Submit your post

Follow Us

काबुल एयरपोर्ट धमाके के 48 घंटे के भीतर अमेरिका ने ISIS-K पर किया हवाई हमला

अफगानिस्तान के काबुल एयरपोर्ट के बाहर हुए हमले में अब तक 170 लोगों की मौत हो चुकी है. इस हमले के 48 घंटे के भीतर ही हमले की जिम्मेदारी लेने वाले इस्लामिक स्टेट ऑफ़ ख़ुरासान प्रॉविंस (ISKP) पर अमेरिका ने ड्रोन से हमला किया है. AP यानी एसोसिएट प्रेस के मुताबिक, इस्लामिक स्टेट समूह का एक सदस्य मारा गया है. अमेरिका ने कहा है कि इस हमले में निशाना सही रहा और किसी नागरिक की जान नहीं गई. इस अभियान में नांगाहार प्रांत में इस्लामिक स्टेट ख़ुरासान (ISIS-K) समूह के ‘साज़िशकर्ता’ को निशाना बनाया गया था.

धमाके के बाद अफ़ग़ानिस्तान में यह अमेरिका का पहला ड्रोन हमला है. सेंट्रल कमांड के कैप्टन बिल अर्बन ने कहा,

अफ़ग़ानिस्तान के नांगाहार प्रांत में एक मानव रहित हवाई हमला किया गया. शुरुआती संकेत बता रहे हैं कि हमने अपने लक्ष्य को मार दिया है. हमें पता चला है कि आम नागरिकों को कोई नुक़सान नहीं हुआ है.

समाचार एजेंसी रॉयटर्स से एक अमेरिकी सैन्य अधिकारी ने कहा कि ये हमला आईएस के एक सदस्य को निशाना बनाकर किया गया था.उन्होंने बताया कि इस हमले को मध्य पूर्व से रीपर ड्रोन से अंजाम दिया गया है. उन्होंने कहा कि एक अन्य आईएस सदस्य के साथ वो सदस्य एक कार में था जब उसे निशाना बनाया गया और इस हमले मे दोनों लोग मारे गए हैं.

वहीं अमेरिकी अधिकारियों ने अमेरिकी नागरिकों को नई चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि संभावित हमलों के मद्देनज़र वे एयरपोर्ट के दरवाज़ों से दूर रहें.

काबुल एयरपोर्ट के बाहर गुरुवार, 26 अगस्त को हुए बर्बर हमले की ज़िम्मेदारी इस्लामिक स्टेट ऑफ़ ख़ुरासान प्रॉविंस (ISKP) ने ली थी. इसे ISIS-K, IS-K जैसे नाम से भी जाना जाता है. हमले के बाद ISKP ने बाकायदा स्टेटमेंट जारी किया था. इसके मुताबिक, तालिबानी लड़ाके इस हमले का निशाना नहीं थे. आतंकी अमेरिकी सैनिकों और उनके अफ़ग़ान सहयोगियों को नुकसान पहुंचाने के इरादे से आए थे. स्टेटमेंट के साथ आत्मघाती हमलावर की तस्वीर भी जारी की गई है. उसका नाम अब्दुल रहमान अल-लोगारी बताया गया.

बाइडेन ने बदला लेने की बात कही थी

काबुल एयरपोर्ट पर हुए हमले के बाद अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने अपने बयान में कहा था कि इस हमले में शामिल किसी भी आतंकी को नहीं बख्शा जाएगा और सभी को ढूंढ- ढूंढकर मारा जाएगा. अमेरिका ने साफ कहा कि ISIS के आतंकी जीतेंगे नहीं. बाइडेन ने अमेरिकी मिलिट्री कमांडरों से कहा था कि वह हमले के लिए जिम्मेदार ISIS-खोरासान को सबक सिखाने की रणनीति तैयार करें. उसके नेतृत्व और अहम ठिकानों पर कार्रवाई का ऑपरेशनल प्लान बनाएं. बाइडेन ने कहा था कि इसके लिए अमेरिकी सेना को जिस भी चीज की जरूरत होगी, चाहे वो अतिरिक्त सैनिक हों या किसी और तरह की मदद, उन्हें दी जाएगी. इस हमले में अमेरिका के 13 सैनिक मारे गए जिनमें से 12 मरीन्स थे.

Biden
अमेरिकी सैनिकों की मौत के बाद बाइडेन ने बदले की बात कही थी. इस दौरान वे काफी भावुक हो गए थे. फोटो- PTI

आतंकी संगठन है ISKP

ISKP यानी इस्लामिक स्टेट खुसारान प्रांत. ये आतंकी संगठन अफगानिस्तान के अलावा पाकिस्तान में भी अपना दबदबा रखता है. इस संगठन का मानना है कि तालिबान ने समझौते और बातचीत की राह चुनकर गलत किया है. ISKP, कजाखस्तान से लेकर कीर्गिस्तान तक और उज्बेकिस्तान से लेकर तुर्कमेनिस्तान तक, इस्लामिक स्टेट की हुकूमत कायम करना चाहता है. यही नहीं इस संगठन के प्लान में आधा चीन, पाकिस्तान और भारत के उत्तरी राज्य भी शामिल हैं. ISKP के चीफ का नाम है असलम फारूकी जो पाकिस्तान का रहने वाला है. ऐसा माना जाता है कि इस आतंकी संगठन के लिंक कहीं ना कहीं पाकिस्तान से भी जुड़े हैं.


वीडियो- अफगानिस्तान में आगे क्या होगी भारत की रणनीति?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

रेप के मामले में पूर्व IPS अमिताभ ठाकुर पर क्या आरोप है कि यूपी पुलिस ने इस तरह धर लिया?

रेप का आरोप लगाने वाली महिला ने कुछ दिन पहले आत्मदाह कर लिया था.

डॉ. कफील खान को CAA पर 'भड़काऊ' भाषण देने के मामले में बहुत बड़ी राहत मिल गई है

डॉ. कफील खान ने कहा- भारतीय लोकतंत्र अमर रहे!

काबुल एयरपोर्ट के बाहर सीरियल ब्लास्ट में 12 US कमांडो समेत 100 से ज्यादा की मौत, IS ने ली जिम्मेदारी

इन धमाकों में 143 से ज्यादा लोगों के घायल होने की खबर है.

इस लीक हुए डॉक्यूमेंट की मानें, तो कांग्रेस सोनू सूद को मुंबई का मेयर बनाना चाहती है!

बताया जा रहा है 25 पन्नों के इस कथित चुनाव रणनीति डॉक्यूमेंट को मुंबई कांग्रेस के सेक्रेटरी गणेश यादव ने तैयार किया है.

क्या एक केंद्रीय मंत्री को किसी राज्य की पुलिस गिरफ्तार कर सकती है?

भारत के इतिहास में तीसरी बार केंद्रीय मंत्री को गिरफ्तार किया गया है. पहले दो कौन थे, जानते हैं?

केंद्रीय मंत्री नारायण राणे गिरफ्तार किए गए, CM उद्धव ठाकरे को थप्पड़ मारने की बात कही थी

केंद्रीय मंत्री नारायण राणे के बयान से महाराष्ट्र की राजनीति उबल रही है.

इनकम टैक्स पोर्टल से जनता इतनी परेशान हुई कि वित्त मंत्री ने इंफोसिस के CEO को तलब कर लिया

मुलाकात से पहले ही इन्फोसिस ने सारा सिस्टम ठीक कर दिया.

मद्रास हाई कोर्ट ने केंद्र से क्यों कहा- हिंदी में जवाब देना कानून का उल्लंघन?

केंद्र सरकार के अधिकारियों के खिलाफ एक्शन लेने तक की सलाह दे दी.

अफगानिस्तान: काबुल छोड़ने की कोशिश में प्लेन से गिरकर नेशनल फुटबॉलर की मौत

19 साल के जाकी अनावरी अफगानिस्तान के उभरते फुटबॉलर थे.

विकी कौशल की बहुप्रतीक्षित फ़िल्म 'दी इम्मोर्टल अश्वत्थामा' के साथ बड़ा पंगा हो गया

'दी इम्मोर्टल अश्वत्थामा' का बेसब्री से इंतज़ार कर रहे फैन्स को ये खबर ज़रूर पढ़नी चाहिए.