Submit your post

Follow Us

पति को मारने की सुपारी दी थी, किलर का दिल पसीजा तो औरत के खिलाफ ही FIR करवा दी

5
शेयर्स

पंजाब के अमृतसर से एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसे पढ़कर आपको पहली बार में तो यकीन ही नहीं होगा. यहां एक औरत ने अपने पति को जान से मारने के लिए एक किलर को सुपारी दी, लेकिन उसका पासा उल्टा ही पड़ गया. क्योंकि सुपारी किलर का दिल पसीज गया, और उसने औरत के पति को नहीं मारा, बल्कि अपने एक दोस्त को इस बारे में खबर दी. फिर ये मामला पुलिस तक पहुंच गया. अब सुपारी देने वाली औरत खुद पुलिस की गिरफ्त में है.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, औरत का नाम नरिंदर कौर डुवारा है. उसके पति का नाम बख्शीश है. वो सरकारी नौकरी करता है. नरिंदर के ऊपर बहुत सारा कर्जा था. वो उसे चुकाना चाहती थी, लेकिन उसका पति उसे पैसे नहीं देता था. इसलिए नरिंदर ने अपने एक दोस्त के साथ मिलकर बख्शीश के मर्डर की प्लानिंग की. ये भी खबर है कि नरिंदर ने जिस दोस्त के साथ मिलकर प्लानिंग की थी, वो उसका बॉयफ्रेंड था.

नरिंदर की योजना ये थी कि अगर बख्शीश की मौत हो जाएगी, तो वो उसकी सारी प्रॉपर्टी हड़प लेगी और कर्जा उतर जाएगा. इस प्लानिंग को सफल बनाने के लिए नरिंदर और उसके दोस्त ने एक आदमी को सुपारी दी. लेकिन उस आदमी को जैसे ही बख्शीश के बारे में पता, उसका दिल पसीज गया. उस आदमी ने इसके बारे में अपने दोस्त को बताया, कहा कि जल्द से जल्द इसके बारे में कुछ किया जाए, नहीं तो एक बेकसूर मारा जाएगा. दोस्त ने ये बात पुलिस को बताई.

शिकायत मिलने पर पुलिस ने नरिंदर और उसके बॉयफ्रेंड को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस के पास एक ऑडियो क्लिप भी है, जिसमें नरिंदर अपने पति के मर्डर की सुपारी देते सुनाई दे रही है. इस मामले में अभी जांच चल रही है. बख्शीश अभी सुरक्षित है.


वीडियो देखें:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

जामिया और AMU में पुलिस की कार्रवाई पर सुप्रीम कोर्ट ने क्या कहा?

15 दिसंबर को दोनों यूनिवर्सिटीज़ में पुलिस ने कार्रवाई की थी.

मऊ: नागरिकता संशोधन क़ानून के विरोध प्रदर्शन में लोगों ने पुलिस थाने में आग लगा दी

अधिकारियों ने अब धारा 144 लगा दी है.

जामिया में हिंसक प्रोटेस्ट के बाद पूरे उत्तर प्रदेश में क्या चल रहा है?

उत्तर प्रदेश की कई जगहों पर धारा 144 लगा दी गई है.

CAA प्रोटेस्टः जामिया यूनिवर्सिटी के कैम्पस में घुसी पुलिस, डराने वाली तस्वीरें आ रही हैं

पुलिस की कार्रवाई में कई छात्र घायल.

लद्दाख और सियाचिन में तैनात जवानों को खाने की जरूरी चीजें भी नहीं मिल रहीं

CAG रिपोर्ट में सामने आई बात.

जामिया CAB प्रदर्शनः पुलिस के आंसू गैस गोले से छात्र का अंगूठा फट गया

जामिया में संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन तेज, परीक्षाएं आगे बढ़ीं.

नागरिकता कानून में हुए संशोधन पर संविधान एक्सपर्ट्स का क्या कहना है?

एक्सपर्ट्स का दावा, ये संशोधन संविधान के आर्टिकल 14, 5 और 11 का उल्लंघन है.

पासपोर्ट पर कमल छाप तो दिया लेकिन सरकार खुद इसे राष्ट्रीय फूल नहीं मानती

बवाल मचा तो सरकार ने कहा था राष्ट्रीय प्रतीकों को छाप रहे हैं.

16 दिसंबर को इस वजह से नहीं होगी निर्भया के चारों दोषियों को फांसी

सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई के बाद ही डेथ वारंट पर फैसला होगा.

CAB विरोध: असम में पुलिस की फायरिंग से दो की मौत, कर्फ़्यू मान नहीं रही है भीड़

तीन BJP विधायकों के घर पर हमला. मेघालय के भी कुछ इलाकों में कर्फ़्यू. तीन राज्य में इंटरनेट बंद.