Submit your post

Follow Us

जिन महिला अधिकारी को लाठियों से पीटा गया, उनके साथियों ने सबसे अच्छा बदला ले लिया

30 जून को एक महिला वन अधिकारी पर हमले का एक वीडियो सामने आया था. ये वीडियो तेलंगाना के आसिफाबाद जिले का था. सी. अनीता नाम की अधिकारी सरकार की एक योजना ‘हरित हरम’ के तहत पौधा लगाने के लिए कोमराम भीम असिफाबाद जिले के सारसाला गांव गईं थीं. उनके साथ 21 अधिकारी भी थे. जिस जमीन पर अनीता पेड़ लगाने गईं थीं, उस जमीन पर गांव के कुछ लोग अपना मालिकाना हक जताने लगे. इसके बाद लाठियों से हमला कर दिया.

लोगों ने कोनेरु कृष्णा राव को भी बुला लिया. कोनेरु कृष्णा राव टीआरएस विधायक कोनेरु कोनप्पा के भाई हैं. कोनेरु कृष्णा राव को हाल ही में जिला परिषद का वाइस चेयरमैन चुना गया है. इस हमले का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने लगा. वीडियो में अनीता खुद को बचाने के लिए ट्रैक्टर पर चढ़ रही हैं, लोग उन्हें डंडे से बेरहमी से मार रहे हैं.

अब इस मामले में अपडेट है कि सी. अनीता जिस जगह पर पौधे लगाने गई थीं, वहां उसी 20 हेक्टेयर जमीन पर 1 जुलाई को अधिकारियों ने हजारों पौधे लगाए हैं. इस दौरान वहां सी. अनीता भी मौजूद थीं. उनकी मौजूदगी में पौधारोपण हुआ.

हमले में सी. अनीता को फ्रैक्चर हुआ है.

इस मामले में वन अधिकारियों का कहना है कि जमीन सरकार की थी. लोग उसपर कब्जा करने की कोशिश करने की कोशिश कर रहे थे. जमीन अब अधिकारियों के कब्जे में है.

‘वो जमीन वन विभाग की ही थी, जिसपर सी. अनीता पौधे लगाने गईं थीं. स्थानीय लोगों ने उसपर कब्जा करने की कोशिश की. उस वक्त उनके लोगों ने जमीन को खाली करा लिया था. वह जमीन अब अधिकारियों के कब्जे में है.’

वहीं टीआरएस विधायक कोनेरु कोनप्पा का कहना है कि उनके भाई हमले में शामिल नहीं थे, बल्कि वो तो लोगों को शांत करवाने के लिए घटनास्थल पर गए थे. अधिकारी अनीता पर हमला स्थानीय लोगों और अधिकारियों के बीच टकराव की वजह से हुआ. उन्होंने कहा,

‘वन विभाग जो कह रहा है, वह गलत है. विभाग के अधिकारियों ने पिछले 30 से 40 सालों से स्थानीय लोगों की खेती पर खड़ी फसलों को उखाड़ने की कोशिश की. जब स्थानीय लोग विरोध करने गए तो पुलिस ने उन पर लाठीचार्ज कर दिया. उसके बाद ही मेरे भाई ने मौके पर जाकर इस मुद्दे को सुलझाने की कोशिश की. मौके पर ट्रैक्टर चलाने वाले लोगों में से एक कांग्रेस कार्यकर्ता था. उसका नाम तिरुपति है और वह गांव में भी नहीं रहता है. मेरे भाई ने केवल उसे डंडा दिखाया और पूछा कि वह यहां क्या कर रहा है. यह जनता और वन अधिकारियों के बीच का मामला है.’

कृष्णा राव, जिसपर महिला वन अधिकारी सी. अनीता पर लाठी से हमला करने का आरोप है. फोटो कर्टसी : फेसबुक.
कृष्णा राव, जिसपर महिला वन अधिकारी सी. अनीता पर लाठी से हमला करने का आरोप है. फोटो कर्टसी : फेसबुक.

सी. अनीता ने सोमवार को हमलावरों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है. उन्होंने कहा,

अनीता ने कहा, ‘यह हमला वर्दी पर हुआ है. हम जनता के सेवक हैं और अपना काम कर रहे थे. इस तरह से कोई जानवर को भी नहीं मारता. पार्टी को भी विधायक के खिलाफ कार्रवाई करनी होगी.’

मामले में दो पुलिसवाले सस्पेंड हुए हैं. पिटाई के मुख्य आरोपी कोनेरु कृष्णा राव समेत 14 लोगों को हमले के आरोप में गिरफ्तार किया गया है.


वीडियो:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

पैंगोंग और गलवान के बाद लद्दाख के इन इलाकों में चीन नई मुसीबत खड़ी कर रहा है

भारत और चीन के बीच तनाव बढ़ता ही जा रहा है.

राजस्थान में महाराणा प्रताप को लेकर फिर से हंगामा क्यों हो रहा है?

फिर से राजस्थान बोर्ड का सिलेबस चर्चा में है.

पतंजलि ने खांसी-सर्दी की दवा के लाइसेंस पर 'कोरोना की दवा' बना दी!

जारी हो गया है नोटिस

जिस वीडियो में भारत-चीन के सैनिक एक-दूसरे पर मुक्के बरसा रहे हैं, उसका सच क्या है?

वीडियो कब का है, कहां का है?

इंग्लैंड टूर से पहले पाकिस्तान के तीन क्रिकेटर कोविड पॉज़िटिव

अहम टूर से पहले पाकिस्तान को लगा झटका.

पटना के बैंक में दिन-दहाड़े 52 लाख रुपए की डकैती

अपराधियों ने बैंक में लगे CCTV की हार्ड डिस्क तोड़ दी.

अब लद्दाख की पैंगोंग झील के पास चीन की हरकत, भारतीय क्षेत्र में बना रहा है बंकर

सैटेलाइट इमेज एक्सपर्ट की बातें यही इशारा कर रही हैं.

भारतीय सेना के पूर्व अधिकारियों ने किस बात पर आपस में भयानक झगड़ा फ़ान लिया?

गौरव आर्या ने भीड़ से पिट जाने की बात कह डाली.

रेलवे की नौकरी के भरोसे न बैठें, रेलवे की जेबें खाली हैं!

कोरोना लॉकडाउन ने रेलवे का हाल खस्ता कर दिया है.

गलवान घाटी में भारत से लड़ाई पर चीन के लोग किस-किस तरह के सवाल उठा रहे हैं?

चीनी टि्वटर 'वीबो' पर कई पोस्ट लिखी गई हैं.