Submit your post

Follow Us

6 दिसंबर को क्या होने वाला है अर्जुन कपूर ने बताया

डायरेक्टर आशुतोष गोवारिकर की अगली पीरियड ड्रामा फिल्म ‘पानीपत’ का पोस्टर आ चुका है. फिल्म की कहानी ‘पानीपत’ की तीसरी लड़ाई पर बेस्ड है. फिल्म में संजय दत्त, अर्जुन कपूर और कृति सेनन लीड रोल में हैं. जबकि पद्मिनी कोल्हापुरी, मोहनीश बहल और जीनत अमान भी इस फिल्म का हिस्सा होंगे. अर्जुन कपूर ने अपने ट्विटर हैंडल से ये पोस्टर शेयर किया है.

अर्जुन ने लिखा :

आएं और उस युद्ध के गवाह बनें जिसने इतिहास बदल दिया. 6 दिसंबर को सिनेमाघरों में.

पोस्टर में घोड़े, तलवारें, सैनिक और युद्ध नजर आ रहे हैं. टैगलाइन है- वो लड़ाई जिसने इतिहास बदल दिया. फिल्म की रिलीज डेट भी कंफर्म हो गई है- 6 दिसंबर 2019.

‘पानीपत’ का युद्ध मराठा सदाशिव राव भाऊ और अफगानिस्तान के शासक अहमद शाह अब्दाली के बीच 1761 में लड़ा गया था. फिल्म में संजय दत्त अफगानी शासक के किरदार में हैं. अर्जुन कपूर का रोल सदाशिव राव भाऊ का है. अर्जुन ने इस फिल्म में अपने किरदार के लिए बॉडी पर काफी मेहनत की है. उन्होंने फिल्म के लिए अपना लुक भी बदला है और बालों को शेव किया है. इसके अलावा कृति और उन्होंने तलवार चलाने की ट्रेनिंग भी ली है.

2016 में आई 'मोहनजो दारो' के बाद ये आशुतोष गोवारिकर की अगली पीरियड ड्रामा है.
2016 में आई ‘मोहनजो दारो’ के बाद ये आशुतोष गोवारिकर की अगली पीरियड ड्रामा फिल्म है.

अब बात करते हैं फिल्म क्लैश की. 6 दिसंबर को ‘पानीपत’ के अलावा में पति पत्नी और वो रिलीज हो रही है. ये एक रोमांटिक कॉमेडी है, जिसमें कार्तिक आर्यन, अनन्या पांडे और भूमि पेडनेकर लीड रोल में हैं.

अगर ‘बाला’ और ‘उजड़ा चमन’ की कॉन्ट्रोवर्सी को याद करें, तो इन फिल्मों के साथ अच्छी बात ये है कि दोनों का ज़ॉनर बिल्कुल अलग है. आशुतोष गोवारिकर की पिछली पीरियड ड्रामा बॉक्स ऑफिस पर कोई कमाल नहीं दिखा सकी थी. वहीं कार्तिक आर्यन की पिछली फिल्मों के हिट होने के बाद उनके फैन्स को इस फिल्म का बेसब्री से इंतजार है. रिजल्ट 6 दिसंबर को ही आएगा.


Video : शाहरुख खान के कारण अमिताभ बच्चन के घर एक बड़ा हादसा होते-होते रह गया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

मंत्री मुख़्तार अब्बास नकवी बोले-तबलीगी जमात की वजह से लॉकडाउन बढ़ाना पड़ा

ये भी कहा-तबलीग़ियों का गुनाह हिंदुस्तान के मुसलमानों का का गुनाह नहीं है.

कोरोना का नियम बदला, अब बिना टेस्ट ही घर भेजे जाएंगे कम बीमार मरीज

जानिए क्या है सरकार की नई गाइडलाइंस.

दवा बेची, समाजसेवा की, फिर पता चला ख़ुद ही कोरोना पॉज़िटिव हैं, अब जेल हो गई

बनारस के दवा व्यापारी ने कई लोगों को बांटा कोरोना.

क्या सोशल डिस्टेंसिंग से चूकने की इतनी बुरी सज़ा देगी पुलिस?

किसी एक पुलिसवाले का ऐसा करना बाकियों की मेहनत पर पानी फेर देता है.

उदयपुर में एक ही दिन में कोरोना वायरस के 58 केस सामने आए

राजस्थान में मरीज़ों की संख्या तीन हज़ार से ऊपर पहुंच चुकी है.

सूरत: BJP कार्यकर्ता पर आरोप, घर पहुंचाने के नाम पर मजदूरों से पैसे लिए, टिकट मांगने पर पीटा!

एक अन्य वीडियो में BJP पार्षद के भाई टिकट के ज्यादा पैसे लेते दिखे.

जिस फ़ैक्टरी से निकली गैस ने तबाही मचाई, उसे क्लीयरेंस ही नहीं मिला था!

आबादी के बीच बना रहे थे स्टायरीन प्रोडक्ट.

रेड जोन में भी जल्द से जल्द लॉकडाउन खत्म करने के पक्ष में क्यों हैं मोंटेक सिंह अहलूवालिया?

बोले- लॉकडाउन की वजह से सबसे ज्यादा प्रभावित गरीबों के लिए सरकार योजना लाए.

राहुल गांधी बोले- कोरोना से लड़ाई में एक मजबूत PM काफी नहीं, कई मजबूत CM और DM की जरूरत

कहा- सरकार को 17 मई के बाद लॉकडाउन खोलने के लिए स्ट्रैटेजी तय करनी ही होगी.

थके हुए मज़दूर रेल की पटरी पर सो रहे थे, मालगाड़ी से कुचलकर 16 की मौत

सुबह मजदूरों के शव पटरी पर बिखरे पड़े थे.