Submit your post

Follow Us

डेविड वॉर्नर के 335 रनों के पीछे इस भारतीय क्रिकेटर का गुरुमंत्र था

5
शेयर्स

विरेंदर सहवाग. एक ऐसा नाम जिसने टेस्ट क्रिकेट को पूरी दुनिया के लिए बदल दिया. सहवाग का अपना एक अलग ही स्टाइल था. वह हमेशा बॉलर्स पर हावी होने का इरादा लेकर क्रीज पर आते थे. टेस्ट क्रिकेट की आक्रामक फील्ड का फायदा उठाकर तेजी से रन जोड़ने की सहवाग की स्टाइल को बाद में काफी क्रिकेटर्स ने कॉपी किया.

ऐसे ही क्रिकेटर्स में ऑस्ट्रेलिया के ओपनर डेविड वॉर्नर का नाम भी आता है. वॉर्नर ने इसी हफ्ते पाकिस्तान के खिलाफ अपनी पहली टेस्ट ट्रिपल सेंचुरी मारी है. एडिलेड में खेले जा रहे इस टेस्ट में रिकॉर्डतोड़ पारी खेलने के बाद वॉर्नर ने सहवाग की एक पुरानी सलाह को याद किया. इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के शुरुआती दौर की बात करते हुए वॉर्नर ने कहा,

“जब मैं IPL में दिल्ली के लिए खेलते वक्त सहवाग से मिला, तो वह मेरे साथ बैठे और कहा कि मैं T20 से बेहतर टेस्ट प्लेयर बन सकता हूं. मैंने कहा, ‘तुम पगला गए हो, मैंने बहुत ज्यादा फर्स्ट क्लास गेम्स नहीं खेले हैं.’ वह हमेशा कहते थे, ‘वहां स्लिप और गली होगी, कवर्स खुले होंगे, मिड-विकेट वहीं रहेगा. मिड ऑफ और मिड ऑन ऊपर होगा, आप शुरुआत में तेज खेल सकते हो और फिर पूरे दिन आराम से बैठकर मनचाहे तरीके से रन बनाते रहो.’ यह मेरे दिमाग में बैठ गया, उस वक्त जब हम बात कर रहे थे तब यह बेहद आसान लगा था.”

एशेज सीरीज में खराब प्रदर्शन के बाद वॉर्नर की काफी आलोचना हो रही थी. उस सीरीज के पांच टेस्ट मैचों में उन्होंने सिर्फ 95 रन बनाए थे. जिसके बाद लोग उन्हें ऑस्ट्रेलियन टीम से बाहर करने की मांग कर रहे थे.

अब वॉर्नर ने उन सबको करारा जवाब दिया है. इस बारे में वॉर्नर ने कहा,

‘नहीं, कभी भी नहीं. मैंने एशेज के बाद टेस्ट क्रिकेट छोड़ने के बारे में सोचा भी नहीं. अंततः आपके पास हमेशा ऐसे लोग रहते हैं जो आप पर शक करते हैं. पूरे एशेज कैम्पेन के दौरान मैं बस यही कह रहा था कि मैं आउट ऑफ फॉर्म नहीं हूं, मैं बस आउट ऑफ रन हूं.’

विरेंदर सहवाग आजकल क्रिकेट के मैदान से थोड़ा दूर, कॉमेंट्री बॉक्स में बैठकर प्लेयर्स को टिप्स देते हैं. सहवाग के पुराने टिप्स इतने काम के हैं तो सोचिए, उनके अब के टिप्स कितने क्रिकेटर्स का भला कर रहे होंगे.


अभिमन्यु मिथुन ने ऐसा कमाल कर दिया जो अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में भी कभी नहीं हुआ

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

GDP के नए आंकड़े आ गए हैं, 5 ट्रिलियन इकॉनमी से और दूर चले गए हैं हम

GDP है कि लुढ़कती ही जा रही है.

राष्ट्रपति बनने के बाद पहली बार भारत आए गोताबाया और मछुआरों को लेकर ये बड़ा ऐलान कर दिया

पीएम मोदी के साथ संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस भी की.

UP में मिड-डे मील में एक और घपला, 1 लीटर दूध में 1 बाल्टी पानी मिलाकर 81 बच्चों को पिला दिया

यूपी में घपलों की लिस्ट बढ़ती जा रही है

गांधी परिवार से SPG सुरक्षा साज़िशन छीनने के इल्ज़ाम पर अमित शाह ने धो डाला

उनकी तकरीबन बातें तार्किक लग रही हैं.

BHU : मुस्लिम संस्कृत शिक्षक ने कहीं और पढ़ाने के लिए आवेदन किया है

एक पत्थर पर लिखी बात संविधान से ज्यादा ज़रूरी?

एक तरफ अमित शाह रैली में बोले नक्सलवाद ख़त्म किया, उधर नक्सलियों ने हमला कर दिया

नक्सलियों ने अमित शाह को गलत साबित कर दिया. चार जवान शहीद हो गए.

कांग्रेस ने अलग से प्रेस कॉन्फ्रेंस क्यों की?

और क्या बोले अहमद पटेल?

महाराष्ट्र में रातों रात बदला गेम, देवेंद्र फडणवीस सीएम और एनसीपी के अजित पवार डिप्टी सीएम बने

शिवसेना ने इसे अंधेरे में डाका डालना बताया.

किसका डर है कि अयोध्या मसले में सुन्नी वक्फ बोर्ड रिव्यू पिटीशन नहीं फ़ाइल कर रहा?

चेयरमैन के ऊपर दो-दो केस!

डूबते टेलीकॉम को बचाने के लिए सरकार 42 हज़ार करोड़ की लाइफलाइन लेकर आई है

तो क्या वोडाफोन आईडिया और एयरटेल बंद नहीं होने वाले हैं?