Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

देश के इतिहास में पहली बार सुप्रीम कोर्ट के चार जजों को प्रेस कॉन्फ्रेंस क्यों करनी पड़ी?

8.77 K
शेयर्स

भारत के इतिहास में पहली बार सुप्रीम कोर्ट के चार सेवारत जजों ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की है. ये प्रेस कॉन्फ्रेस चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया दीपक मिश्रा के बाद सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठतम जज जस्टिस जे चेलमेश्वर के घर पर हुई. जस्टिस चेलमेश्वर के साथ इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस मदन लोकुर और जस्टिस कुरियन जोसफ भी मौजूद थे. मीडिया के सवालों के जवाब जस्टिस चेलमेश्वर ने दिए.

इस प्रेस कॉन्फ्रेंस के तुरंत बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद को मिलने के लिए बुलाया.

क्या कहा जजों ने?

जस्टिस चेलमेश्वर ने कहा कि वो और उनके तीन साथी जज आज सुबह चीफ जस्टिस से मिले और सुप्रीम कोर्ट में अनियमितताओं पर कार्रवाई करने की अपील की. लेकिन जब बात नहीं बनी, तब उन्होंने अपनी बात एक खत में लिख दी. ये खत मीडिया को कुछ देर में मिलने वाली है.

जस्टिस चेलमेश्वर ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट में ऐसी चीज़ हो रही हैं, जिसके कारण न्यायपालिका की निष्ठा पर सवाल उठे हैं. जब पत्रकारों ने पूछा कि मामला क्या है, तो जस्टिस चेलमेश्वर ने कहा कि उन्होंने अपनी बात एक खत में कह दी है. उस खत की कॉपी आपको मिल जाएगी. उन्होंने कहा कि वो नहीं चाहते कि लोग कहें कि हमने अपनी आत्मा बेच दी है. इसलिए हम अपनी बात देश के सामने रख रहे हैं.

ये पूछने पर कि क्या आप चाहते हैं कि सीजेआई पर महाभियोग चले? तो जस्टिस चेलमेश्वर ने कहा कि वो ऐसा कुछ नहीं कह रहे है. इस विषय पर देश को निर्णय लेना है. हमारे पास कोई विकल्प नहीं बचा था. हम देश का कर्ज़ अदा कर रहे हैं.

आखिर मुद्दा क्या है?

ये तब ही सामने आएगा जब जजों का खत सामने आ जाएगा. लेकिन कयास ये लगाए जा रहे हैं मामला नवंबर 2017 का हो सकता है. तब जस्टिस चेलमेश्वर और चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के बीच एक केस के अलॉकेशन को लेकर कुछ विवाद हुआ था. ये मामला न्यायपालिका में भ्रष्टाचार से जुड़ा था. लखनउ के एक मेडिकल कॉलेज द्वारा घूस दिए जाने के बाद उसे ब्लैक लिस्ट कर दिया गया था. इस निर्णय को पलटने के लिए कोर्ट केस चल रहा था.

पूरे मामले पर सीजेआई दीपक मिश्रा ने बस इतना कहा है कि सुप्रीम कोर्ट में सभी जज बराबर हैं और सुप्रीम कोर्ट में सभी जजों को काम का बंटवारा बराबरी से ही किया जा रहा है.


ये भी पढ़िए:

जस्टिस लोया की मौत का पूरा मामला

जानिए जज जगदीप सिंह को, जिन्होंने राम रहीम के फैसले पर दस्तखत किए


वीडियो: क्या सोनिया गांधी के इस खास जज ने दीवाली पर बैन किए हैं पटाखे?

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
4 Senior most Judges of Supreme Court Justice J Chelameswar, Ranjan Gogoi, Justice Madan Lokur and Justice Kurien Joseph address media on issue related to Chief Justice of India Deepak Mishra

क्या चल रहा है?

रायडू ने रनआउट होने के बाद रैना के साथ जो किया, उसकी उम्मीद किसी ने ना की होगी

अपने गुस्से के लिए मशहूर हैं अंबाती रायडू.

सुरेश रैना ने टीम को तो बचाया ही, विराट कोहली से अपना ये रिकॉर्ड भी छीन लिया है

चेन्नई का जादू : पहले नौ ओवर में 41 रन, फिर 11 ओवर में 141 रन

और मत खिलाओ ईशांत को! भाई ने दिल पे ले लिया है, तभी ऐसा शानदार खेल रहा है

इंग्लैंड में डंका बज रहा है ईशांत शर्मा का.

अब छह महीने की बच्ची का रेप और मर्डर, लाश ले जानेवाले पुलिसवाले तक रो पड़े

बलात्कार के बाद शायद जमीन पर पटक कर मार दिया.

सूरत रेप केस सॉल्व होने में जो पता चला, वो दिल दहला देता है

कड़ियों को जोड़कर नतीजे पर पहुंची है सूरत पुलिस.

वॉटसन ने राजस्थान के साथ वही किया, जो कभी क्रिस गेल ने KKR के साथ किया था

ये गेम नहीं आसां, बस इतना समझ लीजे, इक गोल सी गेंद है और कूटते जाना है.

कठुआ में बच्ची के साथ रेप हुआ या नहीं, फॉरेंसिक रिपोर्ट ने सब साफ कर दिया

अखबारों में ख़बर आई थी कि रेप हुआ ही नहीं है.