Submit your post

Follow Us

PPE किट की कमी का विरोध करने पर सस्पेंड चल रहे डॉक्टर को पुलिस ने क्यों पीटा?

आंध्र प्रदेश सरकार और पुलिस निशाने पर है. इसकी वजह है एक डॉक्टर को पीटना और सड़क पर हाथ बांधकर घसीटना, सोशल मीडिया पर डॉक्टर की पिटाई का वीडियो सामने आने के बाद से विपक्षी दल हमलावर है. बता दें कि जिस डॉक्टर की पिटाई हुई उन्हें पिछले महीने सस्पेंड कर दिया गया था. उन्होंने अस्पतालों में पीपीई किट और मास्क की कमी को लेकर विरोध जताया था.

अप्रैल में सस्पेंड हुए थे डॉ. सुधाकर

डॉक्टर का नाम के. सुधाकर है. वे नरसीपटनम के सरकारी अस्पताल में कार्यरत थे. 7 अप्रैल को पीपीई किट की मांग को लेकर उनका वीडियो सामने आया था. उन्होने सरकार पर पर्याप्त पीपीई किट मुहैया न कराने का आरोप लगाया. इसके बाद उन्हें सस्पेंड कर दिया गया. अब वे फिर से खबरों में हैं.

16 मई को पुलिस ने उन्हें सड़क पर बदतमीजी करने के आरोप में पकड़ा और पीटा. पुलिस का कहना है कि डॉ. सुधाकर ने शराब पी रखी थी. वे बिना वजह घर से बाहर निकले. वे सड़क पर हंगामा कर रहे थे और सरकार को गालियां दे रहे थे.

कंट्रोल रूम में आई थी शिकायत

पुलिस कमिश्नर आरके मीणा ने बताया कि पुलिस कंट्रोल रूम को एक शिकायत मिली. इसमें बताया गया कि एक व्यक्ति हाइवे पर हंगामा कर रहा है. इस पर फॉर्थ टाउन थाना पुलिस को भेजा गया. वहां पर हंगामा करने वाले व्यक्ति की पहचान डॉ. सुधाकर के रूप में हुई. उन्होंने शराब पी रखी थी. उन्होंने पुलिसवालों के साथ बदतमीजी की. एक कॉन्स्टेबल से उन्होंने मोबाइल छीन लिया और उसे सड़क पर फेंक दिया.

डॉ. पर बाइक सवार को टक्कर मारने का आरोप

पुलिस का आरोप है कि शराब के नशे में डॉ. ने एक बाइक सवार को टक्कर भी मार दी. जब उन्हें रोका गया तो वे पुलिस से उलझ गए. उन्होंने सड़क पर खाना फेंक दिया. साथ ही अपनी शर्ट भी उतार दी और चिल्लाने लगे. बड़ी मुश्किल से उन्हें काबू किया गया. 

इस घटना का वीडियो, मौके पर मौजूद लोगों ने बना लिया. इसमें दिख रहा है कि डॉ. सुधाकर को पकड़ने के दौरान एक पुलिसवाला डंडे मार रहा है. बाद में उन्हें एक ऑटो में बैठाकर थाने भेज दिया गया.

पुलिस कमिश्नर ने कहा कि डॉक्टर से बदतमीजी करने वाले पुलिस कॉन्सटेबल को सस्पेंड कर दिया गया. साथ ही मामले की जांच के आदेश भी दिए गए हैं. वहीं डॉ. को मेडिकल जांच के लिए अस्पताल भेजा गया. विपक्षी दलों ने पुलिस की कार्रवाई की निंदा की है. उन्होंने कानून-व्यवस्था के मसले पर सरकार को निशाने पर भी लिया.

भारत में कोरोना वायरस के मामलों का स्टेटस


Video:BJP सांसद प्रवेश वर्मा ने फेक वीडियो पोस्ट किया, तो दिल्ली पुलिस ने फटकार लगा दी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

चोटिल बेटे को खटिया पर लादकर 900 किमी दूर घर के लिए निकल पड़ा ये मज़दूर

पंजाब से चला था परिवार, मध्य प्रदेश जाना था.

20 लाख करोड़ के राहत पैकेज की आख़िरी किश्त में मनरेगा को 40 हजार करोड़, अन्य को क्या मिला?

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सात सेक्टर्स के लिए घोषणाएं कीं.

यूपी: औरैया में दो ट्रक टकराने से 24 मज़दूर मारे गए, योगी ने कई पुलिसवालों को सस्पेंड किया

पीएम मोदी ने घटना पर शोक जताया है.

घर-घर खाना पहुंचाने वाली ये कंपनी 600 कर्मचारियों को नौकरी से निकाल रही है

राहत वाली बात ये है कि छह महीने तक आधी सैलरी मिलती रहेगी.

बंगाल में हफ्तेभर से क्या बवाल चल रहा है, जिसमें 129 लोग गिरफ्तार हो चुके हैं

‘तुम कोरोना फैला रहे हो’ कहकर हमला किया, हिंसा भड़की.

लंबे वक्त तक क्रिकेट के नक्शे पर पाकिस्तान को जिंदा रखा था इस जोड़ी ने

वो दिन, जब मिस्बाह-उल-हक़ और यूनिस खान ने क्रिकेट को अलविदा कहा

कश्मीर : चेकप्वाइंट पर गाड़ी नहीं रोकी तो आम नागरिक को CRPF ने गोली मार दी?

क्या है घटना का सच?

रेलवे ने टिकट कटा चुके लोगों को बड़ा झटका दिया है

इसका श्रमिक और स्पेशल ट्रेनों पर क्या असर पड़ेगा?

20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज में से पहले दिन वित्त मंत्री ने क्या-क्या ऐलान किया?

20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज की डिटेल दी.

पीएम मोदी ने जिस Y2K क्राइसिस का ज़िक्र किया, वो क्या था?

पीएम ने 12 मई को देश को संबोधित किया.