Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

मोदी-मैक्रों की तस्वीरों के पीछे बदबूदार घिनौना सच छिपा है

3.31 K
शेयर्स

ये खबर सुनाने से पहले एक कहानी सुनाते हैं. हमारे गांव में सुनाई जाती थी तो हमको पता है. कहानी ये थी कि एक आंटी जी के घर में मेहमान आए. आंटी के एक छोटा सा नन्हां मुन्ना था. कहानी सुनाने वालों के मुताबिक आंटी आलसी थीं. मेहमान आने से कुछ ‘मैक्रों’ सेकेंड पहले बच्चा टट्टी कर लिहिस. आंटी जी उसे साफ करने की बजाय उस पर लकड़ी वाला पीढ़ा डाल दिहिन. सारे मेहमान वहीं पीढ़े पर बैठ के परसादी पाए. अर्थात खाना खाए.

कल यानी 12 मार्च को ऐसी ही कहानी बनारस में देखने को मिली. बाबा भोले भंडारे की काशी नगरी. गंगा की नगरी. पीएम मोदी का संसदीय क्षेत्र. वहां पीएम सर हमारे मेहमान इमैनुअल मैक्रों को लेकर पहुंचे. ये फ्रांस के राष्ट्रपति हैं. यानी बहुत बड़े नेता हैं. उनकी लव स्टोरी की बात अभी न कर रहे हैं, नीचे लिंक देंगे पढ़ लेना. तो पीएम सर मैक्रों को लेकर गंगा जी का घाट घाट घुमाए. नैसर्गिक आनंद आया. जगह जगह दोनों का हाथ थामे गंगा किनारे बैनर लगे मिले.

वहां देखो दोस्त
वहां देखो दोस्त

यहीं लोचा हो गया. पता नहीं मोदी जी ने देखा या नहीं. मैक्रों को दिखाया या नहीं. लेकिन कैमरों ने सब कुछ देख लिया. कितनी ढिठाई से गंगा में गिर रहे सीवर इन पोस्टर्स के पीछे छिपाए गए थे. अब देखो भैया बदबू ऐसी चीज है कि सात परदे में ढक दो, बाहर आती ही है. इसके लिए उमा भारती भी बधाई की पात्र हैं. उन्होंने गंगा मैया को इस कदर साफ किया कि अब वहां गंदगी की जगह बैनर दिखने लगे हैं.

ये देखो दूर से
ये देखो दूर से

अब पास वाली भी देख लो

ganga hoarding 2

सवेरे सवेरे ये फोटू दिखाकर मूड खराब करने के लिए सॉरी रहेगा. लेकिन अच्छी बात ये है कि हमारे मेहमान ने नहीं देखा. सच्ची.


ये भी पढ़ें:

जब पूरी दुनिया भारत के खिलाफ थी, तब अकेला फ्रांस भारत के साथ खड़ा था

वो राष्ट्रपति, जिसकी नीतियों से ज्यादा उसकी लव स्टोरी पर बात हुई

फ्रांस क्यों मुसलमानों को पोर्क खिलाना चाहता है?

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
banner welcoming Emmanuel Macron and Narendra Modi was placed in front of a sewage pipe that drains into the Ganges river in Varanasi

क्या चल रहा है?

यूपी सरकार ने बचत का नया तरीका निकाला है कि किसी को नौकरी ही न दे!

न नई भर्ती होगी और न ही कोई घोटाला होगा.

इंडिया-पाक मैच से पहले लोगों के घिनौनेपन को सानिया मिर्ज़ा झेल नहीं पाईं

लोग ऐसा तब कर रहे हैं जब वो प्रेगनेंट हैं.

जिस बिल्डिंग में कई मंत्रालय चलते हैं, वहां कैसे होता था सरकारी नौकरी का फर्जी इंटरव्यू?

नौकरी के लिए फोन-मेल सब सही लगता था.

कांग्रेसियों ने भाजपा मंत्री के घर कचरा फेंका, पुलिस ने उनका सिर फोड़ दिया

छत्तीसगढ़ में पुलिस ने प्रदर्शन करने वाले कांग्रेसियों को बेरहमी से पीटा.

हॉन्गकॉन्ग की टीम में 7 पाकिस्तानी थे, आज मुकाबला 11 से है

आज सोशल मीडिया पर बाप-बेटे वाले टुच्चे जोक्स की बाढ़ आएगी.

विकलांगों के प्रोग्राम में केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने कहा, टांग तोड़कर बैसाखी दे दूंगा

कितने भले आदमी हैं बाबुल सुप्रियो, जो टांग तोड़ने के बाद बैसाखी भी देंगे!

खुद बच्चे की हत्या कर पड़ोसी पर SC-ST एक्ट लगवाया, 4.5 लाख मुआवजा भी लिया

दो महीने बाद खुला मामला. महीनों जेल में रहा निर्दोष.

जिस राइटर पर न्यूडिटी फैलाने का आरोप लगा था अब वो ये फिल्म ला रहे हैं

और इस फिल्म में कई साल बाद ऋषि कपूर और जूही चावला साथ दिखेंगे.

यूपी-बिहार के बालिका गृहों में रेप के बाद महिला आयोग ने एक अच्छा कदम उठाया है

बिहार के मुजफ्फरपुर में 34 बच्चियों के साथ रेप की खबर आई थी.

DU में छात्रसंघ अध्यक्ष बने ABVP के अंकिव बसोया की डिग्री फर्जी है?

विपक्षी संगठन NSUI ने ये तगड़ा इल्जाम लगाया है वो भी प्रूफ के साथ.