Submit your post

Follow Us

डॉक्टर ने लिखा- N95 मास्क को लेकर सरकार झूठ बोल रही है, AIIMS ने नोटिस थमा दिया

डॉक्टर राजकुमार श्रीनिवास. AIIMS में सीनियर रेसिडेंट डॉक्टर हैं. 25 मई को उन्होंने N-95 मास्क की गुणवत्ता को लेकर एक ट्वीट किया था, जिस पर अब उन्हें AIIMS रजिस्ट्रार ने कारण बताओ नोटिस भेजा है.

ट्वीट क्या था?

डॉ राजकुमार ने लिखा था,

‘हेल्थ मिनिस्ट्री और ICMR ने N-95 को लेकर जो जानकारी दी है वो झूठ है. यहां भारत में बनने वाले N-95 मास्क के साथ गुणवत्ता और मानकीकरण को लेकर काफी ज्यादा दिक्कतें हैं. अगर आप जर्नलिस्ट हैं और इस बारे में जानकारी पाना चाहते हैं तो मुझे डायरेक्ट मैसेज करें या फिर इस ट्वीट को रिट्वीट करें.’

इस ट्वीट पर 1 जून को उन्हें कारण बताओ नोटिस भेजा गया, जिसमें ये कहा गया कि अगर डॉ राजकुमार को कोई दिक्कत थी, तो उन्हें इंस्टीट्यूट को जानकारी देना था, वो सीधे पब्लिक प्लेटफॉर्म में क्यों चले गए, इससे इंस्टीट्यूट की छवि खराब होती है.

नोटिस में लिखा है,

‘डॉक्टर राजकुमार ने ट्वीट कर कहा है कि हेल्थ मिनिस्ट्री और ICMR ने N-95 मास्क से जुड़े जो आंकड़े दिए हैं, वो झूठ हैं. इसी ट्वीट में उन्होंने जर्नलिस्ट्स को भी इनवाइट किया था, ज्यादा जानकारी के लिए. उन्होंने अपने दावे के सपोर्ट में कोई सबूत भी नहीं दिए. वो AIIMS के सीनियर रेसिडेंट और रेसिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन के सेक्रेटरी हैं. इस पोस्ट पर रहने के नाते उनके शब्द लोगों को और हेल्थ केयर वर्कर्स को काफी प्रभावित कर सकते हैं. ऐसे वक्त में जहां देश इस महामारी से लड़ रहा है, इस तरह के बिना सबूत वाली बातें फ्रंटलाइन में कोरोना से लड़ रहे हेल्थ केयर स्टाफ के हिम्मत को कम कर सकते हैं. उनमें अपनी सुरक्षा को लेकर संदेह पैदा हो सकता है.’

Aiims 1
AIIMS का नोटिस. (फोटो- ट्विटर@srinivasaiims)

नोटिस में लिखा गया है कि श्रीनिवास को 3 जून तक इसका जवाब देना होगा. और अगर उन्होंने ऐसा नहीं किया तो उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी.


वीडियो देखें: कोरोना सफ़र : दिल्ली की एक डॉक्टर ने कोरोना वैक्सीन और PPE किट के बारे में क्या बताया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

1 जून से लॉकडाउन को लेकर क्या नियम हैं? जानिए इससे जुड़े सवालों के जवाब

सरकार ने कहा कि यह 'अनलॉक' करने का पहला कदम है.

3740 श्रमिक ट्रेनों में से 40 प्रतिशत ट्रेनें लेट रहीं, रेलवे ने बताई वजह

औसतन एक श्रमिक ट्रेन 8 घंटे लेट हुई.

कंटेनमेंट ज़ोन में लॉकडाउन 30 जून तक बढ़ाया गया, बाकी इलाकों में छूट की गाइडलाइंस जानें

गृह मंत्रालय ने कंटेनमेंट ज़ोन के बाहर चरणबद्ध छूट को लेकर गाइडलाइंस जारी की हैं.

मशहूर एस्ट्रोलॉजर बेजान दारूवाला नहीं रहे, कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी

बेटे ने कहा- निमोनिया और ऑक्सीजन की कमी से हुई मौत.

लॉकडाउन-5 को लेकर किस तरह के प्रपोज़ल सामने आ रहे हैं?

कई मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि 31 मई के बाद लॉकडाउन बढ़ सकता है.

क्या जम्मू-कश्मीर में फिर से पुलवामा जैसा अटैक करने की तैयारी में थे आतंकी?

सिक्योरिटी फोर्स ने कैसे एक्शन लिया? कितना विस्फोटक मिला?

लद्दाख में भारत और चीन के बीच डोकलाम जैसे हालात हैं?

18 दिनों से भारत और चीन की फौज़ आमने-सामने हैं.

शादी और त्योहार से जुड़ी झारखंड की 5000 साल पुरानी इस चित्रकला को बड़ी पहचान मिली है

जानिए क्या खास है इस कला में.

जिस मंदिर के पास हजारों करोड़ रुपये हैं, उसके 50 प्रॉपर्टी बेचने के फैसले पर हंगामा क्यों हो गया

साल 2019 में इस मंदिर के 12 हजार करोड़ रुपये बैंकों में जमा थे.

पुलवामा हमले के लिए विस्फोटक कहां से और कैसे लाए गए, नई जानकारी सामने आई

पुलवामा हमला 14 फरवरी, 2019 को हुआ था.