Submit your post

Follow Us

श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में 48 घंटे में नौ लोगों की मौत, रेलवे का क्या कहना है?

भारतीय रेलवे की श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में यात्रा के दौरान पिछले 48 घंटों में कम से कम नौ लोगों की मौत हुई है. मरने वालों के रिश्तेदारों और अधिकारियों ने ये बुधवार 27 मई को बताया.

इंडियन एक्सप्रेस की ख़बर के मुताबिक़, इनमें से पांच लोग उत्तर प्रदेश जा रहे थे और चार बिहार की यात्रा कर रहे थे.

मंगलवार 26 मई को उत्तर प्रदेश के बलिया में जनकपुर, नेपाल के एक और शख्स को हालत बिगड़ने पर सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया था. शख्स मडगांव-दरभंगा ट्रेन से यात्रा कर रहा था. बलिया के एडिशनल SP संजय यादव ने बताया कि अगले दिन 27 मई को शख्स की मौत हो गई.

# ट्रेन का वीडियो वायरल हुआ था

बुधवार 27 मई को एक वीडियो क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल हुई. इसमें एक बच्चा अपनी मां को जगाने की कोशिश करता दिखाई दे रहा था. वीडियो बिहार के मुजफ्फरपुर स्टेशन का बताया गया था.

अरवीना खातून 23 मई को अहमदाबाद से अपने दो बच्चों के साथ कटिहार के लिए निकली थीं. कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में महिला के भूख प्यास से मरने की ख़बर सामने आने के बाद, PIB ने अपनी पड़ताल में बताया कि ये दावे झूठे हैं. पीआईबी ने बताया कि महिला बीमार थी और इस वजह से उसकी मौत हुई है, भूख-प्यास से नहीं.

# कहां कहां हुई मौतें?

कटिहार की ही उरेश खातून की मौत सूरत-पूर्णिया ट्रेन में हुई थी. इनका शव बिहार के मानसी में ट्रेन से उतारा गया.

उरेश खातून की मौत पर रेलवे ने कहा, ‘हार्ट ऑपरेशन के बाद 22 मार्च को इन्हें पेसमेकर लगा था और अस्पताल से ये 24 मई को घर आई थीं. ट्रेन जब बेगुसराय में थी तब ये मृत मिली थीं.’

तीसरी मौत बिहार के दानापुर में हुई. 70 साल के वशिष्ठ महतो का शव मुंबई-दरभंगा श्रमिक स्पेशल ट्रेन से उतारा गया. दिल की बीमारी का इलाज कराने के बाद परिवार समेत मुंबई से लौट रहे थे वशिष्ठ महतो.

बुधवार 27 मई को मुंबई से वाराणसी के मंडुआडीह पहुंची ट्रेन में भी दो लोग मृत पाए गए. वाराणसी जीआरपी ने दोनों की पहचान दशरथ प्रजापति और रामरतन रघुनाथ के तौर पर की. पुलिस ने बताया कि दशरथ प्रजापति को किडनी की दिक्कत थी और रघुनाथ को कई बीमारियां थीं.

बिहार के सारण में रहने वाले भूषण सिंह की मौत बलिया पहुंचने पर हुई. भूषण सूरत से ट्रेन पर सवार हुए थे. कानपुर पहुंची झांसी-गोरखपुर ट्रेन में भी दो लोग मृत पाए गए. अधिकारियों ने इनमें से एक व्यक्ति की पहचान राम अवध चौहान के रूप में की है.

उधर रेलवे के प्रवक्ता का कहना है कि ‘श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में कुछ मौतें सामने आई हैं. इनमें से ज़्यादातर लोग गंभीर बीमारियों से ग्रसित थे और बड़े शहरों में इलाज कराने गए थे.’


ये वीडियो भी देखें:

ये प्रवासी मजदूर पटरी पर सोकर किस बात का विरोध जता रहे हैं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

लद्दाख में भारत और चीन के बीच डोकलाम जैसे हालात हैं?

18 दिनों से भारत और चीन की फौज़ आमने-सामने हैं.

शादी और त्योहार से जुड़ी झारखंड की 5000 साल पुरानी इस चित्रकला को बड़ी पहचान मिली है

जानिए क्या खास है इस कला में.

जिस मंदिर के पास हजारों करोड़ रुपये हैं, उसके 50 प्रॉपर्टी बेचने के फैसले पर हंगामा क्यों हो गया

साल 2019 में इस मंदिर के 12 हजार करोड़ रुपये बैंकों में जमा थे.

पुलवामा हमले के लिए विस्फोटक कहां से और कैसे लाए गए, नई जानकारी सामने आई

पुलवामा हमला 14 फरवरी, 2019 को हुआ था.

दो महीने बाद शुरू हुई हवाई यात्रा, जानिए कैसा रहा पहले दिन का हाल?

दिल्ली में पहले दिन 80 से ज्यादा उड़ानें कैंसिल क्यों करनी पड़ी?

बलबीर सिंह सीनियर: तीन बार के हॉकी गोल्ड मेडलिस्ट, जिन्होंने 1948 में इंग्लैंड को घुटनों पर ला दिया था

हॉकी लेजेंड और भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और कोच बलबीर सिंह सीनियर का 96 साल की उम्र में निधन.

दूसरे राज्य इन शर्तों पर यूपी के मजदूरों को अपने यहां काम करने के लिए ले जा सकते हैं

प्रवासी मजदूरों को लेकर सीएम योगी ने बड़ा फैसला किया है.

ऑनलाइन क्लास में Noun समझाने के चक्कर में पाकिस्तान की तारीफ, टीचर सस्पेंड

टीचर शादाब खनम ने माफी भी मांगी, लेकिन पैरेंट्स ने शिकायत कर दी.

लद्दाख में तकरार बढ़ी, तीन जगह चीनी सेना ने मोर्चा लगाया, तंबू गाड़े

दोनों ओर के सैनिकों ने मोर्चा संभाला.

पाताल लोक वेब सीरीज में फोटो से छेड़छाड़ पर BJP विधायक ने की अनुष्का से माफी की मांग

प्रोड्यूसर अनुष्का शर्मा पर रासुका के तहत कार्रवाई की मांग की.