Submit your post

Follow Us

चुनाव की तारीखों का ऐलान, अखिलेश यादव ने चुनाव आयोग से क्या मांग कर दी?

चुनाव आयोग ने 5 राज्यों में चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया है. उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, गोवा और मणिपुर में चुनाव होंगे. शुरुआत 10 फरवरी को उत्तर प्रदेश से होगी. सभी राज्यों के चुनावों के नतीजे 10 मार्च को आएंगे. यूपी में 7 चरणों में चुनाव होगा. वहीं मणिपुर में दो और पंजाब, गोवा और उत्तराखंड में एक-एक चरण में चुनाव होगा.

यूपी में सात चरणों में चुनाव – सीटें-403

पहला चरण – 10 फरवरी
दूसरा  चरण – 14 फरवरी
तीसरा चरण – 20 फरवरी
चौथा चरण – 23 फरवरी
पांचवा चरण – 27 फरवरी
छठा चरण – 03 मार्च
सातवां चरण – 07 मार्च

मणिपुर में दो चरणों में होगा चुनाव – सीटें-60

पहला चरण – 27 फरवरी
दूसरा चरण – 03 मार्च

14 फरवरी को पंजाब में 117 सीटों, और गोवा में 40 सीटों पर वोटिंग होगी.

नेता क्या कह रहे हैं?

चुनाव की तारीखों के ऐलान के बाद नेताओं की प्रतिक्रिया आई है. समाजवादी पार्टी के मुखिया और यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने आजतक से बातचीत में कहा,

भारतीय जनता पार्टी का जाना तय है. जनता इन्हीं तारीखों का ऐलान कर रही थी. किसान इंतजार कर रहा था. व्यपारी इंतजार कर रहा था, नौजवान इंतजार कर रहा था. 10 मार्च के बाद उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी का सफाया हो जाएगा.

अखिलेश यादव ने चुनाव आयोग की शर्तों को लेकर भी बात की कहा,

चुनाव आयोग ने जो शर्ते रखी हैं उन शर्तों का पालन होगा.जो नियम बने हैं उसके मुताबिक प्रचार करेंगे. लेकिन ये सख्ती सरकार के लिए रखनी चाहिए. सरकार यहां पर मनमानी करेगी. पिछले चुनाव में भी मैंने देखा कि किसी भी नियम को इस सरकार ने नहीं माना. इसलिए इलेक्शन कमिशन ये निगरानी रखे कि सरकार में बैठे लोग उनके नियमों का पालन करें.

एक सवाल के जवाब में अखिलेश ने कहा,

इलेक्शन कमिशन ने तमाम नियम बनाएं हैं. कहीं ना कहीं आशंका इस बात की है कि कोविड फैलेगा. अगर हम वर्चुअल रैली के लिए जाएंगे तो उन पार्टियों के लिए कहीं ना कहीं इलेक्शन कमिशन को सोचना चाहिए जिन पार्टियों के पास, जिन पार्टियों के कार्यकर्ताओं के पास कोई इंट्रास्ट्रक्चर नहीं है, वर्चुअल रैली के लिए तमाम चीजें नहीं हैं तो वो कैसे करेंगे. इलेक्शन कमिशन को कुछ तो सहयोग करना चाहिए. चाहे वो चैनल के माध्यम से विपक्ष के लोगों को समय ज्यादा दे, अगर इलेक्शन कमिशन चिन्हित करता है तो वर्चुअल रैली या अपनी बात जनता तक पहुंचाने में कामयाब रहेंगी.

अखिलेश ने कहा कि इलेक्शम कमिशन ये सुनिश्चित करे कि सभी पार्टियों को बराबर मौका मिले. बीजेपी के पास पहले से बहुत इंट्रास्ट्रक्चर है, वह सरकार में है. खर्चा करने में बीजेपी सबसे आगे है. ऐड पर सरकारी पैसे खर्च किए जा रहे हैं. विपक्षी पार्टियों को भी स्पेस मिलना चाहिए.

योगी क्या बोले?

वहीं यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा,

लोकतंत्र के इस महापर्व का हम हृदय से स्वागत करते हैं. 10 मार्च 2022 को जब परिणाम आएंगे तो बीजेपी प्रचंड बहुमत के साथ जनता का आशीर्वाद प्राप्त करने में सफल होगी. इसमें कोई संदेह नहीं होना चाहिए. कोरोना में हम सावधानी जरूर रखें.

योगी ने कहा कि पिछले 5 सालों के दौरान प्रदेश की जनता के हितों के लिए उनके जीवन में परिवर्तन लाने के लिए, यूपी के समग्र विकास के लिए जो किया है उस पर जनता का आशीर्वाद मिलेगा और बीजेपी की सरकार बनेगी ये मेरा विश्वास है.

बाकी नेता क्या कह रहे हैं?

कांग्रेस नेता हरीश रावत ने कहा कि हम उत्तराखंड के लिए चुनाव की तारीखों की घोषणा का स्वागत करते हैं. कांग्रेस हमेशा आचार संहिता और चुनाव आयोग द्वारा निर्धारित दिशा-निर्देशों का पालन करती है.सत्ता पक्ष और अन्य दलों के लिए नियम समान होने चाहिए. हम उत्तराखंड में भाजपा की विदाई की घंटी बजाने के लिए पूरी तरह तैयार हैं. कांग्रेस सभी 70 सीटों पर चुनाव लड़ेगी.

पंजाब के कैबिनेट मंत्री राज के वेरका ने कहा कि कांग्रेस चुनाव आयोग के निर्देशों का स्वागत करती है. हम चाहते थे कि चुनाव आयोग COVID दिशा-निर्देशों पर सख्त नियम लागू करे, जो उन्होंने किया है. मुझे यकीन है कि पंजाब बड़ी संख्या में मतदान करेगा. हम सोशल मीडिया, टीवी और अन्य मीडियाके माध्यम से अपने घोषणापत्र को बढ़ावा देंगे.

वहीं शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि पंजाब के लोग शांति और सांप्रदायिक सद्भाव के लिए प्रतिबद्ध एक मजबूत, स्थिर और विकासोन्मुखी SAD-BSP सरकार का बेसब्री से प्रतीक्षा कर रहे हैं. वर्तमान शासकों ने शासन को सर्कस का मजाक बना दिया था. सब कुछ खत्म होने पर लोग राहत की सांस लेंगे.


नेता-नगरी: PM मोदी की सुरक्षा में हुई चूक का असली जिम्मेदार कौन है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

जानकारों ने जहांगीरपुरी में निकले जुलूस पर सवाल उठाए हैं.

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

मौजूदा आर्मी चीफ मनोज मुकुंद नरवणे के रिटायर्ड होने पर पदभार संभालेंगे.

LIC का IPO: सरकार अब जो करने जा रही है उससे छोटे निवेशकों को फायदा है

LIC का IPO: सरकार अब जो करने जा रही है उससे छोटे निवेशकों को फायदा है

LIC के IPO में बहुत कुछ बदलने जा रहा है. अगले हफ्ते आ सकता है अपडेटेड प्रॉस्पेक्टस.

RBI की इस पहल से सभी एटीएम से बिना कार्ड कैश निकलेगा!

RBI की इस पहल से सभी एटीएम से बिना कार्ड कैश निकलेगा!

अभी ये सुविधा कुछ ही बैंको तक सीमित है.

'शराबी' खिलाड़ी की जानलेवा हरकत की वजह से मरते-मरते बचे थे युजवेंद्र चहल, अब किया खुलासा

'शराबी' खिलाड़ी की जानलेवा हरकत की वजह से मरते-मरते बचे थे युजवेंद्र चहल, अब किया खुलासा

2013 की बात है जब चहल मुंबई इंडियन्स की तरफ से खेलते थे.

आकार पटेल के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर जारी करने वाली CBI अब उनसे माफी मांगेगी

आकार पटेल के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर जारी करने वाली CBI अब उनसे माफी मांगेगी

कोर्ट ने आकार पटेल को बड़ी राहत दी है.

भारत में कोरोना के XE Variant का पहला केस मिलने के दावे पर सरकार ने क्या कहा?

भारत में कोरोना के XE Variant का पहला केस मिलने के दावे पर सरकार ने क्या कहा?

ये वेरिएंट कितना खतरनाक है, ये भी जान लें.

लल्लनटॉप अड्डा: 9 अप्रैल को मचने वाले धमाल का पूरा शेड्यूल पढ़ लो!

लल्लनटॉप अड्डा: 9 अप्रैल को मचने वाले धमाल का पूरा शेड्यूल पढ़ लो!

हंसी होगी, संगीत होगा और होंगे सौरभ द्विवेदी!

ED ने किन मामलों में सत्येंद्र जैन और संजय राउत के परिवारों की करोड़ों की संपत्ति कुर्क की है?

ED ने किन मामलों में सत्येंद्र जैन और संजय राउत के परिवारों की करोड़ों की संपत्ति कुर्क की है?

कार्रवाई पर संजय राउत भड़क गए हैं.

यूपी सरकार के लिए गोरखनाथ मंदिर हमला 'आतंकी घटना', हमलावर के पिता ने क्या बताया?

यूपी सरकार के लिए गोरखनाथ मंदिर हमला 'आतंकी घटना', हमलावर के पिता ने क्या बताया?

यूपी सरकार ने आरोपी के खिलाफ तगड़ी जांच के आदेश दे दिए हैं.