Submit your post

Follow Us

पड़ताल: बीच सड़क नमाज़ अदा करने की ये तस्वीर भारत की नहीं

दावा

सड़क पर नमाज अदा करने की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है. सोशल मीडिया यूजर्स इस तस्वीर को भारत का बता रहे हैं. इस तस्वीर के साथ तमाम दावे किए जा रहे हैं.

वेरिफाइड ट्विटर यूजर भारत ने वायरल तस्वीर को ट्वीट करते हुए कैप्शन दिया (आर्काइव) ,

एक और ट्विटर यूजर हैं महेश विक्रम हेगड़े. महेश को प्रधान मंत्री मोदी ट्विटर पर फॉलो करते हैं. इस बात का जिक्र महेश ने अपने ट्विटर बायो में किया है. महेश ने वायरल तस्वीर ट्वीट करते हुए लिखा ( आर्काइव ),

“आमिर खान ने सड़कों पर पटाखे फोड़ने के लिए मना किया था, लेकिन क्या अब वो सड़क ना रोकने(कर)& नमाज न पढ़ने के लिए कहेंगे? वो ऐसा कभी नहीं कहेंगे क्योंकि वो जानते हैं कि असली असहिष्णु कौन हैं.”

 

महेश विक्रम हेगड़े के ट्वीट को पश्चिम बंगाल में बीजेपी की महिला मोर्चा की उपाध्यक्ष केया घोष ने भी रीट्वीट किया,

Keya Ghosh Tweet
केया घोष का रीट्वीट.

पड़ताल

‘दी लल्लनटॉप’ ने वायरल दावे की पड़ताल की. वायरल हो रही तस्वीर भारत की नहीं, बांग्लादेश की है. ये तस्वीर बांग्लादेश की राजधानी ढाका की सोभानबाग मस्जिद की है.

वायरल तस्वीर की सच्चाई जानने के लिए हमने रिवर्स इमेज सर्च टूल का इस्तेमाल किया. रिवर्स इमेज सर्च करने पर वायरल तस्वीर से मिलती-जुलती तस्वीर हमें ट्विटर पर मिली. ट्विटर यूज़र फैसल कैसर ने 12 फरवरी, 2021 को ये तस्वीर ट्वीट की थी. ( आर्काइव )

लिखा-

आज जुम्मा की नमाज के दौरान सोभानबाग मस्जिद के बाहर का दृश्य #JummahMubarak

फैसल कैसर के ट्वीट से क्लू लेकर हमने मिलते-जुलते कीवर्ड्स सर्च किए. हमें फेसबुक पर 1जून, 2019 को वॉइस ऑफ अमेरिका का अपलोड किया एक वीडियो मिला. ‘वॉइस ऑफ अमेरिका’ के वीडियो में लोग सड़क पर नमाज पढ़ते हुए दिखाई दे रहे हैं. वीडियो में 25वें सेकेंड पर वही इमारत दिखती है, जो वायरल तस्वीर में दिखाई दे रही है.

Hundreds of Bangladeshi Muslims packed one of the mosques in Dhaka to join the special prayers on the last Friday, May…

Posted by Voice of America – VOA on Friday, 31 May 2019

हमने इस लोकेशन को गूगल स्ट्रीट व्यू में सर्च किया. गूगल स्ट्रीट व्यू में भी ढाका की इसी मस्जिद की तस्वीर दिखाई दे रही है.

Sobhabagh Google Earth
गूगट स्ट्रीट व्यू में मौजूद वायरल तस्वीर वाली इमारत.

रिवर्स इमेज टूल की मदद से हमें वायरल तस्वीर से मेल खाती एक तस्वीर फोटो एजेंसी अलामी की वेबसाइट पर भी मिली. अलामी के मुताबिक, ये तस्वीर बांग्लादेश की राजधानी ढाका की है. बांग्लादेशी फोटोजर्नलिस्ट जावेद हसनैन चौधरी ने ये तस्वीर खींची है.

Alamy Pic Zabed
वायरल तस्वीर से मिलती जुलती तस्वीर alamy की वेबसाइट पर.

वायरल तस्वीर के बारे में जानकारी के लिए ‘दी लल्लनटॉप’ ने जावेद हसनैन चौधरी से संपर्क किया. जावेद ने बताया,

“वायरल तस्वीर में दिख रही इमारत सोभानबाग मस्जिद है, जो राजधानी ढाका के धनमोंडी इलाके में है. स्थानीय मुसलमान हर शुक्रवार सड़क पर मस्जिद के सामने जुमे की नमाज अदा करते हैं. आमतौर पर हर जुमे (शुक्रवार) के दिन यही नज़ारा होता है.”

हालांकि भारत के अलग-अलग हिस्सों में सड़क पर नमाज पढ़ने की खबरें सामने आती रही हैं.

नतीजा

‘दी लल्लनटॉप’ की पड़ताल में वायरल दावा भ्रामक साबित हुआ. वायरल तस्वीर का संबंध भारत से नहीं, बांग्लादेश से है. वायरल तस्वीर में दिख रही इमारत राजधानी ढाका की सोभानबाग मस्जिद है.

पड़ताल की वॉट्सऐप हेल्पलाइन से जुड़ने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.
ट्विटर और फेसबुक पर फॉलो करने के लिए ट्विटर लिंक और फेसबुक लिंक पर क्लिक करें.


वीडियो: ‘क्या भारत को 99 साल की लीज़ पर आज़ादी मिली है’, सच यहां जान लीजिए

पड़ताल: बीच सड़क नमाज़ अदा करने की ये तस्वीर भारत की नहीं
  • दावा

    दावा है सड़क पर नमाज पढ़ते हुए ये तस्वीर भारत की है.

  • नतीजा

    तस्वीर बांग्लादेश की राजधानी ढाका में धनमोंडी इलाके की है. तस्वीर में धनमोंडी की सोभानबाग मस्जिद के बाहर नमाज पढ़ी जा रही है. वायरल तस्वीर का भारत से कोई संबंध नहीं है.

अगर आपको भी किसी जानकारी पर संदेह है तो हमें भेजिए, padtaal@lallantop.com पर. हम पड़ताल करेंगे और आप तक पहुंचाएंगे सच.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पड़ताल

पड़ताल: क्या यूपी में वोट मांगने गए इस BJP नेता के लोगों ने कपड़े फाड़ दिए?

पड़ताल: क्या यूपी में वोट मांगने गए इस BJP नेता के लोगों ने कपड़े फाड़ दिए?

सोशल मीडिया पर वायरल तस्वीर के जरिए दावा किया जा रहा है कि यूपी में वोट मांगने पर जनता ने बीजेपी नेता को पीटा और फिर कपड़े फाड़ दिए.

पड़ताल: योगी के यूपी में नहीं मिल रही लोगों को एम्बुलेंस? सच जानिए

पड़ताल: योगी के यूपी में नहीं मिल रही लोगों को एम्बुलेंस? सच जानिए

सोशल मीडिया पर वायरल तस्वीर में दो आदमी एक महिला के शव को बाइक पर ले जाते नज़र आ रहे हैं.

पड़ताल: सांसद रवि किशन ने दलितों के बारे में क्या कह डाला? जानिए सच

पड़ताल: सांसद रवि किशन ने दलितों के बारे में क्या कह डाला? जानिए सच

सोशल मीडिया पर रवि किशन का कुछ लोगों के साथ कार में बैठे हुए बातचीत का वीडियो वायरल हो रहा है.

पड़ताल: मोहन भागवत के साथ असदुद्दीन ओवैसी की फोटो वायरल. जानिए सच

पड़ताल: मोहन भागवत के साथ असदुद्दीन ओवैसी की फोटो वायरल. जानिए सच

वायरल तस्वीर में RSS प्रमुख मोहन भागवत के साथ AIMIM अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी सोफे पर बैठे नज़र आ रहे हैं

पड़ताल: जयंत चौधरी के 'जाटों का ठेका नहीं लिया' वाले बयान से छेड़छाड़ कर BJP ने भ्रम फैलाया

पड़ताल: जयंत चौधरी के 'जाटों का ठेका नहीं लिया' वाले बयान से छेड़छाड़ कर BJP ने भ्रम फैलाया

सोशल मीडिया यूज़र्स वायरल वीडियो को शेयर कर जयंत चौधरी पर कटाक्ष कर रहे हैं.

पड़ताल: PM मोदी ने नहीं बनवाई ओवैसी के गढ़ में सबसे बड़ी हिन्दू मूर्ति, सच्चाई जानिए

पड़ताल: PM मोदी ने नहीं बनवाई ओवैसी के गढ़ में सबसे बड़ी हिन्दू मूर्ति, सच्चाई जानिए

सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि ओवैसी के घर के बगल में पीएम मोदी ने हिंदू संत की दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति बनवा दी है.

पड़ताल: क्या केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि मोदी के रहते नहीं हो सकता किसानों का हित? जानिए सच

पड़ताल: क्या केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि मोदी के रहते नहीं हो सकता किसानों का हित? जानिए सच

यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या के वायरल वीडियो का सच ये है.

पड़ताल: योगी आदित्यनाथ कार में भजन सुनते नज़र आ रहे हैं? जानिए सच

पड़ताल: योगी आदित्यनाथ कार में भजन सुनते नज़र आ रहे हैं? जानिए सच

सोशल मीडिया पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कार में भजन सुनने का दावा वायरल हो रहा है.

पड़ताल: स्वामी विवेकानंद को 1857 क्रांति से जोड़ PIB ने इतिहास बदला, बाद में गलती मानी

पड़ताल: स्वामी विवेकानंद को 1857 क्रांति से जोड़ PIB ने इतिहास बदला, बाद में गलती मानी

PIB इंडिया ने रमण महर्षि को भी 1857 के स्वतंत्रता आंदोलन से जोड़कर दिखाया.

पड़ताल: मोदी की कैबिनेट बैठक में सिखों को सेना से हटाने पर हुई चर्चा? जानिए सच

पड़ताल: मोदी की कैबिनेट बैठक में सिखों को सेना से हटाने पर हुई चर्चा? जानिए सच

सोशल मीडिया पर प्रधानमंत्री मोदी की केंद्रीय मंत्रियों के साथ चल रही बैठक का वीडियो वायरल हो रहा है. दावा है कि कैबिनेट बैठक में आर्मी से सिखों को निकालने की बात पर चर्चा हुई.