Submit your post

Follow Us

ऑस्ट्रेलियन ओपन 2022 के फाइनल में किससे भिड़ेंगी एश बाटी?

ऑस्ट्रेलियन ओपन 2022 को महिला सिंगल्स के फाइनलिस्ट मिल गए हैं. नंबर वन टेनिस खिलाड़ी एश बाटी (Ash Barty) ने मेडिसन कीज को मात देकर फाइनल में जगह बना ली है. जबकि अमेरिका की डेनियल कॉलिंस ने इगा स्विआतिक को हराकर खिताबी मुकाबले में एंट्री की है. ये पहला मौका है जब डेनियल कॉलिंस किसी भी ग्रैंडस्लैम के फाइनल में पहुंची हैं.

एश बाटी और मेडिसन कीज के बीच महिला सिंगल्स का पहला सेमीफाइनल मुकाबला खेला गया. जहां सीधे बाटी ने सीधे सेट्स में मेडिसन कीज को 6-1, 6-3 के अंतर से मात दी. साल 1980 के बाद ये पहला मौका है, जब किसी ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ने ऑस्ट्रेलियन ओपन के फाइनल में जगह बनाई है.

बाटी ने इससे पहले 2020 में सेमीफाइनल तक का सफर तय किया था. दो बार की ग्रैंडस्लैम चैंपियन एश बाटी के लिए साल 2022 शानदार रहा है. बाटी ने सिंगल्स में कुल 10 मुकाबले खेले हैं और सभी में जीत दर्ज की है. इतना ही नहीं, ऑस्ट्रेलियन ओपन में एश बाटी ने अभी तक एक भी गेम नहीं गंवाया है.

मैच जीतने के बाद एश बाटी ने कहा,

‘पहली बार ऑस्ट्रेलियन ओपन के फाइनल में पहुंचना सपने जैसा है. अपने घर में खेलना मुझे बहुत पसंद है. मैं खुश हूं कि अब तक मैंने अपना बेस्ट दिया है. और अब मेरे पास टाइटल जीतने का मौका है. मैं मेडिसन कीज की बहुत इज़्ज़त करती हूं.

वो हमेशा अपना बेस्ट देने की कोशिश करती है. मेडिसन के बारे में मुझे सबसे अच्छी बात ये लगती है कि उसे फ़र्क नहीं पड़ता है कि कोर्ट पर क्या हुआ. वो आपकी आंखों में देखेगी. मुस्कुराएगी और हाथ मिलाएगी.’

बता दें कि एश बाटी के पास इतिहास रचने का सुनहरा मौका है. साल 1978 के बाद से किसी भी ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ने ऑस्ट्रेलियन ओपन नहीं जीता है. आखिरी बार क्रिस्टीन ओ नील ने यह टाइटल अपने नाम किया था.

#Danielle Collins vs Iga Swiatek

दूसरे सेमीफाइनल मुकाबले में डेनियल कॉलिंस ने पोलैंड की इगा स्विआतिक को सीधे सेट में 6-4 6-1 के अंतर से मात दी. कॉलिंस ने मुकाबले की शुरुआत से ही दबदबा बनाना शुरू कर दिया था. और पहले सेट में जल्द ही 4-0 की बड़ी बढ़त हासिल की. हालांकि स्विआतिक ने वापसी करते हुए स्कोर को 4-2 कर दिया. लेकिन कॉलिंस ने बढ़िया खेल दिखाते हुए पहला सेट 6-4 से अपने नाम कर लिया.

दूसरे सेट में स्विआतिक बिल्कुल रंग में नहीं दिखी. और कॉलिंस ने फटाफट  6-1 से दूसरा सेट और मुकाबला अपने नाम किया.


एक तस्वीर से कैसे तय हो गया, पुजारा क्रिकेटर बनेंगे?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

ED ने किन मामलों में सत्येंद्र जैन और संजय राउत के परिवारों की करोड़ों की संपत्ति कुर्क की है?

ED ने किन मामलों में सत्येंद्र जैन और संजय राउत के परिवारों की करोड़ों की संपत्ति कुर्क की है?

कार्रवाई पर संजय राउत भड़क गए हैं.

यूपी सरकार के लिए गोरखनाथ मंदिर हमला 'आतंकी घटना', हमलावर के पिता ने क्या बताया?

यूपी सरकार के लिए गोरखनाथ मंदिर हमला 'आतंकी घटना', हमलावर के पिता ने क्या बताया?

यूपी सरकार ने आरोपी के खिलाफ तगड़ी जांच के आदेश दे दिए हैं.

1 अप्रैल से E-Invoicing अनिवार्य, फर्जी बिल बनाने वालों की नींद उड़ी

1 अप्रैल से E-Invoicing अनिवार्य, फर्जी बिल बनाने वालों की नींद उड़ी

20 करोड़ सालाना बिक्री पर ई-इनवॉइसिंग जरूरी, टैक्स चोरी थमेगी.

रुचि सोया के FPO के 'चमत्कार' को नमस्कार करने के बजाय SEBI ने क्यों दिखाई सख्ती?

रुचि सोया के FPO के 'चमत्कार' को नमस्कार करने के बजाय SEBI ने क्यों दिखाई सख्ती?

वजह पतंजलि समूह का एक कथित संदेश बताया गया है?

योगी सरकार 2.0 में राज्यमंत्री बने नेताओं के बारे में ये बातें जानते हैं आप?

योगी सरकार 2.0 में राज्यमंत्री बने नेताओं के बारे में ये बातें जानते हैं आप?

कई पुराने तो कुछ नए चेहरों को मंत्रीमंडल में जगह मिली है.

योगी आदित्यनाथ ने ली CM पद की शपथ, जानें कौन-कौन बना मंत्री

योगी आदित्यनाथ ने ली CM पद की शपथ, जानें कौन-कौन बना मंत्री

योगी आदित्यनाथ के साथ 52 मंत्रियों ने भी ली शपथ

बीरभूम हिंसा पर सीएम ममता बनर्जी ने क्या कहकर अपनी ही पुलिस पर निशाना साधा?

बीरभूम हिंसा पर सीएम ममता बनर्जी ने क्या कहकर अपनी ही पुलिस पर निशाना साधा?

ममता बनर्जी ने घटना के पीछे साजिश होने की आशंका भी जताई.

बिहार विधानसभा में शून्य हुई VIP, तीनों विधायक बीजेपी में शामिल

बिहार विधानसभा में शून्य हुई VIP, तीनों विधायक बीजेपी में शामिल

बोचहां विधानसभा उपचुनाव और एमएलसी इलेक्शन से पहले मुकेश सहनी को तगड़ा झटका.

यूनिवर्सिटी बनी ही नहीं, राजस्थान सरकार ने बिल पेश कर दिया, फिर हुई मिट्टी पलीद!

यूनिवर्सिटी बनी ही नहीं, राजस्थान सरकार ने बिल पेश कर दिया, फिर हुई मिट्टी पलीद!

सरकार को बिल वापस लेना पड़ा, बीजेपी बोली- पूरे कुएं में भांग है.

थोक ग्राहकों के लिए 25 रुपये प्रति लीटर महंगा हुआ डीजल, आम लोगों पर ये असर पड़ेगा

थोक ग्राहकों के लिए 25 रुपये प्रति लीटर महंगा हुआ डीजल, आम लोगों पर ये असर पड़ेगा

कीमतें बढ़ने से ब्लैक मार्केटिंग बढ़ने की आशंका. बंद हो सकते हैं कई पंप.