Submit your post

Follow Us

नाबालिग को 6 दिन कैद में रखा, रेप किया और फिर बदहवास हालात में छोड़ दिया

बीते एक महीने में देशभर से दरिंदगी की कई ख़बरें आपने देखीं और सुनीं. बार-बार प्रशासन की विफलता समाने आई. खासतौर पर हिंदी भाषी राज्यों में. ऐसी ही एक और वारदात सामने आई है. अबकी यह हिंसा हुई है देश के दक्षिणी राज्य आंध्र प्रदेश में. अपराध इतना वीभत्स है कि कोई सुनकर ही दहल जाए. 17 साल की नाबालिग लड़की का 6 लोगों ने आंध्र के अंगोले जिले में लगातार 6 दिन तक रेप किया. पीड़िता को 6 दिनों बाद आरोपियों ने छोड़ा और किसी को भी कुछ ना बताने की धमकी दी. बताने पर जान से मारने की धमकी दी. आरोपियों से छूटने के बाद वो गलियों में बदहवास और सहमी हुई नज़र आई. यहां पुलिस की ‘शक्ति’ टीम की नज़र इस लड़की पर पड़ी. यहीं से पुलिस ने लड़की को रेस्कयू किया.

#पूरा मामला

16 जून को नाबालिग लड़की अपने घर से गुंटूर जाने के लिए निकली. उसे अंगोले बस स्टैंड पर किसी दोस्त से मिलना था. शाम 7 बजे के क़रीब वो दोस्त का इंतजार करने के लिए बस स्टैंड पर रुकी थी. अकेली थी. दोस्त से संपर्क करने के लिए उसने पास की एक टेलिफोन शॉप पर काम करने वाले शाइक बाजी से मदद मांगी. बस, दरिंदे ने इसी बात का फायदा उठाया. लड़की को अकेली पाकर शाइक ने उसे ज़बरदस्ती दुकान के अंदर खींच लिया. रेप किया और रात भर दुकान के अंदर रखा. सुबह होने पर लड़की किसी तरह से बचकर निकलने में कामयाब रही. लेकिन शाइक के एक और साथी ने पीड़िता को फिर पकड़ लिया, रेप किया और दुकान के पास ही एक फ्लैट में 22 जून तक बंद रखा. अपने 5 और दोस्तों के साथ मिलकर दरिंदगी करता रहा. हालात देखिए कि नाबालिग लड़की के साथ ये सब करने वाला शाइक का दोस्त खुद नाबालिग है. इस पूरी घटना में शाइक बाजी, रवुला श्रीकांत रेड्डी और पार्थ महेश समेत 3 नाबालिग शामिल थे. 22 जून को इन्हीं आरोपियों में से एक नाबालिग लड़का अंगोले बस स्टैंड पर पीड़िता को छोड़ गया. धमकी दी कि अगर किसी को कुछ भी बताया तो जान से मार दिया जाएगा. जिले के एसपी सिद्धार्थ कौशल ने इस जानकारी की तस्दीक की.

आरोपियों को पकड़ने वाली पुलिस टीम. फोटो साभार- Facebook/Prakasam Police
आरोपियों को पकड़ने वाली पुलिस टीम. फोटो साभार- Facebook/Prakasam Police

आंध्र की महिला पुलिस टीम शक्ति ने लड़की को गलियों में घूमते हुए देखा तो उसे अस्पताल ले जाकर उसका इलाज कराया. पुलिस ने आईपीसी की धारा 343 (अवैध तरीके से कैद करना) धारा 376 (D) गैंगरेप और पोक्सो एक्ट 2012 की धारा 6 के तहत मामला दर्ज करके कार्रवाई शुरू कर दी है. सभी आरोपी पुलिस की गिरफ्त में हैं. पीड़िता को सरकारी वेल्फेयर होम में भेज दिया गया है.


वीडियो- बीजेपी विधायक टी राजा कुछ और कह रहे थे, पुलिस ने वीडियो दिखा दिया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

20 अप्रैल से कौन-कौन से लोग अपना काम-धंधा शुरू कर सकते हैं?

और खाने-पीने के सामान को लेकर सरकार ने क्या कहा?

लॉकडाउन के बीच ज़रूरी सामान भेजना है? बस एक कॉल पर हो जाएगा काम

रेलवे अधिकारियों ने शुरू की है 'सेतु' सर्विस.

सड़क पर मजदूरों संग खाना खाने वाले अर्थशास्त्री ने सरकार को कमाल का फॉर्मूला सुझाया है

कोरोना और लॉकडाउन ने मजदूर को कहीं का नहीं छोड़ा.

सरकार की नई गाइडलाइंस, जानिए किन इलाकों में, किन लोगों को लॉकडाउन से छूट

कोरोना से निपटने के लिए लॉकडाउन पहले ही बढ़ाया जा चुका है.

टेस्टिंग किट की बात पर राहुल गांधी ने भारत की तुलना किन देशों से की?

कहा, 'हम पूरे खेल में कहीं नहीं हैं.'

चीन से भारत के लिए चली टेस्टिंग किट की खेप अमरीका निकल गयी!

और अभी तक भारत में नहीं शुरू हो पाई मास टेस्टिंग.

कोरोना: मरीजों की खातिर बेड और लैब के लिए कितना तैयार है भारत, PM मोदी ने बताया

लॉकडाउन बढ़ाने के अलावा पीएम ने क्या-क्या कहा?

15 अप्रैल को लॉकडाउन-2 की जो गाइडलाइंस आनी हैं, उनमें क्या-क्या हो सकता है

पूरे देश में 3 मई तक लॉकडाउन बढ़ चुका है.

सुप्रीम कोर्ट ने बता दिया है कि किन लोगों का कोरोना वायरस टेस्ट फ्री में होगा

प्राइवेट लैब भी नहीं ले सकेंगे इनसे पैसा.

PM CARES Fund पर लगातार उठ रहे सवाल, अब हिसाब-किताब की होगी जांच

वकील ने PM Cares फंड को रद्द करने की मांग की है.