Submit your post

Follow Us

तबलीगी जमात के जलसे पर एआर रहमान, नवाज़ुद्दीन और जावेद अख्तर ने क्या कहा?

लॉकडाउन के बीच दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके में तबलीगी जमात में शामिल हुए लोगों पर बॉलीवुड सेलेब्रिटी के रिएक्शन भी आ रहे हैं. एआर रहमान, नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी, जावेद अख्तर, फराह खान और ऋषि कपूर जैसे एक्टर्स ने इसे गलत मानते हुए लोगों से सरकार के निर्देश मानने की अपील की है. इनमें से ज्यादातर सेलेब्स ने सोशल मीडिया के जरिये अपनी बात रखी.

म्यूजिशियन एआर रहमान ने 1 अप्रैल को ट्विटर पर एक बड़ा सा पोस्ट शेयर किया. इसमें उन्होंने लिखा,

ये मैसेज डॉक्टरों, नर्सों और अस्पतालों में काम करने वाले सभी कर्मचारियों को शुक्रिया कहता है, जो इस वक्त दिलेरी और निस्वार्थ होकर काम कर रहे हैं.

ये किसी का भी दिल को छूने के लिए काफी है कि ये किस तरह इस महामारी से लड़ने के लिए तैयार खड़े हैं. हमारी जिंदगी बचाने के लिए ये अपनी जिंदगी को खतरे में डाल रहे हैं.

यह हमारे आपसी मतभेदों को भूलकर इस अदृश्य दुश्मन के खिलाफ एकजुट होने का समय है, जिसने पूरी दुनिया में तबाही मचा रखी है. यह समय है जब मानवता और आध्यात्मिकता की खूबसूरती पर हमें अमल करना चाहिए. अपने पड़ोसियों, वरिष्ठ नागरिकों, गरीबों और प्रवासी श्रमिकों की मदद करें.

ईश्वर आपके दिल में है. इसलिए यह धार्मिक स्थलों में इकट्ठा होकर अराजकता फैलाने का समय नहीं है. सरकार की सलाह मानें. कुछ हफ्तों का सेल्फ आइसोलेशन आपको जिंदगी के कई साल दे सकता है. वायरस को नहीं फैलाए और अपने साथियों को नुकसान पहुंचाने की वजह न बनें.

यह बीमारी आपको चेतावनी नहीं देती है कि ये आपको लग चुकी है. यह झूठी अफवाहें फैलाने और अधिक चिंता और घबराहट पैदा करने का समय नहीं है. दयावान और विचारशील बनें. लाखों लोगों की जिंदगी हमारे हाथों में है.

एआर रहमान ने इस पोस्ट में तबलीगी जमात के उसी धार्मिक कार्यक्रम की ओर इशारा किया है जिसमें शामिल होने वाले सैकड़ों लोगों पर कोरोना संक्रमण का खतरा मंडरा रहा है. एआर रहमान खुद भी आइसोलेटेड हैं. उन्होंने कोरोना की वजह से इस साल अप्रैल और मई में होने वाला नॉर्थ अमेरिका का म्यूजिक टूर कैंसिल कर दिया है.

नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी ने भी इंडिया टीवी से इस मुद्दे पर बात की. उन्होंने कहा,

मैं तो सिर्फ इतना कहना चाहता हूं कि अगर सरकार ने कहा है तो लॉकडाउन मतलब लॉकडाउन. इससे फर्क नहीं पड़ता कि आप कौन हैं, किस धर्म के हैं. ऐसा न करके आप अपनी जिंदगी के साथ तो खिलवाड़ कर ही रहे हैं. साथ में न जाने कितनी और जिंदगियों को खतरे में डाल रहे हैं.

जावेद अख्तर ने भी तबलीगी जमात में इकट्ठा हुए लोगों की आलोचना करते हुए ट्वीट किया. उन्होंने लिखा,

ताहिर महमूद साहेब जो कि एक स्कॉलर और अल्पसंख्यक आयोग के पूर्व अध्यक्ष हैं, उन्होंने कहा है कि दारूल उलूम देवबंद कोरोना काल खत्म होने तक के लिए मस्जिदों को बंद करने का फतवा जारी करे. मैं पूरी तरह से उनकी इस मांग का समर्थन करता हूं. अगर काबा और मदीना की मस्जिद बंद की जा सकती है तो भारत की मस्जिदों को क्यों बंद नहीं किया जा सकता?

 

फराह खान अली ने ट्वीट करते हुए तबलीगी जमात के जलसे को बहुत गैरजिम्मेदाराना बताया. उन्होंने लिखा,

तबलीगी जमात का ऐसे वक्त में हुजुम इकट्ठा करना बहुत गैर जिम्मेदाराना है. धार्मिक मुद्दा नहीं बना रही, लेकिन इस महामारी के वक्त किसी भी धार्मिक या राजनैतिक प्रमुखों द्वारा किसी भी धर्म के प्रचार को प्रोत्साहित करना सामाजिक तौर पर गैरजिम्मेदारी है.

क्या है मामला?

तबलीगी जमात की शुरुआत 13 मार्च से हुई. इसका आयोजन निजामुद्दीन इलाके की आलमी बंगलेवाली मस्ज़िद में हुआ. यही तबलीगी जमात का मरकज़ यानी सेंटर है. 13 तारीख को शुरू होने के बाद हर रोज़ लोग इसमें शामिल होने आते रहते हैं. साथ ही शामिल हो चुके लोग जाते रहते हैं. जनता कर्फ्यू यानी 22 मार्च तक यही सिलसिला चल रहा था. इसके बाद लोग बड़ी संख्या में अपने-अपने राज्यों को चले गए. तो ऐसे में उन्हें खोजा जा रहा है. ताकि उन्हें क्वारंटीन किया जा सके.


Video : लॉकडाउन में क्या कर रहे बॉलीवुड सेलिब्रिटिज?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

मोदी सरकार ने भ्रष्टाचार रोकने वाले इस क़ानून को जरूरी बनाने की बात से पलटी मार ली

मोदी सरकार ने भ्रष्टाचार रोकने वाले इस क़ानून को जरूरी बनाने की बात से पलटी मार ली

और यह जानकारी ख़ुद सरकार ने दी है.

किसान कर्फ्यू से पहले किसानों ने कहां-कहां ट्रेन रोक दी है?

किसान कर्फ्यू से पहले किसानों ने कहां-कहां ट्रेन रोक दी है?

कई ट्रेनों को कैंसिल किया गया, कई के रूट बदले गए.

केंद्रीय मंत्री सुरेश अंगड़ी का कोविड-19 से निधन

केंद्रीय मंत्री सुरेश अंगड़ी का कोविड-19 से निधन

दिल्ली के एम्स में उनका इलाज चल रहा था.

धोनी का वर्ल्ड कप जिताने वाला सिक्सर याद है! वो अब स्टेडियम में अमर होने वाला है

धोनी का वर्ल्ड कप जिताने वाला सिक्सर याद है! वो अब स्टेडियम में अमर होने वाला है

भारत में किसी खिलाड़ी को जो मुकाम हासिल नहीं हुआ, वो अब धोनी को मिलने वाला है.

अंतरिक्ष में भी लद्दाख जैसी हरकतें कर रहा है चीन

अंतरिक्ष में भी लद्दाख जैसी हरकतें कर रहा है चीन

भारत के सैटेलाइट पर है ख़तरा!

चुनाव लड़ने के लिए गुप्तेश्वर पांडे ने दूसरी बार पुलिस सेवा से रिटायरमेंट ले ली है

चुनाव लड़ने के लिए गुप्तेश्वर पांडे ने दूसरी बार पुलिस सेवा से रिटायरमेंट ले ली है

2009 में भी गुप्तेश्वर पांडे ने वीआरएस लिया था, पर तब बीजेपी ने टिकट नहीं दिया था.

दिल्ली दंगे के लिए पुलिस ने अब इस ग्रुप को जिम्मेदार ठहराया है

दिल्ली दंगे के लिए पुलिस ने अब इस ग्रुप को जिम्मेदार ठहराया है

चार्जशीट में दिल्ली पुलिस ने और क्या कहा है?

किस बात पर पंजाब में सनी देओल के 'सामाजिक बहिष्कार' की बात हो रही है?

किस बात पर पंजाब में सनी देओल के 'सामाजिक बहिष्कार' की बात हो रही है?

कुछ लोग कह रहे हैं कि अपने गांवों में घुसने नहीं देंगे.

एक्ट्रेस के यौन शोषण के इल्ज़ाम पर अनुराग कश्यप का जवाब आया है

एक्ट्रेस के यौन शोषण के इल्ज़ाम पर अनुराग कश्यप का जवाब आया है

पायल घोष ने आरोप लगाया है.

चीन की इंटेलीजेंस को गोपनीय रिपोर्ट्स भेजने के आरोप में चीन की महिला सहित पत्रकार गिरफ्तार

चीन की इंटेलीजेंस को गोपनीय रिपोर्ट्स भेजने के आरोप में चीन की महिला सहित पत्रकार गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस ने कई सारे मोबाइल फोन, लैपटॉप समेत कई सेंसिटिव दस्तावेज भी बरामद किए हैं.