Submit your post

Follow Us

गोरक्षकों के मुंह खून लग गया है, वो गाय के मुद्दे के बिना भी मारेंगे

गोरक्षक अब तक लोगों को गायों के लिए मारते आए हैं. शायद पहली बार उन्होंने किसी और बात के लिए मारा है और ये भी कम शर्मनाक नहीं है.

हरियाणा के सोनीपत ज़िले में मिनी-सेक्रेटैरियट के सामने गोरक्षक दल के लोग विरोध प्रदर्शन कर रहे थे. दिन के करीब ढाई बजे थे. मांग थी कि केरल में कांग्रेस के जिन कार्यकर्ताओं ने सरेआम गोकशी की उनके खिलाफ देशद्रोह के चार्जेज़ लगाए जाएं.

लेकिन ये बात यहीं तक सीमित नहीं रही. वहीं भीड़ में एक लड़का शिवम भी था. वो अपने एक जर्नलिस्ट दोस्त के साथ वहां गया था. शिवम के हाथ में दोस्त का कैमरा था. गाय की रक्षा के कर्तव्य का भार खुद ही अपने कंधों पर डालने वाले इन लोगों को लगा कि वो फोटोग्राफर है. पुलिस के मुताबिक गोरक्षक दल के मोहित ने शिवम से प्रदर्शन की फोटो खींचने के लिए कहा. जब शिवम ने इनकार किया तो दोनों के बीच कहासुनी शुरू हो गई. पास खड़े और लोगों ने उस समय तो मामले को शांत करा दिया. लेकिन बात यहीं खत्म नहीं हुई. गाय के लिए दया के भाव से भरे ये लोग आदमी के प्रति कितना क्रूर हो सकते हैं, इसका अंदाजा लगाना अब मुश्किल नहीं है.

pehlu khan
अलवर में पहलू खान को सड़क पर गौ रक्षकों ने मार डाला

प्रोटेस्ट के बाद तथाकथित रूप से मोहित ने अपने दो साथियों के साथ शिवम का पीछा किया और बाज़ार में उसके छाती और पीठ में चाकुओं से वार कर दिया.

शिवम को तुरंत एक लोकल हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया और हालत संभलती न देखकर दिल्ली रेफर कर दिया गया. जहां वो अभी ज़िन्दगी और मौत के बीच झूल रहा है.

हमेशा की तरह FIR दर्ज़ करा दी गई है. छानबीन जारी है. मोहित को गिरफ्तार भी कर लिया गया है. बाकी के दो लोगों को अभी पुलिस पकड़ नहीं पाई है.

हालांकि गोरक्षक सेवा दल को लोगों ने कहा है कि जिन लोगों ने हमला किया, वो उनके दल के लोग नहीं हैं.

गुजरात में दलितों को गाय की खाल उतारने के मुद्दे को लेकर डंडों से पीटा गया.
गुजरात में दलितों को गाय की खाल उतारने के मुद्दे को लेकर डंडों से पीटा गया.

पिछले कुछ समय से इस तरह की घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं. एक बार प्रधानमंत्री गोरक्षकों पर बोले थे, लेकिन शासन-प्रशासन की ओर से इन पर कोई नकेल नजर नहीं आती.

इस घटना से ये भी पता चलता है कि गायों को लेकर इनके मन में प्रेम हो, न हो, ये प्रचार के भूखे जरूर हैं.

ये भी पढ़ें:

इस देश में नए ‘गाय’ और सैनिक’ कौन हैं, जान लीजिए

‘मैं शाकाहारी और मोदीभक्त हूं, लेकिन अब बीफ खाऊंगा’

नरगिस और सुनील दत्त की लव स्टोरी जो आज के लवर्स के बहुत काम की है

जातिवाद का इससे घिनौना रूप आपने नहीं देखा होगा

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

'निसर्ग' चक्रवात क्या है और ये कितना ख़तरनाक है?

'निसर्ग' नाम का मतलब भी बता रहे हैं.

कोरोना काल में क्रिकेट खेलने वाले मनोज तिवारी ‘आउट’

दिल्ली में हार के बाद बीजेपी का पहला बड़ा फैसला.

1 जून से लॉकडाउन को लेकर क्या नियम हैं? जानिए इससे जुड़े सवालों के जवाब

सरकार ने कहा कि यह 'अनलॉक' करने का पहला कदम है.

3740 श्रमिक ट्रेनों में से 40 प्रतिशत ट्रेनें लेट रहीं, रेलवे ने बताई वजह

औसतन एक श्रमिक ट्रेन 8 घंटे लेट हुई.

कंटेनमेंट ज़ोन में लॉकडाउन 30 जून तक बढ़ाया गया, बाकी इलाकों में छूट की गाइडलाइंस जानें

गृह मंत्रालय ने कंटेनमेंट ज़ोन के बाहर चरणबद्ध छूट को लेकर गाइडलाइंस जारी की हैं.

मशहूर एस्ट्रोलॉजर बेजान दारूवाला नहीं रहे, कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी

बेटे ने कहा- निमोनिया और ऑक्सीजन की कमी से हुई मौत.

लॉकडाउन-5 को लेकर किस तरह के प्रपोज़ल सामने आ रहे हैं?

कई मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि 31 मई के बाद लॉकडाउन बढ़ सकता है.

क्या जम्मू-कश्मीर में फिर से पुलवामा जैसा अटैक करने की तैयारी में थे आतंकी?

सिक्योरिटी फोर्स ने कैसे एक्शन लिया? कितना विस्फोटक मिला?

लद्दाख में भारत और चीन के बीच डोकलाम जैसे हालात हैं?

18 दिनों से भारत और चीन की फौज़ आमने-सामने हैं.

शादी और त्योहार से जुड़ी झारखंड की 5000 साल पुरानी इस चित्रकला को बड़ी पहचान मिली है

जानिए क्या खास है इस कला में.