Submit your post

Follow Us

'एसिड अटैक के बाद मेरी आंख की रोशनी गई, खाने और सांस की नली सिकुड़ गई'

रंगोली चंदेल. एक्ट्रेस कंगना रनौत की बड़ी बहन हैं. मां बनने से पहले वो कंगना की मैनेजर भी रह चुकी हैं. फिलहाल काम से छुट्टी पर हैं. लेकिन सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहती हैं. और आए दिन ट्विटर पर किसी न किसी को लताड़ती रहती हैं. इनमें कई बार बॉलीवुड के सुपरस्टार्स तक होते हैं. लेकिन रंगोली दीपिका पादुकोण की फिल्म ‘छपाक’ की कई बार तारीफ कर चुकी हैं. रंगोली खुद भी एसिड अटैक झेल चुकी हैं.

ट्विटर पर अर्जिता सिंह नाम की एक यूजर ने रंगोली से पूछा कि उन्होंने कभी उस शख्स का नाम उजागर क्यों नहीं किया, जिसने उनकी जिंदगी हमेशा के लिए बदलकर रख दी.

Ramgoli

रंगोली ने इसका जवाब दिया. उन्होंने तेजाब डालने वाले उस शख्स का नाम और उस दिन उनके साथ क्या हुआ, वो सब बताया. रंगोली ने लिखा-

जिसने मुझपर तेजाब से हमला किया उसका नाम अविनाश शर्मा है. वो उसी कॉलेज में था, जिसमें मैं थी. हम दोनों एक ही फ्रेंड सर्कल में थे. उसने मुझे प्रपोज किया, जिसके बाद मैंने उससे दूरी बनानी शुरू कर दी. क्योंकि मैं उसके लिए वैसा महसूस नहीं करती थी. वो लोगों से कहता फिरता था कि एक दिन वो मुझसे जरूर शादी करेगा. जब मेरे मम्मी-पापा ने मेरी सगाई एक एयरफोर्स ऑफिसर के साथ कर दी, तो वो मुझसे शादी करने के लिए और भी अड़ गया. जब मैंने इसका विरोध करना शुरू किया, तो उसने मुझपर तेजाब फेंकने की धमकियां देना शुरू कर दीं. मैंने उसकी उन धमकियों पर ध्यान नहीं दिया. मैंने मेरे पेरेंट्स को और पुलिस को कभी नहीं बताया कि वो मुझे ऐसे धमकियां देता है. और ये मेरी जिंदगी की सबसे बड़ी गलती थी. मैं 4 लड़कियों के साथ पीजी में रहती थी. एक दिन छोटा लड़का अचानक मेरा नाम पूछते हुए आया. मेरी फ्रेंड विजया ने मुझे बताया कि कोई तुम्हारे बारे में पूछ रहा है. मैंने गेट खोला, तो सामने वो खड़ा था, तेजाब से भरा जग लेकर… और अगले ही पल छपाक

Rangoli
मम्मी आशा रनौत के साथ कंगना और रंगोली. दूसरी तरफ रंगोली की शादी की तस्वीर.

रंगोली के साथ 2006 में देहरादून में ये हादसा हुआ था. वो तब इंजीनियरिंग कर रही थीं. रंगोली पहले भी इस हादसे पर बात कर चुकी हैं. उन्होंने फेमिना को दिए एक इंटरव्यू में बताया था-

मैंने तीन महीनों तक शीशा नहीं देखा था. घरवालों ने सभी शीशे हटा दिए थे. मैंने महीनों अस्पताल में गुजारे हैं. मेरी एक आंख की रोशनी 90 परसेंट तक जा चुकी है. मेरा एक ब्रेस्ट पूरी तरह खराब हो चुका है. इस हादसे के बाद मेरी सांस नली सिकुड़ गई, जिसकी वजह से मुझे सांस लेने में दिक्कत होती थी. मेरी खाने की नली भी सिकुड़ चुकी थी. मैं जिंदगी में संघर्ष कर रही थी. मेरी 57 सर्जरी हो चुकी है. अस्पताल में मुझे अलग-अलग सर्जरी के लिए अलग-अलग ऑपरेशन थियेटर में ले जाते थे. प्लास्टिक सर्जरी इतनी आसान नहीं है. यह आपको नया चेहरा नहीं देती है. मेरी जांघों से स्किन निकाल कर दूसरी जगह लगाई गई. मैं उस वक्त सिर्फ 23 साल की थी. उस उम्र में मानसिक तनाव दर्दनाक था. उस वक्त कंगना स्ट्रगल कर रही थी. वह मुझे मुंबई ले गई. क्योंकि मेरे माता-पिता मेरा दर्द देख नहीं पा रहे थे.

कंगना रनौत भी इस इंटरव्यू में मौजूद थी. उन्होंने इसपर कहा-

मेरे पेरेंट्स से ये सब देखा नहीं जा रहा था. वो जब-जब रंगोली को देखते बेहोश हो जाते थे. शारीरिक रूप से घबरा जाते थे. मैं इतने सारे लोगों को संभाल नहीं पा रही थी. इसलिए मैं रंगोली को अपने साथ मुंबई ले आई. जिस शख्स ने रंगोली की ये हालत की वो ट्रायल से पहले तक खुला घूम रहा था. हमारे समाज को अपराधियों के सामने एक मिसाल खड़ी करनी चाहिए, ताकी कोई भी ऐसा कदम न उठा सके. उसकी लाइफ बर्बाद नहीं हुई, लेकिन वह एक बदमाश हैं, यह सबके सामने आना चाहिए.

रंगोली ने 2011 में अपने बचपन के दोस्त अजय से शादी की है. वो मां बन चुकी हैं और आजकल बच्चे के साथ समय बिता रही हैं.


Video : मेघना गुलज़ार ने इंटरव्यू में बताया कैसे बनाई एसिड अटैक सर्वाइवर लक्ष्मी पर ‘छपाक’?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

अब केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने लगवाया नारा, "देश के गद्दारों को, गोली मारो *लों को"

क्या केन्द्रीय मंत्री ऐसे बयान दे सकता है?

माओवादियों ने डराया तो गांववालों ने पत्थर और तीर चलाकर माओवादी को ही मार डाला

और बदले में जलाए गए गांववालों के घर

बंगले की दीवार लांघकर पी. चिदम्बरम को गिरफ्तार किया, अब राष्ट्रपति मेडल मिला

CBI के 28 अधिकारियों को राष्ट्रपति पुलिस मेडल दिया गया.

झारखंड के लोहरदगा में मार्च निकल रहा था, जबरदस्त बवाल हुआ, इसका CAA कनेक्शन भी है

एक महीने में दूसरी बार झारखंड में ऐसा बवाल हुआ है.

BJP नेता कैलाश विजयवर्गीय लोगों को पोहा खाते देख उनकी नागरिकता जान लेते हैं!

विजयवर्गीय ने कहा- देश में अवैध रूप से रह रहे लोग सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा हैं.

CAA-NRC, अयोध्या और जम्मू-कश्मीर पर नेशन का मूड क्या है?

आज लोकसभा चुनाव हुए तो क्या होगा मोदी सरकार का हाल?

JNU हिंसा केस में दिल्ली पुलिस की बड़ी गड़बड़ी सामने आई है

RTI से सामने आई ये बात.

CAA पर सुप्रीम कोर्ट में लगी 140 से ज्यादा याचिकाओं पर बड़ा फैसला आ गया

असम में NRC पर अब अलग से बात होगी.

दिल्ली चुनाव में BJP से गठबंधन पर JDU प्रवक्ता ने CM नीतीश को पुरानी बातें याद दिला दीं

चिट्ठी लिखी, जो अब वायरल हो रही है.

CAA और कश्मीर पर बोलने वाले मलयेशियाई PM अब खुद को छोटा क्यों बता रहे हैं?

हाल में भारत और मलयेशिया के बीच रिश्तों में खटास बढ़ती गई है.