Submit your post

Follow Us

बंगाल: क्या सुवेंदु अधिकारी ने जाने-अनजाने फोन टैपिंग का सच बता दिया है?

पेगासस मैलवेयर के ज़रिए पत्रकारों और नेताओं के फ़ोन हैक करने से जुड़ा विवाद अभी थमा नहीं था कि बंगाल में फ़ोन टैपिंग से जुड़ा एक नया मामला सामने आया है. और इस मामले के केंद्र में हैं पश्चिम बंगाल के नेता प्रतिपक्ष सुवेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari). इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, सुवेंदु अधिकारी ने दावा किया है कि उनके पास अपने गृह ज़िले पूर्वी मिदनापुर के पुलिस अधीक्षक अमरनाथ के और ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी के फ़ोन कॉल्स की रिकॉर्डिंग है. इस दावे के बाद सुवेंदु अधिकारी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है.

क्या बोले थे सुवेंदु?

सोमवार को पूर्वी मिदनापुर के तामलुक में एसपी कार्यालय के बाहर बीजेपी कार्यकर्ताओं की एक बैठक हुई थी. इसमें सुवेंदु अधिकारी भी शामिल हुए थे. कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए सुवेंदु ने ये दावा कर दिया कि एसपी अमरनाथ और ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी की बातचीत की रिकॉर्डिंग उनके पास है. खबर के मुताबिक सुवेंदु ने कहा,

“यहां एक युवा लड़का एसपी बनकर आया है. श्री अमरनाथ के. मुझे सब पता है कि वो क्या कर रहा है और क्या करना चाहता है. मैं एक अनुभवी खिलाड़ी हूं. मैं उसे बताना चाहता हूं, आप एक सेंट्रल कैडर के अधिकारी हैं. इसलिए किसी ऐसी चीज में लिप्त न हों जिसके लिए आपको कश्मीर के अनंतनाग या बारामूला में तैनात करना पड़ जाए. मेरे पास हर कॉल रिकॉर्ड है. उन सभी के फोन नंबर हैं जो आपको भतीजे (यानी अभिषेक बनर्जी) के कार्यालय से कॉल करते हैं. अगर आपके साथ राज्य सरकार है, तो हमारे साथ भी केंद्र सरकार है.”

Suvendu Adhikari
सुवेंदु अधिकारी की फ़ाइल फ़ोटो.

सुवेंदु ने ये टिप्पणी ऐसे समय में की है जब ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली टीएमसी सरकार ने उनके खिलाफ पहले से दर्ज़ कई मामलों में पुलिस जांच शुरू करवा दी है. पुलिस आमफ़ान तूफ़ान की राहत सामग्री से तिरपाल चोरी होने के मामले में उनकी कथित संलिप्तता की जांच कर रही है. वहीं, बंगाल की सीआईडी ने 2018 में सुवेंदु के एक सुरक्षा गार्ड की रहस्यमय हत्या की जांच शुरू कर दी है. अपनी टिप्पणी में सुवेंदु ने उन पर हो रही कार्रवाई का मुद्दा भी उठाया. नंदीग्राम से बीजेपी विधायक ने एसपी, ममता बनर्जी और उनके भतीजे अभिषेक बनर्जी पर तंज कसते हुए कहा,

“आप झूठे केस करके जिले में राष्ट्रवादी ताकतों को नहीं रोक सकते… मैं आईओ, ओसी और एसपी की भूमिका की सीबीआई जांच करने की मांग करूंगा. आपको कोई नहीं बचा पाएगा चाहे वो छोटोमोनी (अभिषेक) हो या पिशिमोनी (ममता).”

टीएमसी का जवाब

सुवेंदु की इस टिप्पणी पर टीएमसी ने पलटवार किया. पार्टी के प्रवक्ता कुणाल घोष ने सुवेंदु को ‘घोर अवसरवादी’ करार देते हुए ट्विटर पर लिखा,

“एलओपी (लिमिटलेस ऑपर्च्युनिस्ट) ने पुलिस से खुलकर कहा है कि उनके पास हमारे नेता के ऑफिस की कॉल लिस्ट और सारी रिकॉर्डिंग है. ये सबूत है कि फोन पर बात सुनी जा रही है. सीएम ममता बनर्जी और अभिषेक बनर्जी से निवेदन है कि तुरंत जांच शुरू करें और उनको हिरासत में लेकर पूछताछ करें ताकि पूरी साजिश का पर्दाफाश हो सके.”


इस बीच, मंगलवार 20 जुलाई को तामलुक पुलिस ने सुवेंदु अधिकारी के खिलाफ़ इसी मामले में एफ़आईआर दर्ज़ कर ली. खबर के मुताबिक, पुलिस ने सुवेंदु के ख़िलाफ़ ऑफ़िशीयल सीक्रेट्स ऐक्ट के तहत मुक़दमा दर्ज किया है.


वीडियो-बंगाल: नारद स्टिंग ऑपरेशन में तृणमूल के नेता गिरफ्तार लेकिन BJP के सुवेंदु और मुकुल रॉय कैसे बच गए?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

दूसरे वनडे में युजवेन्द्र चहल ने ऐसा क्या किया कि ट्रेंड कर गए?

दो गेंद, दो विकेट और श्रीलंका की कहानी खराब.

किसान आंदोलन के दौरान कितनी मौतें हुईं? सरकार का जवाब- नहीं पता

मारे गए किसानों के परिवारों को मुआवजा देने को लेकर सरकार का क्या कहना है?

जब देबाशीष मोहंती से परेशान होकर सचिन के पास आए सईद अनवर

विश्वकप 1999 लोगो में शामिल भारतीय बोलर की कहानी.

राज कुंद्रा मामले में एक्ट्रेस का पुराना वीडियो वायरल, 'न्यूड ऑडिशन' के आरोप लगाए थे

राज कुंद्रा को पुलिस ने अरेस्ट किया है.

लखनऊ के अस्पतालों का हाल, डॉक्टर नदारद, OT में मिलीं बियर की बोतलें

एक अस्पताल में तो B.Sc. डिग्रीधारी ही कर रहा था मरीजों का इलाज.

राज कुंद्रा के पोर्नोग्राफिक वीडियो बनाने और फैलाने के पीछे की पूरी कहानी

सबकुछ चुपचाप चल रहा था, तो पकड़े कैसे गए राज कुंद्रा?

पोर्नोग्राफी केस में गिरफ्तार हुए राज कुंद्रा को कोर्ट ने पुलिस हिरासत में भेज दिया

एक तरफ राज कुंद्रा गिरफ्तारी से परेशान हैं, तो दूसरी तरफ पब्लिक उनके ट्वीट्स वायरल कर रही है.

बकरीद पर छूट से खफा SC बोला, लोगों को महामारी में धकेल रही केरल सरकार

सुप्रीम कोर्ट ने विजयन सरकार को क्या चेतावनी दे डाली है?

पीएम मोदी की इज़रायल यात्रा के ठीक बाद शुरू हुई देश में ये 'जासूसी'?

कथित जासूसी वाली लिस्ट में और किन नए नामों का ख़ुलासा हुआ है?

साधुओं ने बच्चों से रास्ता पूछा तो पब्लिक ने बच्चा चोर समझकर ताबड़तोड़ पिटाई कर दी

मध्य प्रदेश के धार में साधुओं की पिटाई का विडियो वायरल.