Submit your post

Follow Us

अलीगढ़ के होटलों में क्वारंटीन हुए थे डॉक्टर, बिल देखकर अधिकारी बोले, 'पेमेंट हमसे ना हो पाएगा'

उत्तर प्रदेश का अलीगढ़ शहर. यहां के तीन होटलों में क्वारंटीन हुए डॉक्टर्स के रहने-खाने का बिल 50 लाख का बना है. मंगलवार, 28 जुलाई को कमिश्नरी में हुई समीक्षा बैठक में यह मामला सामने आया, तो अधिकारी हैरान रह गए. मालूम हुआ कि क्वारंटीन हुए 84 डॉक्टरों के 28 दिनों के होटल का बिल इतना भारी-भरकम आ गया है. अब अधिकारियों ने बिल पेमेंट करने से ही इनकार कर दिया है.

क्या है पूरा मामला

अलीगढ़ में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखकर यहां के जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज में डॉक्टर्स की कई टीमें बुलाई गई थीं. इनमें कुल 84 डॉक्टर थे. सभी को दो शिफ्ट में बांटा गया था. पहले शिफ्ट के 42 डॉक्टरों को 20 मार्च को होटल पॉम-ट्री और विकास होटल में 14 दिन के लिये रखा किया गया था. इसके बाद अगले शिफ्ट के 42 डॉक्टरों को होटल गैलेक्सी और होटल अली-इन में ठहराया गया था.

‘न्यूज 18’ की खबर के अनुसार, कुल 28 दिन तक बुक रहे इन चार होटलों में खाने-पीने और ठहरने का बिल 50 लाख का आया है. यानी प्रति डॉक्टर, हर दिन का खर्च करीब-करीब 2125 रुपये. इस पेमेंट को लेकर मेडिकल कॉलेज, स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन के बीच तनातनी का माहौल है.

फिलहाल संबधित अधिकारियों का कहना है कि इस तरह से पेमेंट कराना संभव नहीं है. अपर मुख्य सचिव (चिकित्सा एवं शिक्षा) डॉ. रजनीश दुबे ने कहा-

शासनादेश में इस तरह के खर्च के लिए बजट का कोई प्रावधान नहीं है, इसलिए पेमेंट करना संभव नहीं है. भविष्य में अवश्य इस तरह के खर्च के एवज में 50 रुपये प्रति डाक्टर के हिसाब से भुगतान की व्यवस्था की जा सकती है.

डेढ़ घंटे तक चली समीक्षा बैठक में इस फैसले से अब एएमयू प्रशासन सकते में है. इनमें से कई डॉक्टर एएमयू के जेएलएन मेडिकल कॉलेज के हैं और कुछ स्वास्थ्य विभाग के भी हैं. फिलहाल होटलों का पेमेंट अटका पड़ा है.



वीडियो देखें: म्यूजिक डायरेक्टर शेखर रवजियानी ने फाइव स्टार होटल में अंडे मंगवाए, बिल वायरल हो गया

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

मर्डर का दोषी पांच साल से बेल पर था, अब दिल्ली दंगों में परवेज़ की हत्या का आरोपी है

पांच साल पहले इलाहाबाद हाईकोर्ट ने ज़मानत दे दी थी.

केंद्र ने खड़े किए हाथ, कहा- राज्यों को GST में उनका हिस्सा देने की हालत नहीं

वित्त सचिव अजय भूषण पांडे ने ये बताया है.

सुशांत की मौत मामले में FIR के बाद रिया चक्रवर्ती के पास क्या-क्या लीगल ऑप्शन हैं?

सुशांत के पिता ने रिया के खिलाफ पटना में केस दर्ज कराया.

इंग्लैंड ने इस बोलर को पूरे पांच दिन खिलाया लेकिन गेंद छूने ही नहीं दी!

1945 के बाद इंग्लैंड में सिर्फ चौथी बार ऐसा हुआ है.

कानपुर में एक और कांड, अपहरण के बाद कुएं में मिली युवक की लाश

20 लाख की फिरौती मांगी गई थी.

इस तरह से 132 साल के इंतज़ार के बाद जीता है इंग्लैंड!

हार के बाद भी वेस्टइंडीज़ को पूरी दुनिया क्यों सलाम कर रही है?

पता है सुशांत सिंह राजपूत की 'दिल बेचारा' को पहले दिन कितने लोगों ने देखा!

'दिल बेचारा' पहले ही दिन 'दंगल' और 'बाहुबली 2' के लाइफटाइम कलेक्शन से आगे निकल गई.

शराबी चाचा ने नाबालिग को बंदूक दिया और बच्चे ने एक लड़के को मार दिया

मामला राजस्थान के भरतपुर का है.

ब्रॉड-एंडरसन की जोड़ी ने पलट दिया 143 साल का क्रिकेट इतिहास

आज से पहले ऐसा कभी नहीं हुआ था.

इस बल्लेबाज़ का 'जन्म' गेंदबाज़ों की खुशी में शरीक होने के लिए हुआ है!

ब्रॉड ने लिए 500 विकेट, एंडरसन का बिना कुछ किए ही नाम हो गया.