Submit your post

Follow Us

अखिलेश यादव के 'चिलमजीवी' वाले बयान पर उखड़े संत समाज ने उन्हें बड़ी धमकी दे दी है

अखिलेश यादव के ‘चिलमजीवी’ वाले बयान को लेकर बवाल मच गया है. बीजेपी तो अखिलेश यादव पर हमलावर है ही, संत समाज भी उन पर तगड़ा उखड़ गया है. धमकी भी दी है. लेकिन पहले जानिए अखिलेश यादव ने कहा क्या था.

बुधवार, 17 नवंबर को गाजीपुर जिले में एक जनसभा के दौरान अखिलेश यादव बोले,

जहां तक मैं देख पा रहा हूं, लोग ही लोग दिखाई दे रहे हैं. लाल पीला, हरा, नीला. सब रंग का इंद्र धनुष हमें दिखाई दे रहा है. लेकिन ये एक रंग वाले कहीं किसी के जीवन में रंग नहीं ला सकते. समाजवादी पार्टी का काम सब रंग वाले लोगों को साथ लेकर चलने का है. ये एक रंग के लोग, ये चिलमजीवी कभी उत्तर प्रदेश को खुशहाली के रास्ते पर नहीं ले जा सकते. और खुद (पीएम मोदी) तो चल रहे थे चार पहिए की गाड़ी में, और कोई (सीएम योगी) चल रहा था पैदल-पैदल. अभी तो जनता को करना है इन्हें पैदल. लेकिन ये तो पहले ही हो गए पैदल.

सीएम योगी का नाम लिए बिना अखिलेश ने उनके लिए चिलमजीवी शब्द का इस्तेमाल कर भगवा समर्थक दल और संत समाज को नाराज कर दिया है. उत्तर प्रदेश बीजेपी के अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने अखिलेश का वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा,

सूरज के तेज का रंग है भगवा, सुख-शांति का प्रतीक है भगवा. इस रंग से इतना डर गए? हिन्दू साधु-संतों के प्रति नफरत फैलाने का काम जोर-शोर से जारी है.

अखिल भारतीय संत समिति ने माफी की मांग की

वहीं दूसरी ओर अखिल भारतीय संत समिति ने अखिलेश यादव के इस बयान पर कड़ी आपत्ति जताई है. संत समाज से माफी मांगने के लिए कहा है. अखिल भारतीय संत समिति के राष्ट्रीय महामंत्री, स्वामी जीतेन्द्रानंद सरस्वती ने कहा,

अखिलेश यादव के इस अनर्गल बयान से आक्रोशित देश के सभी संत ऐसे सभी नेताओं को, जो लगातार सनातन धर्म, भगवा और संतों पर अपमानजनक टिप्पणी कर रहे हैं, चेताते हैं कि अपनी ओछी राजनीति में संतों को न घसीटें, अन्यथा सनातनियों के जन आक्रोश के रूप में दुष्परिणाम भुगतने पड़ेंगे.

उन्होंने आगे कहा,

संत समाज पूरे उत्तर प्रदेश में घर-घर जाकर ऐसे छद्म समाजवादी और कांग्रेस के नेताओं के खिलाफ जनजागरण अभियान चलाएगी जो लगातार सनातन हिन्दुओं और उनकी परंपराओं पर अनर्गल बयानबाजी कर रहे हैं. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सनातन परंपरा के अनुसार ही विश्व भर में पूजनीय और सम्मानित मठ के पीठाधीश्वर हैं.

जीतेन्द्रानंद सरस्वती ने कहा कि भारत में प्राचीन काल से धर्म सत्ता, राज सत्ता से हमेशा सर्वोपरि रही है. एक संत के मुख्यमंत्री पद पर आसीन होने भर से किसी को भी अधिकार नहीं मिल जाता कि उन्हें गन्दी राजनीति का शिकार बनाया जाए. उन पर निशाना साधने के लिए संत समाज पर आपत्तिजनक और निचले स्तर की टिप्पणियां की जाएं. अखिलेश यादव और राहुल गांधी जैसे नेता केवल अल्पसंख्यक तुष्टिकरण के चलते सनातन धर्म के विरुद्ध ऐसी ओछी टिप्पणियां कर रहे हैं.

स्वामी जीतेन्द्रानंद सरस्वती ने कहा कि अगर अखिलेश यादव क्षमा नहीं मांगते तो संत समाज सक्रिय रूप से पूरे देश मे घर घर जाकर इस ‘पितृ द्रोही, तथाकथित नेता’ के खिलाफ जन-समर्थन की अपील करेगा और इसका परिणाम उनको भुगतना ही होगा.


सोशल लिस्ट: मोदी-योगी ने ‘पूर्वांचल एक्सप्रेस वे’ का उद्घाटन किया लेकिन अखिलेश क्यों रूठ गए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

मृतक व्यक्ति पर नाबालिग से बलात्कार का आरोप था.

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5G के रोल आउट को लेकर दिक्कतें चालू.

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

बीमा कंपनी गाड़ी चोरी या दुर्घटनाग्रस्त होने का बहाना बनाए तो ये आदेश दिखा देना.

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

दबी जुबान में क्या कह रही है पुलिस?

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

जानेंगे बैंक FD में क्यों घट रही है लोगों की दिलचस्पी.

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

तौकीर रजा कांग्रेस पर आरोप लगा चुके हैं कि उसने मुसलमानों पर आतंकी का टैग लगाया.

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

जानिए UPA के समय हुई इस डील ने कैसे देश को शर्मसार किया.

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

बीबीसी का आरोप, टीम के साथ नरसिंहानंद के समर्थकों ने गाली-गलौज और धक्का-मुक्की की.

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

मुख्य आरोपी के साथ उसके दोस्तों को पुलिस ने पकड़ लिया है.

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

पार्टी के इस कदम से आहत हरक सिंह रावत मीडिया के सामने भावुक हो गए.