Submit your post

Follow Us

छत्तीसगढ़ः सुकमा में नक्सली हमले में 17 जवान शहीद

छत्तीसगढ़ का सुकमा जिला. यहां का चिंतागुफा इलाका घोर नक्सल प्रभावित है. यहां शनिवार 21 मार्च को हुए नक्सली हमले में 17 जवान शहीद हो गए हैं. इनके शव 22 मार्च को बरामद किए गए. इस हमले में 11 जवान घायल हुए हैं, जिनका रायपुर के एक निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है. बस्तर रेंज आईजी सुंदर राज पी ने PTI से बातचीत में जवानों के शव मिलने की खबर की पुष्टि की है.

शहीद जवानों में पांच एसटीएफ के और 12 डीआरजी के हैं. उन्होंने बताया कि हमले के बाद नक्सिलयों ने 15 बंदूकें और एक UBGL (अंडर बैरल ग्रेनेड लॉन्चर) भी लूट लिये.

कैसे हुआ अटैक?

21 मार्च की दोपहर डिस्ट्रिक्ट रिज़र्व गार्ड (DRG) , एसटीएफ और CRPF के कोबरा जवानों की संयुक्त टीम सर्च ऑपरेशन पर निकली थी. इस टीम में करीब 600 जवान शामिल थे. जवानों को सूचना मिली थी कि एलमागुंडा में नक्सली मौजूद हैं. इस सूचना के बाद जवान चिंतागुफा, बुर्कापाल और तिमेलवाड़ा कैम्प से एलमागुंडा की तरफ बढ़ रहे थे. जैसे ही वो कोरजगुड़ा की पहाड़ियों के करीब पहुंचे नक्सलियों की तरफ से फायरिंग शुरू हो गई. डिफेंस में जवानों ने भी गोलीबारी की. जवानों की कार्रवाई के बाद नक्सली जंगल की तरफ भाग गए.

पुलिस के मुताबिक, करीब 250 नक्सिलयों ने जवानों पर हमला किया था.

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रायपुर के अस्पताल में घायल जवानों से मुलाकात की.
छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रायपुर के अस्पताल में घायल जवानों से मुलाकात की.

घायल जवानों को एयरलिफ्ट कर रायपुर लाया गया है. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 22 मार्च को अस्पताल पहुंचकर जवानों का हालचाल लिया. इसके साथ ही शहीदों के श्रद्धांजलि देते हुए उन्होंने ट्वीट किया कि दुश्मनों का दर्द यही है कि हम हर हमले के बाद संभल जाते हैं.

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह ने 17 जवानों की शहादत पर शोक व्यक्त करते हुए ट्वीट किया.

वहीं एमपी के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भी ट्विटर पर शोक व्यक्त किया.

सुकमा में नक्सली हमले में कई वीर सपूतों के शहीद होने के समाचार से अत्यंत दुःखी हूं। ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शांति और परिजनों को यह वज्रपात सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना करता हूं! विनम्र श्रद्धांजलि! देश अपने सपूतों के बलिदान को नहीं भूलेगा, इन दरिंदों को सबक सिखायेगा। — Shivraj Singh Chouhan (@ChouhanShivraj) March 22, 2020


पड़ताल: क्या नरेंद्र मोदी सरकार कोरोना वायरस पर बिना बताए कुछ बड़ा करने जा रही?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

अवमानना वाले मामले में सुप्रीम कोर्ट ने प्रशांत भूषण को क्या सज़ा दी है?

प्रशांत भूषण के दो ट्वीट का मुद्दा था.

अनलॉक-4 की गाइडलाइंस जारी, मेट्रो चलेगी, जानिए स्कूल खोलने को लेकर क्या कहा गया है

धार्मिक और राजनीतिक कार्यक्रमों को लेकर क्या छूट मिली है?

NEET, JEE आगे बढ़ाने की मांग कर रहे छात्र ये पांच कारण बता रहे हैं

तय समय पर परीक्षा कराने के लिए 150 शिक्षाविदों ने लिखी PM मोदी को चिट्ठी.

कोर्ट ने कहा, ये शर्त पूरी किए बिना अनुराग ठाकुर और प्रवेश वर्मा पर दिल्ली दंगों में हेट स्पीच का केस नहीं

बीजेपी नेताओं के खिलाफ़ याचिका ख़ारिज करते हुए अदालत ने और क्या कहा, ये भी पढ़िए.

पाकिस्तान के किस बयान में इंडिया ने एक के बाद एक पांच झूठ पकड़ लिए हैं?

पाकिस्तान ने आतंकवाद फैलाने में भारत का नाम ले लिया, बस हो गया काम.

सोनिया-राहुल को पत्र लिखने पर कांग्रेस मंत्री ने नेताओं से कहा, ‘खुल्लमखुल्ला टहलने नहीं दूंगा’

माफ़ी नहीं मांगने पर परिणाम भुगतने की बात कर डाली.

प्रशांत भूषण के खिलाफ़ अवमानना का मुक़दमा सुन रहे सुप्रीम कोर्ट के इन तीन जजों की कहानी क्या है?

पूरी रामकहानी यहां पढ़िए.

महाराष्ट्र: रायगढ़ में पांचमंज़िला इमारत ढही, 50 से ज़्यादा लोग दबे

एनडीआरएफ की तीन टीमें राहत के काम में जुटी हैं.

क्या 73 दिन में कोरोना वैक्सीन आ रही है? बनाने वाली कंपनी ने बताई सच्ची-सच्ची बात

कन्फ्यूजन है कि खुश होना है या अभी रुकना है?

प्रशांत भूषण ने कही ये बात, तो कोर्ट बोला- हजार अच्छे काम से गुनाह करने का लाइसेंस नहीं मिल जाता

बचाव में उतरे केंद्र की अपील, सजा न देने पर विचार करें, सुप्रीम कोर्ट ने दिया दो-तीन दिन का वक्त