Submit your post

Follow Us

अफ़गानी क्रिकेट फैन को होटल में नहीं मिला कमरा, वजह जानकर कोहली तक दंग रह जाते

5
शेयर्स

अजनबी शहर में होटल ढूंढना. मतलब ईश्वर की खोज. जैसा चाहिए वैसा तो मिलता ही नहीं. और मिले भी तो छत्तीस नियम क़ानून. और अगर आप प्रेम में हैं तो समझिए करेले पर नीम चढ़ी. रिसेप्शन पर बैठा कोई भी चमन बहार आपको आतंकवादी मानकर कोई भी सीक्रेट प्रैक्टिस कर सकता है. और इस बार जो हुआ है उस पर पूरे भारत को शर्म आएगी.

क्रिकेट को चाहने वाला एक अफगानी नागरिक शेर खान भारत आया. और आया तहज़ीब के शहर लखनऊ. लेकिन कहीं कमरा नहीं मिला. वजह थी उनकी कद-काठी. 8 फुट लंबे शेर खान को उनकी लंबाई की वजह से होटल में कमरा लेने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी. .सारे पेपर चेक करने के बावजूद भी उन्हें कमरा नहीं मिला. लोग शेर खान पर शक़ कर रहे थे.

# क्या है पूरा मामला

शेर खान लखनऊ के इकाना स्टेडियम में अफगानिस्तान और वेस्टइंडीज के बीच हो रही वनडे सीरीज देखने आए थे. जब शेर खान को कहीं कमरा नहीं मिला तो उन्होंने पुलिस से मदद मांगी. पुलिस वालों को बताया कि उसकी लंबाई के कारण कोई होटल उसे किराए पर कमरा देने को तैयार नहीं है.

# ऐसी रही लखनऊ की मेहमाननवाज़ी

अफगानिस्तान से आए शेरखान ने पुलिस को बताया कि वह सोमवार को लखनऊ पहुंचे थे. इसके बाद से लगातार होटलों में कमरे की तलाश कर रहे हैं. कमरे की तलाश करते हुए वह चारबाग पहुंचे लेकिन कमरा था कि मिल के नहीं दे रहा.

पुलिस बता रही है कि शेर खान की लंबाई करीब 8 फुट 3 इंच है. उनका हुलिया देख कर होटल वाले कमरा देने से डर रहे थे. शेर खान के सारे पेपर ठीक हैं. कहीं कोई दिक्कत नहीं है. पेपर चेक कर लिए गए हैं. शेरखान को चारबाग के एक होटल में कमरा दिला दिया गया है.

# मैच देखने आया है शेर खान

इकाना में वेस्टइंडीज और अफगानिस्तान के बीच आज से वनडे सीरीज शुरू हो रही है. दोनों टीमों के वनडे और टी-20 सीरीज के सभी मैच लखनऊ में खेले जाने हैं. बताया जा रहा है कि शेर खान क्रिकेट के बहुत बड़े प्रशंसक हैं और पहले भी कई बार भारत दौरे पर आ चुके हैं. वह देखने में भारतीय पहलवान दि ग्रेट खली की तरह लगते हैं. शेर खान की असाधारण लंबाई असल में एक बीमारी की वजह से है. इस बीमारी में लंबाई बढ़ती चली जाती है. व्यक्ति सामान्य से अधिक लंबाई का हो जाता है.

इंडिया जैसे देश में जहां क्रिकेट को धर्म माना जाता है. वहां एक क्रिकेट प्रेमी के साथ ऐसा व्यवहार हो. हमारे कैप्टेन कोहली को पता चल जाता तो वो तो दंग ही रह जाते.


ये भी देखें:

अयोध्या में बाबरी मस्जिद विध्वंस के समय इंटेलिजेंस ब्यूरो क्या कह रहा था?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

JNU : जिस समय आइशी घोष को पीटा जा रहा था, उसी वक़्त उन पर FIR हो रही थी

और नक़ाबपोश गुंडों का न कोई नाम, न कोई सुराग

बवाल हुआ तो JNU प्रशासन ने मंत्रालय से कैम्पस को बंद करने की मांग उठा दी

मंत्रालय ने भी ये जवाब दिया.

5 जनवरी की रात तीन बजे तक JNU कैम्पस में क्या-क्या हुआ?

जेएनयू कैम्पस में 5 जनवरी को नकाबपोशों ने स्टूडेंट्स और टीचर्स पर हमला किया.

2015 और इस बार के दिल्ली विधानसभा चुनाव में क्या अंतर है?

चुनाव के नतीजे 11 फरवरी को आएंगे.

JNU छात्रों पर हमले के बाद VC एम जगदीश कुमार क्या बोले?

नकाबपोश गुंडों ने कैंपस में मारपीट की थी.

जानिए, 5 जनवरी की दोपहर और शाम JNU कैंपस में क्या हुआ?

दो-तीन दिनों से कैंपस में तनाव था. अगले सेमेस्टर के रजिस्ट्रेशन पर स्टूडेंट्स में झड़पों की भी ख़बरें आईं थीं.

कोर्ट के आदेश के बाद वो 3 मौके, जब योगी सरकार ने 'दंगाइयों' से जुर्माना नहीं वसूला

और सवाल उठ रहे कि इस बार ही क्यों?

मोदी के जिस ड्रीम प्रोजेक्ट पर सरकार ने करोड़ों खर्च किये वो फ्लॉप हो गया

इसके प्रचार के लिए सरकार ने जगह-जगह बड़े-बड़े होर्डिंग्स लगवाए थे.

नए साल की पहली खुशखबरी आ गई, रेलवे का किराया बढ़ गया

सेकंड क्लास, स्लीपर, फ़र्स्ट क्लास, एसी सबका किराया बढ़ा है रे फैज़ल...

CAA Protest : यूपी पुलिस की कार्रवाई पर सवाल उठाने वालों को पुलिस ने क्यों ब्लॉक किया?

यूपी पुलिस की इस कार्रवाई का क्या मतलब है?