Submit your post

Follow Us

10वीं के स्टूडेंट ने ऐसा गुनाह किया कि पुलिस वाले भी दंग रह गए

5
शेयर्स

जुर्म की ना कोई उम्र होती है और ना कोई मज़हब. जुर्म सिर्फ़ जुर्म होता है. हैदराबाद में किडनैपिंग के मामले में जिसे गिरफ़्तार किया गया है वो अगर सामने मिल जाए तो आपको कितना मासूम लगेगा. एक सातवीं के छात्र के किडनैपिंग मामले में पुलिस लगातार हाथ पांव मार रही थी. लेकिन जब साज़िश करने वाला सामने आया तो सबके होश उड़ गए. लड़का निकला दसवीं का छात्र. और इसी छात्र ने पूरे पुलिस विभाग को छका रखा था.

# हुआ क्या?

सातवीं कक्षा के एक स्टूडेंट अर्जुन की किडनैपिंग हुई रचाकोंडा नाम के इलाके से. मामला हैदराबाद का है. अर्जुन के पिता ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवा दी. सामने से किडनैपिंग करने वाला बार-बार फोन करके 3 लाख मांग रहा था. पुलिस और अर्जुन के पिता समेत कई लोग इस केस को सुलझाने में लगे थे. जैसे ही किडनैपर का फोन आया अर्जुन के पिता डर गए. सामने से किडनैपर 3 लाख मांग रहा था लेकिन अर्जुन के पिता राजू डेढ़ लाख तक देने को तैयार थे.

असल में ये सारी बातचीत पुलिस भी सुन रही थी. क्योंकि राजू ने किडनैपर का पहला फोन आते ही सबसे पहला काम पुलिस को फोन करने का किया था. पुलिस के कहने पर राजू ने किडनैपर को आधे घंटे तक फोन पर इंगेज रखा. इसी दौरान पुलिस ने किडनैपर की लोकेशन निकाल ली. गिरफ़्तारी हो गई. और जिसकी गिरफ़्तारी हुई उसे देखकर लोगों ने दांतों तले उंगली दबा ली. एक दसवीं का छात्र इस सबके पीछे था ये मानना बहुत मुश्किल लग रहा था लेकिन जब पुलिस ने मामला साफ़ कर ही दिया तो मानना ही पड़ता.

असल में जिसे किडनैपिंग के लिए गिरफ़्तार किया गया है उस लड़के पर पहले भी अपने पड़ोसी के घर से लाख रुपया चोरी करने का आरोप है.


ये भी देखें:

NSO सर्वे: क्या नोटबंदी और GST की वजह से 40 साल में सबसे निचले स्तर पर है लोगों की खर्च करने की क्षमता?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

सरकार Facebook से यूजर्स की जानकारी मांग रही है

2 साल में तीन गुनी हुई इमरजेंसी रिक्वेस्ट्स की संख्या.

पुनर्विचार की सभी याचिकाएं खारिज करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने रफ़ाल को हरी झंडी दी

राहुल गांधी ने पीएम मोदी को रफ़ाल डील में भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए खूब घेरा था.

महाराष्ट्र में नहीं बनी शिवसेना-एनसीपी की सरकार, अब लगेगा राष्ट्रपति शासन

एनसीपी को सरकार बनाने के लिए आज शाम साढ़े आठ बजे तक का समय मिला था.

करतारपुर कॉरिडोर: PM मोदी ने इमरान को शुक्रिया कहा, लेकिन इमरान का जवाब पीएम मोदी को पसंद नहीं आएगा

वहां पर भी कॉरिडोर से ज़्यादा 'विवादित मुद्दे' पर ही बोलता नज़र आया पाकिस्तान.

सुप्रीम कोर्ट का फैसला: विवादित ज़मीन रामलला को, मुस्लिम पक्ष को कहीं और मिलेगी ज़मीन

जानिए, कोर्ट ने अपने फैसले में और क्या-क्या कहा है...

नेहरु से इतना प्यार? मोदी अब बिना कांग्रेस के नेहरू का ख्याल रखेंगे

एक भी कांग्रेस का नेता नहीं. एक भी नहीं.

शरद पवार बोले- महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगने से बचाना है, तो बस एक ही तरीका है

शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाने की मिस्ट्री पर क्या कहा?

मोदी को क्लीन चिट न देने वाले चुनाव अधिकारी को फंसाने का तरीका खोज रही सरकार!

11 कंपनियों से सरकार ने कहा, कोई भी सबूत निकालकर लाओ

दफ़्तर में घुसकर महिला तहसीलदार पर पेट्रोल छिड़का, फिर आग लगाकर ज़िंदा जला दिया

इस सबके पीछे एक ज़मीन विवाद की वजह बताई जा रही है. जिसने आग लगाई, वो ख़ुद भी झुलसा.

दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट में पुलिस और वकीलों के बीच झड़प, गाड़ियां फूंकी

पुलिस और वकील इस झड़प की अलग-अलग कहानी बता रहे हैं.