Submit your post

Follow Us

अशरफ गनी सामने आए, बोले- इतनी जल्दी में अफगानिस्तान छोड़ा कि जूते तक नहीं पहन पाया

काबुल पर तालिबान के कब्जे के बीच 15 अगस्त को अफगानिस्तान (Afghanistan) छोड़ने वाले राष्ट्रपति अशरफ गनी (Ashraf Ghani) दुनिया के सामने आए. अफगानिस्तान में सरकार के बेदखल होने के बाद पहली बार उन्होंने अपनी बात सामन रखी. वो भी फेसबुक के जरिए. फेसबुक पर जारी वीडियो में अशरफ गनी ने बताया कि वह परिवार सहित संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में शरण ले चुके हैं. उन्होंने अफगानिस्तान छोड़कर जाने का कारण भी बताया. पैसे लेकर भागने के आरोपों पर भी सफाई दी. कहा कि उन्हें काबुल से ऐसे हालात में निकलना पड़ा कि वह अपने जूते तक नहीं पहन पाए थे.

गनी ने वीडियो में क्या कहा?

फेसबुक पर जारी अपने 9 मिनट के वीडियो में अशरफ गनी ने अपने देश छोड़ने के हालात और तरीके के बारे में तफ्सील से बताया. उन्होंने कहा कि अगर वह मुल्क छोड़कर नहीं जाते तो बहुत खून-खराबा होता. मैं अपने देश में ऐसा होते नहीं देख सकता था, इसलिए मुझे हटना पड़ा. मुझे भी फांसी पर लटका दिया जाता. गनी इस वीडियो में कह रहे हैं कि

“तालिबान से हुए समझौते में साफ कहा गया था कि वो काबुल शहर के अंदर नहीं आएंगे. रविवार (15 अगस्त) दोपहर मुझे मेरे गार्ड्स ने बताया कि तालिबान राष्ट्रपति महल की बाउंड्री वॉल तक पहुंच चुके हैं. अगर मैं अफगानिस्तान में रहता तो देश के लोग एक और राष्ट्रपति को सरेआम फांसी के फंदे पर लटकते देखते.”

17 जुलाई को काबुल में रूसी दूतावास की तरफ से बयान जारी करके दावा किया गया था कि अशरफ गनी अपने साथ चार कारों और एक हेलिकॉप्टर में भरकर कैश ले गए हैं. ये भी दावा किया गया कि कुछ कैश जब कारों और हेलिकॉप्टर में नहीं समाया तो उसे लावारिस छोड़ दिया गया. इस पर अशरफ गनी ने कहा है कि

“मैं देश से किसी तरह का कैश लेकर नहीं निकला. मैंने यूएई पहुंचने के बाद एक आम नागरिक की तरह कस्टम क्लियरेंस ली. इसकी तस्दीक कस्टम से की जा सकती है. मैं इतनी जल्दबाजी में देश से निकला कि अपने जूते तक नहीं पहन पाया. मैं बस अपने कपड़े ही साथ लाया हूं. अपनी लाइब्रेरी साथ लाना चाहता था, लेकिन ये भी मुमकिन नहीं हो सका.”

अमेरिकी प्रेसिडेंट जो बाइडन और नाटो चीफ ने इस तरह के बयान दिए थे कि अफगानिस्तान की सेना को तालिबान का मुकाबला करना चाहिए था लेकिन उसने ऐसा नहीं किया. इस पर अशरफ गनी ने कहा कि

“हमारे सुरक्षा बल नाकाम नहीं रहे. देश के बड़े नेता और इंटरनेशनल कम्युनिटी नाकाम रही है. मैं अपने मुल्क लौटना चाहता हूं. इसके लिए हामिद करजई और अब्दुल्ला अब्दुल्ला के संपर्क में हूं. यही लोग तालिबान से बातचीत कर रहे हैं. मैं चाहता हूं कि ये बातचीत सफल हो.”

तालिबान के काबुल पर कब्जा करने के ठीक पहले अशरफ गनी ने परिवार और कुछ बेहद करीबियों के साथ देश छोड़ दिया था. इसके अगले दिन 16 अगस्त को एक फेसबुक पोस्ट में गनी ने कहा था कि उन्होंने देश के लोगों को खून-खराबे से बचाने के लिए यह कदम उठाया. हालांकि उन्होंने अपनी लोकेशन की जानकारी नहीं दी थी. पहले अटकलें लगाई गई थीं कि वह ताजिकिस्तान, उज्बेकिस्तान या फिर ओमान में हो सकते हैं. गनी की पत्नी लेबनान मूल की हैं. लिहाजा, ये भी कयास लगाए गए कि वह बेरूत में हो सकते हैं. कुछ खबरों में कहा गया कि पूर्व अफगान राष्ट्रपति अमेरिका पहुंच चुके हैं. हालांकि, अब इन कयासों पर गनी ने खुद विराम लगा दिया है. गनी ने फेसबुक पोस्ट में साफतौर पर बताया है कि वो UAE में हैं.


वीडियो – अफगानिस्तान में अब पूरी तरह से तालिबान का कब्जा, राष्ट्रपति अशरफ गनी ने दिया इस्तीफा

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

केरल के साथ उत्तराखंड में भी बारिश का कहर, सड़कें, इमारतें, पुल ध्वस्त, 16 की मौत

केरल के साथ उत्तराखंड में भी बारिश का कहर, सड़कें, इमारतें, पुल ध्वस्त, 16 की मौत

केरल में भारी बारिश के कारण हुई मौतों की संख्या 35 तक पहुंची.

जिस CBI अफसर को केस बंद करने के लिए सौंपा गया था, उसी ने सलाखों के पीछे पहुंचा दिया राम रहीम को

जिस CBI अफसर को केस बंद करने के लिए सौंपा गया था, उसी ने सलाखों के पीछे पहुंचा दिया राम रहीम को

इंसाफ दिलाने के लिए धमकियों और खतरों की परवाह नहीं की.

लगातार दूसरे दिन आतंकियों ने गैर कश्मीरी मजदूरों को बनाया निशाना, 2 की मौत, 1 घायल

लगातार दूसरे दिन आतंकियों ने गैर कश्मीरी मजदूरों को बनाया निशाना, 2 की मौत, 1 घायल

पुलिस और सुरक्षा बलों ने इलाके को घेरा.

केरल में भारी बारिश से तबाही, 25 से ज़्यादा मौतें, कई लापता

केरल में भारी बारिश से तबाही, 25 से ज़्यादा मौतें, कई लापता

पीएम मोदी ने केरल के मुख्यमंत्री से की बात.

श्रीनगर में बिहार के रेहड़ीवाले और पुलवामा में यूपी के मजदूर की गोली मारकर हत्या

श्रीनगर में बिहार के रेहड़ीवाले और पुलवामा में यूपी के मजदूर की गोली मारकर हत्या

कश्मीर ज़ोन पुलिस ने बताया घटनास्थलों को खाली कराया गया. तलाशी जारी.

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

राकेश टिकैत ने भी मीडिया से बात की है.

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

कुरान को लेकर अफवाह उड़ी और बांग्लादेश के कई हिस्सों में सांप्रदायिक तनाव फैल गया.

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

जज ने दोनों पक्षों की दलीलें तो सुनी लेकिन अपना फैसला रिज़र्व रख दिया.

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

किसी ने लोन लेकर परिवार को नया घर दिया था तो कोई दिवंगत पिता के शोक में जाने वाला था.

दिल्ली में संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

दिल्ली में संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

पुलिस ने संदिग्ध आतंकी के पास से एके-47, हैंड ग्रेनेड और कई कारतूस मिलने का दावा किया है.