगिरी में था और दूसरा आर्थिक रूप से कमजोर सामान्य श्रेणी के लिए था. इसके लिए करीब 150 लोगों ने आवेदन किया था. मेरिट के आधार पर 10 लोगों को इंटरव्यू के लिए चुना गया था. इन 10 में अरुण कुमार पुत्र अयोध्या प्रसाद भी शामिल थे. इंटरव्यू में अरुण दूसरे नंबर पर थे, लेकिन इंटरव्यू, एकेडमिक और अन्य अंकों को जोड़ने पर वह पहले स्थान पर आए गए. इसी वजह से अरुण को पात्र माना गया. कुलपति प्रोफेसर सुरेंद्र दुबे ने कहा था कि अरुण के पास शैक्षणिक प्रमाणपत्र थे, उनके इंटरव्यू की वीडियो रिकॉर्डिंग भी उपलब्ध है. EWS प्रमाणपत्र प्रशासन जारी करता है. मुझे भी नहीं पता था कि वह मंत्री के भाई हैं और मेरे पास इस संबंध में कोई सिफारिश नहीं आई.


EWS कोटा से बेसिक शिक्षा मंत्री के भाई सिद्धार्थ विश्वविद्यालय में असिस्टेंट प्रोफेसर बन गए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

किस संस्था ने रामदेव के खिलाफ एक हजार करोड़ की मानहानि का केस करने की बात कही है?

किस संस्था ने रामदेव के खिलाफ एक हजार करोड़ की मानहानि का केस करने की बात कही है?

इससे बचने के लिए बाबा को क्या करने की सलाह दी है?

ओडिशा पहुंचा तूफान 'यास', पटरियों से बांधने पड़े ट्रेन के पहिए

ओडिशा पहुंचा तूफान 'यास', पटरियों से बांधने पड़े ट्रेन के पहिए

पश्चिम बंगाल से लेकर झारखंड हाई अलर्ट पर हैं.

सागर हत्याकांड: सुशील कुमार का साथ देने के आरोप में बवाना गैंग के चार मेंबर गिरफ्तार

सागर हत्याकांड: सुशील कुमार का साथ देने के आरोप में बवाना गैंग के चार मेंबर गिरफ्तार

सागर की हत्या के आरोप में पुलिस सुशील कुमार को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है.

भारत में 26 मई से फेसबुक और ट्विटर जैसे ऐप बंद हो जाएंगे?

भारत में 26 मई से फेसबुक और ट्विटर जैसे ऐप बंद हो जाएंगे?

क्या हैं भारत सरकार के नए नियम, जिन्हें कंपनियों ने अब तक नहीं माना?

हत्यारोपी पहलवान सुशील कुमार से मेडल्स और अवॉर्ड्स छीने जा सकते हैं, क्या कहते हैं नियम?

हत्यारोपी पहलवान सुशील कुमार से मेडल्स और अवॉर्ड्स छीने जा सकते हैं, क्या कहते हैं नियम?

पद्म श्री, खेल रत्न और अर्जुन अवॉर्ड के अलावा सुशील कुमार के नाम तमाम मेडल भी हैं.

कौन हैं डॉ.जयेश लेले, जिन्होंने बीच डिबेट में ही रामदेव को शटअप बोल दिया?

कौन हैं डॉ.जयेश लेले, जिन्होंने बीच डिबेट में ही रामदेव को शटअप बोल दिया?

एलोपैथी बनाम आयुर्वेद को लेकर डॉक्टर और बाबा के बीच हुई तीखी बहस.

रामदेव ने वापस लिया एलोपैथी के विरोध वाला बयान, कहा- वॉट्सऐप मैसेज पढ़कर बोल दिया था

रामदेव ने वापस लिया एलोपैथी के विरोध वाला बयान, कहा- वॉट्सऐप मैसेज पढ़कर बोल दिया था

रामदेव ने बयान पर खेद जताया लेकिन एलोपैथी डॉक्टरों को एक नसीहत भी दे डाली.

यूपी: EWS कोटे से बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी के भाई बने असिस्टेंट प्रोफेसर

यूपी: EWS कोटे से बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी के भाई बने असिस्टेंट प्रोफेसर

विपक्षी पार्टियों ने उठाए सवाल.

छत्तीसगढ़ में वैक्सीन सर्टिफिकेट से हटाई गई पीएम मोदी की तस्वीर

छत्तीसगढ़ में वैक्सीन सर्टिफिकेट से हटाई गई पीएम मोदी की तस्वीर

BJP ने कांग्रेस सरकार पर लगाया ये आरोप.

बाबा रामदेव ने ऐलोपैथी पर क्या कह दिया कि IMA ने केस दर्ज करने की मांग की है

बाबा रामदेव ने ऐलोपैथी पर क्या कह दिया कि IMA ने केस दर्ज करने की मांग की है

पूछा है कि हेल्थ मिनिस्ट्री की साख पर सवाल उठाना क्या एंटीनेशनल नहीं है?