Submit your post

Follow Us

12वीं की बोर्ड परीक्षा रद्द होने के बाद DU, JNU ने बताया कैसे होगा यूनिवर्सिटी में एडमिशन

CBSE बोर्ड एग्जाम को लेकर लंबे समय से चल रहे संशय पर विराम लगा बीते दिन यानी 1 जून को. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई बैठक में CBSE की 12वीं की परीक्षा को रद्द करने का निर्णय लिया गया. बैठक में प्रधानमंत्री ने बच्चों की सुरक्षा को सर्वोपरि बताया. उन्होंने कहा बच्चों को ऐसे माहौल में तनाव देना उचित नहीं है. बच्चों की जान को खतरे में नहीं डाला जा सकता. CBSE के बाद कौंसिल ऑफ इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (CISCE)ने भी 12वीं के बोर्ड एग्जाम रद्द कर दिए हैं. हरियाणा, गुजरात और मध्यप्रदेश ने भी अपने राज्यों में बोर्ड एग्जाम रद्द कर दिए हैं.

ये तो हो गई परीक्षा रद्द करने की बात. 12वीं की परीक्षा कितनी महत्वपूर्ण होती है ये बात हम सबको पता है. आगे की पढ़ाई उच्च शिक्षा के लिए छात्र को क्या चुनना है वो यहीं से तय होता है. यहीं से छात्र अपने करियर की दिशा तय करता है. यूनिवर्सिटी-कॉलेज में एडमिशन लेता है. ऐसे समय में जब CBSE और कई राज्यों ने 12वीं की परीक्षा ही रद्द कर दी है और नतीजे बोर्ड द्वारा तय किए गए क्राइटेरिया पर आएंगे तो ये सवाल भी आने लगे कि यूनिवर्सिटी में एडमिशन कैसे होगा? एडमिशन के लिए एंट्रेंस एग्जाम होगा या नहीं? एडमिशन के लिए क्या प्रक्रिया अपनाई जाएगी?

डीयू के एक्टिंग वीसी पीसी जोशी ने कहा है कि यूनिवर्सिटी मेरटि के आधार पर एडमिशन लेगी. ( फोटो- इंडियाटुडे/Facebook)
डीयू के एक्टिंग वीसी पीसी जोशी ने कहा है कि यूनिवर्सिटी मेरिट के आधार पर एडमिशन लेगी. ( फोटो- इंडियाटुडे/Facebook)

बोर्ड परीक्षा रद्द होने के बाद कुछ विश्वविद्यालयों ने एडमिशन की प्रक्रिया के बारे में बात की है. सबसे पहले बात दिल्ली विश्वविद्यालय की. दिल्ली यूनिवर्सिटी का कहना है कि इस बार भी एडमिशन मेरिट के आधार पर ही लिए जाएंगे. यानी कि एंट्रेस एग्जाम नहीं होगा. दिल्ली यूनिवर्सिटी के एक्टिंग वाइस चांसलर पीसी जोशी ने इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए कहा कि भारत सरकार ने कोरोना महामारी को ध्यान में रखते हुए जो फैसला लिया है, वे उसका समर्थन करते हैं. रिजल्ट के लिए बोर्ड जो भी क्राइटेरिया तय करेंगे वे उसका स्वागत करेंगे. दिल्ली यूनिवर्सिटी में एडमिशन मेरिट के आधार पर ही लिया जाएगा.

JNU के वीसी एम जगदीश कुमार का ने साफ किया है कि यूनिवर्सिटी में एडमिशन इंट्रेंस एग्जाम के आधार पर ही होगा. (फोटो- PTI)
JNU के वीसी एम जगदीश कुमार का ने साफ किया है कि यूनिवर्सिटी में एडमिशन इंट्रेंस एग्जाम के आधार पर ही होगा. (फोटो- PTI)

डीयू के बाद अब बात जेएनयू की. जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय का कहना है कि जब माहौल ठीक होगा तब एग्जाम करवाया जाएगा. वीसी एम. जगदीश कुमार ने कहा,

जेएनयू जैसे अधिकांश उच्च शिक्षण संस्थानों में एंट्रेस एग्जाम के जरिए ग्रेजुएशन कोर्स में एडमिशन होता है. जब भी छात्रों के लिए सुरक्षित होगा, हम प्रवेश परीक्षा आयोजित करेंगे. अगर एंट्रेस एग्जाम में देरी से होता है तो एकेडमिक ईयर को उसी तरह से एडजस्ट किया जाएगा.

जेएनयू के वीसी ने कहा कि छात्रों का स्वास्थ्य और उनकी सुरक्षा सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है. महामारी के दौरान सामने आने वाली चुनौतियों से परेशान होने की बजाय हमें उनका समाधान खोजने की जरूरत है. हमारी शिक्षा प्रणाली इन चुनौतियों का सामना करने में सक्षम है.


रंगरूट. दी लल्लनटॉप की एक नई पहल. जहां पर बात होगी नौजवानों की. उनकी पढ़ाई लिखाई और कॉलेज यूनिवर्सिटी कैंपस से जुड़े मुद्दों की. हम बात करेंगे नौकरियों, प्लेसमेंट और करियर की. अगर आपके पास भी ऐसा कोई मुद्दा है तो उसे भेजिए हमारे पास. हमारा पता है rangroot@lallantop.com.


CBSE की 12वीं की बोर्ड परीक्षा कैंसिल, लेकिन नंबर कैसे मिलेंगे?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

राजस्थान में क्या सचमुच कोरोना वैक्सीन की जमकर बर्बादी हो रही है?

राजस्थान में क्या सचमुच कोरोना वैक्सीन की जमकर बर्बादी हो रही है?

अशोक गहलोत सरकार का इनकार, लेकिन आंकड़े कुछ और ही बता रहे.

रिटायर्ड जस्टिस अरुण मिश्रा को मोदी सरकार ने NHRC चेयरमैन बनाया तो बवाल क्यों हो रहा है?

रिटायर्ड जस्टिस अरुण मिश्रा को मोदी सरकार ने NHRC चेयरमैन बनाया तो बवाल क्यों हो रहा है?

लोग जस्टिस अरुण मिश्रा को इस पद के लिए चुने जाने का बस एक ही कारण गिना रहे हैं.

क्या कोरोना के कारण अनाथ हुए बच्चों को लेकर मोदी सरकार झूठ बोल रही है?

क्या कोरोना के कारण अनाथ हुए बच्चों को लेकर मोदी सरकार झूठ बोल रही है?

अलग-अलग आंकड़े क्या कहानी बताते हैं?

लक्षद्वीप में दारू और बीफ़ वाले नियमों पर बवाल बढ़ा तो अमित शाह ने क्या कहा?

लक्षद्वीप में दारू और बीफ़ वाले नियमों पर बवाल बढ़ा तो अमित शाह ने क्या कहा?

लक्षद्वीप के सांसद मोहम्मद फैज़ल ख़ुद मिलने गए थे अमित शाह से

पत्रकार से IAS बने अलपन बंदोपाध्याय, जो ममता और मोदी सरकार में रस्साकशी की नई वजह बन गए हैं

पत्रकार से IAS बने अलपन बंदोपाध्याय, जो ममता और मोदी सरकार में रस्साकशी की नई वजह बन गए हैं

ममता बनर्जी ने केंद्र के आदेश की क्या काट ढूंढ निकाली है?

वैक्सीनेशन पर सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को घेरा, पूछा- वैक्सीन का एक रेट क्यों नहीं?

वैक्सीनेशन पर सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को घेरा, पूछा- वैक्सीन का एक रेट क्यों नहीं?

वैक्सीन की कमी, राज्यों के टेंडर जैसे मुद्दों पर भी सरकार से तीखे सवाल किए.

यूपी के महोबा में कूड़ा ढोने वाली गाड़ी से शव मोर्चरी में पहुंचाया

यूपी के महोबा में कूड़ा ढोने वाली गाड़ी से शव मोर्चरी में पहुंचाया

विवाद बढ़ता देख अब जांच के आदेश दिए गए.

इस जिले के DM का आदेश- वैक्सीनेशन के बिना नहीं मिलेगी सरकारी कर्मचारियों को सैलरी

इस जिले के DM का आदेश- वैक्सीनेशन के बिना नहीं मिलेगी सरकारी कर्मचारियों को सैलरी

कुछ सरकारी कर्मचारियों ने इस फैसले पर नाराजगी जताई.

छेड़छाड़ कर स्लॉट गायब करने की बात पर सरकार ने कहा-कोविन प्लेटफॉर्म हैक नहीं हो सकता

छेड़छाड़ कर स्लॉट गायब करने की बात पर सरकार ने कहा-कोविन प्लेटफॉर्म हैक नहीं हो सकता

सोशल मीडिया पर कुछ लोगों का कहना है कि ऐप के साथ छेड़छाड़ कर स्लॉट गायब किए जा रहे हैं.

कोरोना से अनाथ हुए बच्चों की PM केयर्स फंड से इस तरह मदद करेगी सरकार

कोरोना से अनाथ हुए बच्चों की PM केयर्स फंड से इस तरह मदद करेगी सरकार

कमाऊ सदस्यों को खोने वाले परिवारों के लिए भी योजना का ऐलान.