Submit your post

Follow Us

एम्स के डायरेक्टर ने बताया कि देश में कोरोना वायरस का कर्व फ्लैट क्यों नहीं हो रहा

तमाम कोशिशों, लंबे-लंबे लॉकडाउन के बाद भी देश में कोरोना वायरस इंफेक्शन के केस लगातार बढ़ते जा रहे हैं. देश में इंफेक्शन का ये कर्व फ्लैट कब होगा? इसका जवाब एम्स के डायरेक्टर डॉक्टर रणदीप गुलेरिया ने दिया. इंडिया टुडे से बात करते हुए उन्होंने कहा –

“कोरोना वायरस की महामारी 2021 से पहले खत्म होती नहीं दिख रही. हमारे देश की जनसंख्या को देखते हुए कर्व फ्लैट होने में समय ले रहा है. अब चूंकि बीमारी छोटे-छोटे क्षेत्रों तक पहुंच गई है. इसलिए भी कर्व फ्लैट करने में समस्या आ रही है. लेकिन इसके बढ़ने की रफ्तार भी बहुत तेज नहीं है. उम्मीद है कि अगले साल के शुरुआती कुछ महीनों से हम इस महामारी को कम होते देख सकेंगे.”

डॉ गुलेरिया ने ये भी माना कि देश के कई हिस्सों में कोविड की सेकंड वेव भी देखने को मिल रही है. हालांकि उन्होंने ज़्यादा केसेज़ आने की एक बड़ी वजह ये भी बताई कि अब टेस्ट पहले की तुलना में ज़्यादा हो रहे हैं.

कोविड बिहेवियर फटीग

डॉ गुलेरिया ने कहा –

“अब हम देख रहे हैं कि लोग कोविड बिहेवियर फटीग (Covid Behaviour Fatigue) से गुज़र रहे हैं. कोविड से बचने के लिए लोगों ने ख़ुद को समझदारी से एक लंबे समय तक बांधकर रखा. लेकिन अब उनमें ये भाव आ रहा है कि- अब बहुत हुआ. Enough is Enough. इस वजह से वे ख़ुद को ढील दे रहे हैं और यहां से केस बढ़ने की आशंका बढ़ जाती है.”

रूस की वैक्सीन के सैंपल साइज पर सवाल

रूस ने कोविड की सबसे पहली वैक्सीन बनाने का दावा किया है. लेकिन अभी बाकी देश इसके इस्तेमाल से कतरा रहे हैं. इस पर डॉ गुलेरिया ने कहा कि रूस की वैक्सीन के सैंपल साइज पर अभी स्थिति साफ नहीं है. उन्होंने कुछ ही लोगों पर टेस्ट करके वैक्सीन को सफल घोषित कर दिया. जबकि किसी वैक्सीन के सफल घोषित होने से पहले एक बड़े सैंपल साइज पर इसका टेस्ट किया जाना चाहिए.

अब देश में अनलॉक-4 की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है. इस पर बात करते हुए डॉ गुलेरिया ने कहा कि मेट्रो जैसी सुविधाओं के खुलने में दिक्कत नहीं है. बल्कि लोगों को अब अपने व्यवहार में बदलाव लाना होगा. मास्क और डिस्टेंसिंग की आदत डालनी होगी. चाहें ग्लव्स पहने हों या नंगे हाथ हों, थोड़ी-थोड़ी देर में सैनिटाइज़ करते रहें.


क्या रिकवर होने के बाद दोबारा कोरोना वायरस इन्फेक्शन हो सकता है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

अरुणाचल के कांग्रेस विधायक का दावा- बॉर्डर से पांच भारतीयों को उठा ले गया चीन

अरुणाचल के कांग्रेस विधायक का दावा- बॉर्डर से पांच भारतीयों को उठा ले गया चीन

पुलिस ने कहा, कुछ भी कंफर्म नहीं, सेना ही दे सकती है जानकारी.

पबजी बैन, सोशल मीडिया ने कहा- ‘उनका’ वीडियो डिसलाइक करने का नतीजा है

पबजी बैन, सोशल मीडिया ने कहा- ‘उनका’ वीडियो डिसलाइक करने का नतीजा है

118 ऐप्स बैन कर दिए गए हैं.

चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए पॉज़िटिव न्यूज़ आई है

चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए पॉज़िटिव न्यूज़ आई है

बड़े दिनों के बाद.

सेरो सर्वे की मानें, तो ठीक होने के बाद दोबारा हो सकता है कोरोना!

सेरो सर्वे की मानें, तो ठीक होने के बाद दोबारा हो सकता है कोरोना!

208 में से 97 लोगों में नहीं मिली एंटीबॉडी.

अवमानना वाले मामले में सुप्रीम कोर्ट ने प्रशांत भूषण को क्या सज़ा दी है?

अवमानना वाले मामले में सुप्रीम कोर्ट ने प्रशांत भूषण को क्या सज़ा दी है?

प्रशांत भूषण के दो ट्वीट का मुद्दा था.

अनलॉक-4 की गाइडलाइंस जारी, मेट्रो चलेगी, जानिए स्कूल खोलने को लेकर क्या कहा गया है

अनलॉक-4 की गाइडलाइंस जारी, मेट्रो चलेगी, जानिए स्कूल खोलने को लेकर क्या कहा गया है

धार्मिक और राजनीतिक कार्यक्रमों को लेकर क्या छूट मिली है?

NEET, JEE आगे बढ़ाने की मांग कर रहे छात्र ये पांच कारण बता रहे हैं

NEET, JEE आगे बढ़ाने की मांग कर रहे छात्र ये पांच कारण बता रहे हैं

तय समय पर परीक्षा कराने के लिए 150 शिक्षाविदों ने लिखी PM मोदी को चिट्ठी.

कोर्ट ने कहा, ये शर्त पूरी किए बिना अनुराग ठाकुर और प्रवेश वर्मा पर दिल्ली दंगों में हेट स्पीच का केस नहीं

कोर्ट ने कहा, ये शर्त पूरी किए बिना अनुराग ठाकुर और प्रवेश वर्मा पर दिल्ली दंगों में हेट स्पीच का केस नहीं

बीजेपी नेताओं के खिलाफ़ याचिका ख़ारिज करते हुए अदालत ने और क्या कहा, ये भी पढ़िए.

पाकिस्तान के किस बयान में इंडिया ने एक के बाद एक पांच झूठ पकड़ लिए हैं?

पाकिस्तान के किस बयान में इंडिया ने एक के बाद एक पांच झूठ पकड़ लिए हैं?

पाकिस्तान ने आतंकवाद फैलाने में भारत का नाम ले लिया, बस हो गया काम.

सोनिया-राहुल को पत्र लिखने पर कांग्रेस मंत्री ने नेताओं से कहा, ‘खुल्लमखुल्ला टहलने नहीं दूंगा’

सोनिया-राहुल को पत्र लिखने पर कांग्रेस मंत्री ने नेताओं से कहा, ‘खुल्लमखुल्ला टहलने नहीं दूंगा’

माफ़ी नहीं मांगने पर परिणाम भुगतने की बात कर डाली.