Submit your post

Follow Us

फिल्म 'पानीपत' को लेकर अफगानिस्तान में ये क्या हो रहा है?

5
शेयर्स

आशुतोष गोवारिकर की पीरियड ड्रामा ‘पानीपत’ को लेकर अफगानिस्तान में बहस शुरू हो गई है. 5 नवंबर को फिल्म का ट्रेलर रिलीज हुआ था. इसके बाद संजय दत्त के किरदार ‘अहमद शाह अब्दाली’ को लेकर सोशल मीडिया पर लोग दो धड़ों में बट गए हैं. कुछ लोगों का कहना है कि फिल्म में अब्दाली को अपमानित तरीके से दिखाया गया है. वहीं कुछ लोगों का कहना है कि फिल्म रिलीज होने के बाद कुछ कहा जा सकता है. एक यूजर ने पानीपत की तुलना पद्मावत से की है.

 

‘पानीपत’ के ट्रेलर रिलीज से एक दिन पहले संजय दत्त ने अपने लुक को ट्विटर पर शेयर किया था. उनके पोस्ट पर भारत में अफगानिस्तान के पूर्व राजदूत रहे शाइदा अब्दाली ने लिखा-

डियर संजय दत्त जी, ऐतिहासिक तौर पर भारतीय सिनेमा भारत और अफगान संबंधों को मजबूत करने में अहम भूमिका निभा रहा है. मुझे उम्मीद है कि ‘पानीपत’ फिल्म ने हमारे साझा इतिहास के इस अहम घटनाक्रम को लेकर इस बात को ध्यान में रखा होगा.

 

जब सोशल मीडिया पर बहस बढ़ने लगी तो अफगानिस्तान के वाणिज्य दूतावास अधिकारी नसीम शरीफी ने  ट्वीट किया. उन्होंने लिखा कि संजय दत्त ने उन्हें भरोसा दिलाया है कि अगर अहमद शाह के किरदार के साथ कोई छेड़छाड़ की गई होती तो वो खुद ही इस फिल्म में काम नहीं करते.

ये फिल्म ‘पानीपत’ के तीसरे युद्ध की कहानी बताएगी, जो 1761 में हुआ था. फिल्म में अर्जुन कपूर ‘सदाशिव राव’ और कृति सेनन उनकी पत्नी ‘पार्वती बाई’ के किरदार में हैं. ‘अब्दाली’ के कैरेक्टर में संजय दत्त हैं.

Panipat Trailer 759

बेसिक कहानी ये है कि मराठा साम्राज्य अपने चरम पर था. हिंदुस्तान में ऐसा कोई नहीं था, जो उन्हें चैलेंज कर सके. लेकिन तभी अफगानिस्तानी शासक ‘अहमद शाह अब्दाली’ भारत आता है, जो मराठों को खत्म कर हिंदुस्तान पर राज़ करना चाहता है. ‘अब्दाली’ की सेना को पीछे हटाने के लिए मराठों का कमांडर-इन-चीफ सदाशिव राव भाउ निकलता है. ‘अहमद शाह अब्दाली’ और सदाशिव राव की सेनाएं ‘पानीपत’ के मैदान में एक-दूसरे सामने आती हैं. और फाइनली सदाशिव राव यानी मराठों की सेना की इस युद्ध में हार होती है.

फिल्म की रिलीज डेट 6 दिसंबर है. उम्मीद है ये बहस पद्मावत की तरह जोर नहीं पकड़ेगी और तय तारीख पर सिनेमाघरों में लोग देख सकेंगे.


Video : दबंग 3 ट्रेलर की गलती से सलमान खान फैंस भी काफी निराश दिखाई दे रहे हैं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

नेहरु से इतना प्यार? मोदी अब बिना कांग्रेस के नेहरू का ख्याल रखेंगे

एक भी कांग्रेस का नेता नहीं. एक भी नहीं.

शरद पवार बोले- महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगने से बचाना है, तो बस एक ही तरीका है

शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाने की मिस्ट्री पर क्या कहा?

मोदी को क्लीन चिट न देने वाले चुनाव अधिकारी को फंसाने का तरीका खोज रही सरकार!

11 कंपनियों से सरकार ने कहा, कोई भी सबूत निकालकर लाओ

दफ़्तर में घुसकर महिला तहसीलदार पर पेट्रोल छिड़का, फिर आग लगाकर ज़िंदा जला दिया

इस सबके पीछे एक ज़मीन विवाद की वजह बताई जा रही है. जिसने आग लगाई, वो ख़ुद भी झुलसा.

दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट में पुलिस और वकीलों के बीच झड़प, गाड़ियां फूंकी

पुलिस और वकील इस झड़प की अलग-अलग कहानी बता रहे हैं.

US ने जारी किया विडियो, देखिए कैसे लादेन स्टाइल में किया गया बगदादी वाला ऑपरेशन

अमेरिका ने इस ऑपरेशन से जुड़े तीन विडियो जारी किए हैं.

लल्लनटॉप कहानी लिखिए और एक लाख रुपये का इनाम जीतिए

लल्लनटॉप कहानी कंपटीशन लौट आया है. आपका लल्लनटॉप अड्डे पर पहुंचने का वक्त आ गया है.

अमेठी: पुलिस हिरासत में आरोपी की मौत, 15 पुलिसवालों के खिलाफ केस दर्ज

मौत कैसे हुई? मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए गए हैं.

PMC खाताधारकों ने बीजेपी नेता को घेरा, तो पुलिस ने उन्हें बचाकर निकाला

RBI के साथ मीटिंग करने पहुंचे थे.

इस विदेशी सांसद को कश्मीर आने का न्योता दिया फिर कैंसल कर दिया, वजह हैरान करने वाली है

सांसद ने ऐसी शर्त रख दी थी कि विदेशी डेलिगेशन का हिस्सा नहीं बन पाए.