Submit your post

Follow Us

पड़ताल: क्या इटली के लोगों ने कोरोना से तंग आकर अपनी दौलत सड़क पर फेंकनी शुरू दी?

दावा

फ़ेसबुक पर सड़क पर बिखरे नोटों की कुछ तस्वीरें वायरल हो रही हैं. साथ में दावा किया जा रहा है कि ये दृश्य इटली का है. कहा जा रहा है कि इटली में लोग दौलत को बेमतलब का बताकर सड़कों पर फेंक रहे हैं.

एक ने फ़ेसबुक पोस्ट में लिखा है (आर्काइव लिंक),

आज इटली में लोगों ने अपनी सारी दौलत सड़कों पर फेंक दिया उनका कहना है कि यह किसी काम का नहीं

आप अपनी दौलत से गरीबों की मदद करो नहीं तो एक दिन यह सिर्फ एक कागज का टुकड़ा ही रह जाएगा और आप भी ऐसे ही फेंकने पर मजबूर हो जाएंगे.

बताओ रब के किस-किस ताकत को झुठलाओगे दुनिया वाले रहबरों

आज इटली में लोगों ने अपनी सारी दौलत सड़कों पर फेंक दिया उनका कहना है कि यह किसी काम का नहीं
आप अपनी दौलत से गरीबों की…

Posted by Mairah Khan on Tuesday, 31 March 2020

इस पोस्ट को लगभग दो सौ बार शेयर किया जा चुका है. कई और फ़ेसबुक यूजर्स भी इस दावे कोपोस्टकर रहे हैं.

पड़ताल

‘दी लल्लनटॉप’ ने इस वायरल दावे की जांच की. हमारी पड़ताल में ये दावा ग़लत निकला. ये इटली की नहीं, वेनेज़ुएला की तस्वीरें हैं.

लाल रंग की गाड़ी के पास सड़क पर पड़े नोटों वाली तस्वीर को रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें 22 मार्च, 2019 की एकफ़ेसबुक पोस्ट (आर्काइव लिंक)मिली. ये पोस्ट 3.83 लाख से अधिक बार शेयर किया जा चुका है. पोस्ट में इस वक़्त वायरल हो रही तस्वीर लगी थी और लिखा था, 

ये वेनुज़ुएला की सड़क है. पैसे नालियो में बहाए जा रहे हैं. इनका कोई मूल्य नहीं है. समाजवाद में आपका स्वागत है.

This is a street in Venezuela. That’s money in the gutter. It’s worthless. Welcome to socialism.

Posted by Steve Hulett on Friday, 22 March 2019

इस पोस्ट से इतना पता चल गया कि ये तस्वीर कोरोना वायरस काल की नहीं है.

कीवर्ड्स की मदद से खोजने पर हमें फ़ैक्ट चेक वेबसाइट स्नोप्स की एकरिपोर्टमिली जिसने इस पूरी तस्वीर की तस्दीक कर दी. रिपोर्ट के मुताबिक़, तस्वीर वेनुज़ुएला की सड़क की ही थी. लेकिन वायरल कैप्शन भ्रामक था. 

दरअसल, वेनुज़ुएला में बेलगाम मुद्रास्फीति (Inflation) के कारण पुरानी करेंसी को बदल दिया गया था. अमेरिकी समाचार चैनल सीएनएन कीरिपोर्टके मुताबिक़,

अगस्त, 2018 में वेनुज़ुएला ने पुरानी करेंसी को बदल दिया था. इसके बाद पुरानी करेंसी का कोई मोल नहीं रह गया था.

वायरल हो रही तस्वीरों में से एक बैंक डकैती की है.

A bank was looted in Venezuela, and then the people burned the money to show it was worthless.

वेनुज़ुएला की न्यूज़ वेबसाइट मेदुरादस पर छपी 12 मार्च, 2019 कीरिपोर्टके अनुसार, एक दिन पहले (11 मार्च, 2019) कुछ नकाबपोश लोगों ने बाइसेंटेनिएरो बैंक एजेंसी में डकैती की. नेशनल एसेंबली के डिप्टी विलियम्स डाविला और पत्रकार लियोनार्डो लियोन ने इस ख़बर की पुष्टि की थी.

लोगों ने डकैती के बाद पुरानी करेंसी को सड़क पर फेंककर आग लगा दिया था. ताकि ये बता सकें कि लूटी गई करेंसी बेमतलब की हैं. मीडिया में इसे विरोध का तरीका भी बताया गया था. इस घटना के बाद बोलिवारियन नेशनल गार्ड, मेरिडा की स्टेट पुलिस और वेनुज़ुएला की राष्ट्रीय पुलिस एजेंसी भी मौके पर पहुंची थी.

कई लोगों ने इसे ट्विटर पर भी पोस्ट किया था.

नतीजा

सोशल मीडिया पर किया जा रहा दावा कि कोरोना वायरस के कारण इटली में लोगों ने अपनी दौलत को सड़कों पर फेंकना शुरू कर दिया है, बिल्कुल ही ग़लत है. वायरल हो रही तस्वीरें वेनुज़ुएला की है.

11 मार्च, 2019 में एक बैंक में डकैती होने के बाद आम जनता ने पुराने नोटों को सड़क पर फेंक दिया था, क्योंकि पुराने नोट बेकार हो चुके थे. वेनुज़ुएला ने अगस्त, 2018 में अपनी करेंसी को बदल लिया था. इस वक़्त वायरल हो रही तस्वीरों का इटली या कोरोना वायरस से कोई संबंध नहीं है.

अगर आपको भी किसी ख़बर पर शक है,
तो हमें मेल करें- padtaalmail@gmail.com पर.
हम दावे की पड़ताल करेंगे और आप तक सच पहुंचाएंगे.

कोरोना वायरस से जुड़ी हर बड़ी वायरल जानकारी की पड़ताल हम कर रहे हैं. इस लिंक पर क्लिक करके जानिए वायरल दावों की सच्चाई.

पड़ताल: क्या इटली के लोगों ने कोरोना से तंग आकर अपनी दौलत सड़क पर फेंकनी शुरू दी?
  • दावा

    इटली के लोगों ने अपने पैसे सड़क पर फेंक दिए.

  • नतीजा

    वायरल हो रही तस्वीर वेनुज़ुएला में मार्च, 2019 में खींची गई थी. आम लोगों ने पुरानी करेंसी को सड़क पर फेंक दिया था. इसका कोरोना वायरस या इटली से कोई संबंध नहीं है.

अगर आपको भी किसी जानकारी पर संदेह है तो हमें भेजिए, padtaal@lallantop.com पर. हम पड़ताल करेंगे और आप तक पहुंचाएंगे सच.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पड़ताल

पड़ताल: नौजवान की मारपीट और धारदार हथियार से हत्या को मुस्लिमों से जोड़ते वीडियो का सच

पड़ताल: नौजवान की मारपीट और धारदार हथियार से हत्या को मुस्लिमों से जोड़ते वीडियो का सच

वॉट्सऐप पर वायरल वीडियो के एक हिस्से में भीड़ मारपीट कर लड़के को एक इमारत में खींचकर ले जाती है.

पड़ताल: सिद्धार्थ शुक्ला के आखिरी पलों का वीडियो बताकर भ्रम फैलाया जा रहा, जानिए सच

पड़ताल: सिद्धार्थ शुक्ला के आखिरी पलों का वीडियो बताकर भ्रम फैलाया जा रहा, जानिए सच

बिग बॉस विजेता रहे 40 साल के टीवी ऐक्टर सिद्धार्थ शुक्ला की 2 सितंबर को मुंबई में मौत हो गई.

पड़ताल: अमेरिकी सेना के बचे हेलिकॉप्टर्स तालिबान को मिले तो वे इन्हें सड़क पर दौड़ाने लग गए?

पड़ताल: अमेरिकी सेना के बचे हेलिकॉप्टर्स तालिबान को मिले तो वे इन्हें सड़क पर दौड़ाने लग गए?

दावा किया जा रहा है कि ये तालिबान की हेलिकॉप्टर ट्रेनिंग का वीडियो है.

पड़ताल: क्या आर्कटिक में चाँद ने ढक लिया सूरज? देखिए इस वीडियो का सच

पड़ताल: क्या आर्कटिक में चाँद ने ढक लिया सूरज? देखिए इस वीडियो का सच

ये वीडियो एक बार फिर वॉट्सऐप पर वायरल हो रहा है.

पड़ताल: न्यूज़ चैनल CNN ने नहीं की तालिबान की तारीफ, फर्जी है स्क्रीनशॉट

पड़ताल: न्यूज़ चैनल CNN ने नहीं की तालिबान की तारीफ, फर्जी है स्क्रीनशॉट

विवेक अग्निहोत्री, वरुण गांधी समेत कई वेरिफाइड यूज़र्स ने किया दावा.

पड़ताल: क्या इस साल 10वीं और 12वीं पास करने वाले स्टूडेंट्स को सरकारी नौकरी के लिए स्पेशल पेपर देना होगा?

पड़ताल: क्या इस साल 10वीं और 12वीं पास करने वाले स्टूडेंट्स को सरकारी नौकरी के लिए स्पेशल पेपर देना होगा?

न्यूज़ वेबसाइट के वायरल स्क्रीनशॉट का पूरा सच यहां जानिए.

पड़ताल: किन्नौर में हुए भूस्ख़लन के बाद हिमाचल के पहाड़ों में लगा है ये भयानक जाम?

पड़ताल: किन्नौर में हुए भूस्ख़लन के बाद हिमाचल के पहाड़ों में लगा है ये भयानक जाम?

हिमाचल समेत पूरे हिमालय क्षेत्र में पहाड़ दरकने की ख़बरें लगातार आ रही हैं.

पड़ताल: क्या घरेलू गैस की बढ़ी कीमतों की ज़िम्मेदार

पड़ताल: क्या घरेलू गैस की बढ़ी कीमतों की ज़िम्मेदार "55% टैक्स वसूलने वाली राज्य सरकारें" हैं?

दावा किया जा रहा है कि केंद्र सरकार मात्र 5% टैक्स ले रही है, जबकि राज्य सरकारें कई गुणा ज्यादा.

पड़ताल: क्या तस्वीर में दिख रही महिला अफ़ग़ानी राजदूत की बेटी हैं, जिसका पाकिस्तान में

पड़ताल: क्या तस्वीर में दिख रही महिला अफ़ग़ानी राजदूत की बेटी हैं, जिसका पाकिस्तान में "अपहरण" हुआ था?

अफ़ग़ानी राजदूत ने पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में उनकी बेटी का अपहरण होने का दावा किया था.

पड़ताल: क्या नागालैंड में उग रहे हैं ये खूबसूरत रंगीन भुट्टे?

पड़ताल: क्या नागालैंड में उग रहे हैं ये खूबसूरत रंगीन भुट्टे?

सोशल मीडिया पर वायरल इस तस्वीर को हज़ारों यूज़र लाइक कर चुके हैं.