Submit your post

Follow Us

गंभीर रूप से बीमार थीं, फिर भी देश के डॉक्टर्स पर ऐसा भरोसा था कि विदेशी इलाज से मना कर दिया

5
शेयर्स

6 अगस्त 2019 का दिन. इस दिन पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का निधन हो गया था. पूरे देश में मातम पसर गया था. अब उन्हें गए हुए तीन महीने हो चुके हैं. उनका ट्विटर अकाउंट जहां वो बहुत एक्टिव रहती थीं, अब खाली पड़ा है. लेकिन उनके पति और सीनियर वकील स्वराज कौशल अब उनकी जगह लोगों से बात कर रहे हैं. वो अपने ट्विटर अकाउंट पर सुषमा से जुड़ी हुई बातें लोगों को बता रहे हैं. हाल ही में उन्होंने बताया कि जब सुषमा का किडनी ट्रांसप्लांट ऑपरेशन होना था, तब एम्स के डॉक्टर्स ने भारत में ऑपरेशन कराने से उन्हें मना किया था. लेकिन वो नहीं मानी थीं.

स्वराज कौशल ने बताया,

‘एम्स के डॉक्टर्स उनकी किडनी ट्रांसप्लांट सर्जरी भारत में करने के लिए तैयार नहीं थे. तब उन्होंने कहा था कि ये राष्ट्रीय गौरव से जुड़ा हुआ मसला है. उन्होंने विदेश में सर्जरी करवाने से मना कर दिया था. उन्होंने अपनी सर्जरी की तारीख तय की और डॉक्टर मुकुट मिंज से कहा- ‘आप सिर्फ अपने इंस्ट्रूमेंट्स पकड़िए, मेरी सर्जरी कृष्णा खुद कर देंगे’. फिर एक दिन बाद ही वो आरामकुर्सी पर मुस्कुराते हुए बैठी थीं. उन्होंने तब कहा था- ‘अगर हम विदेश जाते तो फिर लोगों का हमारे देश के डॉक्टर्स और अस्पतालों से भरोसा उठ जाता.’ उन्होंने अपनी सर्जरी को एक छोटे से ऑपरेशन की तरह लिया. उन्होंने इसका पूरा क्रेडिट एम्स के डॉक्टर्स, सिस्टर्स और स्टाफ को दिया. जो पूरी दुनिया में सबसे अच्छे हैं.’

इसके अलावा स्वराज कौशल ने पीएम नरेंद्र मोदी को भी धन्यवाद किया. कहा,

‘एक फैमिली के तौर पर पीएम नरेंद्र मोदी को थैंक्यू कहने के लिए हमारे पास शब्द नहीं हैं. उन्होंने सुषमा स्वराज के ट्रीटमेंट में बहुत मदद की. वो लगातार डॉक्टर्स के संपर्क में थे. उन्होंने हमेशा सुषमा से कहा कि अपनी सेहत का ध्यान रखें और ज्यादा तनाव न लें. बांसुरी और मैं पीएम मोदी के शुक्रगुजार हैं. पीएम मोदी ने हमें अस्पताल वो विंग दिया जो पीएम के लिए बना होता है. वो नियमित तौर पर सुषमा से बात करते रहते थे. ऐसा कुछ भी नहीं बाकी था जिसे किया जाना चाहिए था और हमने नहीं किया. उसी का परिणाम ये हुआ कि वो पूरी तरह से ठीक हुईं और काम पर वापस गईं. थैंक्यू, थैंक्यू. थैंक्यू पीएम मोदी. हमें हमारे डॉक्टर्स पर भरोसा करना चाहिए. हमारे पास ये जांच आयोग नहीं होने चाहिए थे. ये हमारे शानदार डॉक्टर्स को वीआईपीज़ का ट्रीटमेंट करने से रोकते हैं. हम एम्स के हमारे डॉक्टर्स को सैल्यूट करते हैं. उनकी क्षमता और प्रतिबद्धता का कोई सानी नहीं है.’

आपको बता दें कि सुषमा स्वराज को 6 अगस्त 2019 की शाम हार्ट अटैक आया था. उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया था. लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका.


 

वीडियो देखें:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

नागरिकता कानून में हुए संशोधन पर संविधान एक्सपर्ट्स का क्या कहना है?

एक्सपर्ट्स का दावा, ये संशोधन संविधान के आर्टिकल 14, 5 और 11 का उल्लंघन है.

पासपोर्ट पर कमल छाप तो दिया लेकिन सरकार खुद इसे राष्ट्रीय फूल नहीं मानती

बवाल मचा तो सरकार ने कहा था राष्ट्रीय प्रतीकों को छाप रहे हैं.

16 दिसंबर को इस वजह से नहीं होगी निर्भया के चारों दोषियों को फांसी

सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई के बाद ही डेथ वारंट पर फैसला होगा.

CAB विरोध: असम में पुलिस की फायरिंग से दो की मौत, कर्फ़्यू मान नहीं रही है भीड़

तीन BJP विधायकों के घर पर हमला. मेघालय के भी कुछ इलाकों में कर्फ़्यू. तीन राज्य में इंटरनेट बंद.

नागरिकता संशोधन बिल पास होने पर IPS ऑफिसर ने विरोध में इस्तीफा दिया

उन्होंने कहा, 'ये बिल देश को बांटने वाला है.'

कर्नाटक में 15 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में BJP का क्या हुआ?

BJP सरकार बनी रहेगी या जाएगी?

मोदी सरकार के इस कदम से घरेलू इंडस्ट्री चमक सकती है, पर रिस्क भी बहुत बड़ी है

सरकार नई नौकरियों का दावा कर रही. पर आंकड़ा किसी को नहीं पता.

अगर संसद में ये बिल पास हो गया तो एक ही तमंचे पर डिस्को हो पाएगा

वैसे नए कानून के मुताबिक, तमंचे पर डिस्को करने पर भी 2 साल की सज़ा हो सकती है.

तेलंगाना पुलिस ने खुद बताई एनकाउंटर के पीछे की पूरी कहानी

'आरोपियों ने पुलिस से हथियार छीनकर फायरिंग की'.

हैदराबाद डॉक्टर रेप केस: चारों आरोपी पुलिस एनकाउंटर में मारे गए

उसी जगह मारे गए, जहां रेप किया. पुलिस का कहना है कि आरोपियों ने उनपर हमला करके भागने की कोशिश की.