Submit your post

Follow Us

पड़ताल: कोरोना वायरस का खुलासा करने वाले चीनी डॉक्टर ने चाय को इसका इलाज बताया था?

दावा

सोशल मीडिया पर एक पोस्ट खूब शेयर हो रही है. इसमें दावा किया जा रहा है कि चीन के जिस डॉक्टर ने कोरोना वायरस के संकट को उजागर किया था और उसकी मौत हो गई थी, उस डॉक्टर के कुछ रिसर्च पेपर्स बाहर आए हैं. दावा है कि इनमें कोरोना वायरस के इलाज के बारे में लिखा गया है. दावे के अनुसार, इस रिपोर्ट में ये लिखा है कि चाय पीने से कोरोना वायरस को ठीक किया जा सकता है. साथ ही, इस ख़बर को अमेरिकी न्यूज़ चैनल CNN की ब्रेकिंग न्यूज़ के तौर पर साझा किया जा रहा है.

ट्विटर अकाउंट @Pdizaina05 ने लिखा,

CNN की ब्रेकिंग न्यूज़ :

चीन के हीरो डॉ. ली वेनलियांग, जिनको कोरोना वायरस का सच बताने के लिए सजा दी गई और उनकी बाद में उसी संक्रमण से मौत हो गई. उन्होंने रिसर्च के लिए केस फाइल्स तैयार किए हैं. इसी में इस वायरस के इलाज के बारे में जानकारी दी गई है. जिससे इंसानों में कोविड-19 का असर बहुत कम हो जाता है.

इस थ्रेड के नीचे लिखा है कि ली वेनलियांग ने इलाज के लिए जिस केमिकल कम्पाउंड का ज़िक्र किया, उसे भारत में चाय के नाम से जाना जाता है.

ऐसे ही दावे फ़ेसबुक (आर्काइव लिंक) पर भी शेयर किए जा रहे हैं.

इस वायरल पोस्ट में चाय को कोरोना वायरस का इलाज बताया गया है.
इस वायरल पोस्ट में चाय को कोरोना वायरस का इलाज बताया गया है.

पड़ताल

‘दी लल्लनटॉप’ ने इस दावे की पड़ताल की. हमारी पड़ताल में ये दावा भ्रामक निकला. हमने कीवर्ड्स के साथ सीएनएन की वेबसाइट और चैनल के सोशल मीडिया अकाउंट पर इसकी छानबीन की, लेकिन हमें ऐसी कोई रिपोर्ट नहीं मिली, जिसमें चाय को कोरोना वायरस का इलाज बताया गया हो.

हमें चीन के डॉक्टर ली वेनलियांग के बारे में सीएनएन की एक रिपोर्ट मिली, जिन्होंने सबसे पहले कोरोना वायरस संकट के बारे में आगाह किया था. लेकिन उन्हें चुप रहने के लिए कहा गया. बाद में वो भी इस वायरस से संक्रमित हो गए और उनकी मौत हो गई. बीबीसी की रिपोर्ट में भी डॉ. ली वेनलियांग के बारे में लिखा गया है.

लेकिन, इन रिपोर्ट्स में ऐसी किसी दवा का जिक्र नहीं है, जिसका दावा सोशल मीडिया यूजर्स कर रहे हैं. अभी तक कोरोना वायरस की कोई भी दवा या वैक्सीन नहीं खोजी जा सकी है. दुनियाभर के वैज्ञानिक रिसर्च में लगे हुए हैं.

भारत सरकार की फ़ैक्ट-चेक संस्था पीआईबी फ़ैक्ट-चेक ने वायरल हो रहे दावे को ग़लत बताया,

नहीं! इस बात का कोई सबूत नहीं है कि चाय कोरोना वायरस को ठीक कर सकती है. सोशल मीडिया पर फैल रहे ऐसे उपचारों से सावधान रहिए जो कोरोना वायरस के इलाज के नुस्खे बताते हैं.

नतीजा

हमारी पड़ताल में चाय को कोरोना वायरस का खुलासा करने वाले डॉक्टर के हवाले से, इलाज बताता दावा भ्रामक निकला. कोरोना वायरस के संकट को उजागर करने वाले डॉक्टर ली वेनलियांग की कहानी सही है. लेकिन चाय को कोरोना वायरस का इलाज बताने वाली कोई भी वैज्ञानिक रिसर्च अभी सामने नहीं आई है. CNN ने ऐसी कोई भी रिपोर्ट पब्लिश नहीं की है.

अगर आपको भी किसी ख़बर पर शक है तो हमें मेल करें- padtaalmail@gmail.com पर. हम दावे की पड़ताल करेंगे और आप तक सच पहुंचाएंगे.

पड़ताल: कोरोना वायरस का खुलासा करने वाले चीनी डॉक्टर ने चाय को इसका इलाज बताया था?
  • दावा

    चीन के डॉक्टर ली वेनलियांग ने अपनी रिपोर्ट में चाय को कोरोना वायरस का इलाज बताया है.

  • नतीजा

    ये दावा भ्रामक है. इस बात के कोई वैज्ञानिक साक्ष्य नहीं हैं, जिसके अनुसार चाय कोरोना वायरस का इलाज है. कोरोना वायरस की अभी तक कोई दवा नहीं मिली है.

अगर आपको भी किसी जानकारी पर संदेह है तो हमें भेजिए, padtaalmail@gmail.com पर. हम पड़ताल करेंगे और आप तक पहुंचाएंगे सच.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें