Submit your post

Follow Us

कनाडा के बाद अब अमेरिका में भी 12 से 15 साल के बच्चों को लगेगी फाइज़र की वैक्सीन

कोरोना की रोकथाम के लिए दुनिया भर के देश वैक्सीनेशन कार्यक्रम चला रहे हैं. भारत में 18 साल से ऊपर के सभी नागरिकों को वैक्सीन लगनी शुरू हो चुकी है, वहीं अमेरिका ने अब 12 से 15 साल के बच्चों का भी वैक्सीनेशन शुरू करने का फैसला किया है, ताकि जब वो स्कूल पहुंचें तो सुरक्षित रहें. अमेरिका के खाद्य और दवा प्रशासन यानी FDA ने 12 से 15 साल की उम्र के बच्चों के लिए फाइजर वैक्सीन के आपात इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है.

FDA की कार्यकारी आयुक्त डॉक्टर जेनेट वुडकॉक ने कहा कि, वैक्सीन के इस्तेमाल को लेकर किया गया ये फैसला सामान्य स्थिति में लौटने में मदद करेगा. उन्होंने कहा कि बच्चों के माता-पिता इस बात को लेकर आश्वस्त हो सकते हैं कि FDA ने उपलब्ध डेटा को गंभीरता से देखा है.

आपको बता दें कि बेशक अमेरिकी सरकार ने 12 से 15 साल के बच्चों को कोविड-19 वैक्सीन लगवाने का फैसला किया है, लेकिन वो ऐसा करने वाला पहला देश नहीं है. कनाडा पहले ही 12 साल से ऊपर के बच्चों को फाइजर की वैक्सीन लगवाने का फैसला ले चुका है. फाइजर की वैक्सीन कई देशों में 16 साल तक के किशोरों तक के लिए इस्तेमाल की जा रही है. इससे पहले अमेरिका और कनाडा में 16 साल से ऊपर के सभी लोगों को वैक्सीन दी जा रही थी.

फाइनेंशियल एक्सप्रेस की एक खबर के मुताबिक फाइज़र ने 12 से 15 साल के 2 हजार 260 वॉलेंटियर्स पर वैक्सीन के ट्रायल के शुरुआती रिजल्ट, मार्च 2021 के अंत में जारी किए थे, जिसके नतीजे काफी अच्छे थे. जिन बच्चों को वैक्सीन की दोनों डोज दी गई थीं उनको कोरोना इंफेक्शन नहीं हुआ, जबकि जिन बच्चों को डमी इंजेक्शन दिया गया था, उनमें इंफेक्शन देखने को मिला. वैक्सीन लगवाने वालों को बुखार और ठंड लगने जैसे साइड इफेक्ट भी हुए. इन बच्चों की सेहत पर अगले दो सालों तक नजर रखी जाएगी.

Pfizer Vaccine
कनाडा और अमेरिका में बच्चों के वैक्सीन देने की इजाजत दे दी गई है. फोटो- PTI

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक फाइज़र के सीनियर वाइस प्रेसीडेंट डॉक्टर बिल ग्रूबर ने कहा है कि हमारे लिए ये कोविड-19 महामारी से लड़ाई का एक महत्वपूर्ण क्षण है.

भारत में कब आएगी फाइज़र वैक्सीन

फाइजर के टीके ने अपने सभी ट्रायल में कोरोना संक्रमण के खिलाफ 92 प्रतिशत से 95 प्रतिशत तक की क्षमता दिखाई थी. इस वैक्सीन का नाम BNT162b2 है, जिसे विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने भी असरदार और सुरक्षित कोरोना वैक्सीन की सूची में शामिल किया है. लेकिन भारत में इसके आने से पहले ही फाइजर कंपनी ने एक शर्त रख दी है. फाइजर ने कहा है कि वो अपनी कोविड-19 वैक्सीन केवल सरकारी कॉन्ट्रैक्ट के माध्यम से ही देगी. इसका मतलब है कि शायद ये वैक्सीन देश के प्राइवेट अस्पतालों में ना मिले, जब तक कि सरकार इन प्राइवेट संस्थानों को ये वैक्सीन ना दे.

फाइजर ने भारत में अब तक इसका कोई ट्रायल नहीं किया है. कंपनी अमेरिका और अन्य देशों में हुए परीक्षणों से मिले परिणामों के आधार पर ही भारत सरकार से इमरजेंसी अप्रूवल मांग रही थी. हालांकि कंपनी ने 5 फरवरी 2021 को अपना आवेदन वापस लेने का फैसला किया था. उस समय CDSCO के एक एक्सपर्ट पैनल ने इस वैक्सीन को लेकर सवाल खड़े किए थे और कहा था कि इस वैक्सीन के लोकल ट्रायल होने चाहिए, ताकि पता चल सके कि ये वैक्सीन भारतीयों पर क्या असर कर रही है.

हालांकि अब भारत में कोरोना संक्रमण की रफ्तार को देखते हुए सरकार ने अप्रैल की शुरुआत में ये फैसला किया है कि जिन वैक्सीन्स को यूएस, यूके, यूरोप और जापान में इमरजेंसी अप्रूवल मिला है और जो वैक्सीन्स WHO की इमरजेंसी इस्तेमाल वाली लिस्ट में शामिल हैं, उनको भारत में बिना लोकल ट्रायल के इस्तेमाल की इजाजत दी जाए. तो उम्मीद है कि भारत में फाइजर की वैक्सीन जल्द ही आ सकती है.


वीडियो- WHO की चीफ साइंटिस्ट ने भारत में Covid-19 को लेकर क्या बड़ी बातें कही हैं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

इज़राइल में हुए मिसाइल हमले में केरल की महिला की मौत हो गई

इज़राइल में हुए मिसाइल हमले में केरल की महिला की मौत हो गई

मृतक सौम्या सात साल से इजरायल में काम करती थीं.

उत्तराखंड में फिर से फटा बादल, इमारतें ताश के पत्तों की तरह बह गईं

उत्तराखंड में फिर से फटा बादल, इमारतें ताश के पत्तों की तरह बह गईं

राज्य में इस साल की चौथी प्राकृतिक आपदा.

IPL सस्पेंड होते ही घर लौटे केविन पीटरसन ने हिंदी में भारत से क्या कहा है?

IPL सस्पेंड होते ही घर लौटे केविन पीटरसन ने हिंदी में भारत से क्या कहा है?

पीटरसन भारत से चले गए हैं लेकिन..

कैबिनेट मंत्री बोले, 'हम सब मस्त हो गए थे, पता नहीं था कोरोना फिर लौटेगा'

कैबिनेट मंत्री बोले, 'हम सब मस्त हो गए थे, पता नहीं था कोरोना फिर लौटेगा'

उत्तराखंड के हालात डराने वाले हैं.

केरल की पहली विधानसभा की सदस्य रहीं केआर गौरी अम्मा का निधन

केरल की पहली विधानसभा की सदस्य रहीं केआर गौरी अम्मा का निधन

गौरी अम्मा को क्रांतिकारी कृषि संबंध विधेयक लाने का भी श्रेय दिया जाता है.

यूपी: किसी ने नहीं दिया महिला के शव को कंधा, नगरपालिका ने कूड़े की गाड़ी में भिजवाया श्मशान

यूपी: किसी ने नहीं दिया महिला के शव को कंधा, नगरपालिका ने कूड़े की गाड़ी में भिजवाया श्मशान

इंसानियत शर्मसार है

यूपी: BJP विधायक का आरोप, कोविड वॉर्ड में भर्ती पत्नी को खाना-पानी तक नहीं मिल रहा

यूपी: BJP विधायक का आरोप, कोविड वॉर्ड में भर्ती पत्नी को खाना-पानी तक नहीं मिल रहा

आगरा के अस्पताल ने आरोपों से किया इनकार.

बेकार खड़ी दर्जनों एम्बुलेंस की पोल खोलने वाले पूर्व MP पप्पू यादव को गिरफ्तार कर लिया गया है

बेकार खड़ी दर्जनों एम्बुलेंस की पोल खोलने वाले पूर्व MP पप्पू यादव को गिरफ्तार कर लिया गया है

गिरफ्तारी के बाद पप्पू यादव ने भावुक ट्वीट किया है.

ऑक्सीजन सप्लाई में 5 मिनट की देरी ने 11 कोरोना मरीजों की जान ले ली

ऑक्सीजन सप्लाई में 5 मिनट की देरी ने 11 कोरोना मरीजों की जान ले ली

ऑक्सीजन की जद्दोजहद.

भारत में कहर ढा रहे कोरोना के ट्रिपल म्यूटेंट वायरस को लेकर WHO भी चिंता में

भारत में कहर ढा रहे कोरोना के ट्रिपल म्यूटेंट वायरस को लेकर WHO भी चिंता में

WHO के वैज्ञानिकों ने सतर्क रहने की हिदायत दी है.