Submit your post

Follow Us

पड़ताल: नागालैंड में हुई फायरिंग के नाम पर कहीं और का वीडियो वायरल

बीते दिनों नागालैंड के मोन जिले में हुई गोलीबारी की घटना में असम राइफल्स के एक जवान समेत कुल 15 लोगों की मौत हो गई थी. इस घटना को आधार बनाकर सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है.

दावा

वायरल वीडियो में सेना की वर्दी पहने कुछ जवान और लोगों के बीच झड़प होती नजर आ रही है.वीडियो में दिख रहे सभी जवान बंदूकों से लैस हैं जबकि पास खड़े लोगों ने हाथ में लंबे चाकूनुमा हथियार पकड़ रखे हैं. झड़प तब शुरू होती है जब पास खड़ा एक व्यक्ति सेना के जवान की गर्दन पर चाकू रखकर उसे धमकाने की कोशिश करता है. बदले में सेना का एक जवान जमीन पर फायरिंग कर उस व्यक्ति को रोकने की कोशिश करता नजर आता है.

दावा है कि ये वीडियो नागालैंड में 4 दिसंबर 2021 को हुई गोलीबारी की घटना का है. सोशल मीडिया यूजर्स लिख रहे हैं कि उकसाये जाने पर भी आर्मी के जवान कभी भी पहले वार नहीं करते. खुद को पूर्व रक्षा अधिकारी बताने वाले ऐ. के. नैथनी (A K Naithani) ने वायरल वीडियो ट्वीट कर अंग्रेज़ी में कैप्शन दिया है, जिसका हिंदी अनुवाद है – (आर्काइव)

‘इस तरह उकसाने पर कोई कैसी प्रतिक्रिया देता है? सैनिकों द्वारा दिखाए गए संयम पर ध्यान दें. आप अपना निष्कर्ष निकाल सकते हैं.’

बीजेपी नेता अश्विनी उपाध्याय ने वायरल वीडियो को ट्वीट कर लिखा, (आर्काइव)

‘सेना का धैर्य देखिए’


कई और सोशल मीडिया यूज़र्स ने भी वायरल वीडियो को शेयर कर नागालैंड की घटना से जोड़ा, (आर्काइव)

पड़ताल

‘दी लल्लनटॉप’ ने वायरल दावे की पड़ताल की. हमारी पड़ताल में वायरल वीडियो के साथ किया जा रहा दावा भ्रामक निकला. वायरल वीडियो नागालैंड में हुई घटना का नहीं, बल्कि कोलंबिया का है.

वायरल वीडियो की पड़ताल के लिए हमने वीडियो के एक फ्रेम को रिवर्स इमेज सर्च की मदद से खोजा. सर्च से हमें CABLENOTICIAS TV के यूट्यूब चैनल पर 5 जनवरी, 2018 को पोस्ट की गई एक न्यूज़ रिपोर्ट का वीडियो मिला. इस वीडियो का टाइटल स्पैनिश भाषा में है, जिसका हिंदी अनुवाद है-

‘कोरिंटो,काउका में मिलिट्री और स्थानीय लोगों में टकराव.’

साथ ही वीडियो से जुड़े कीवर्ड्स को सर्च करने पर हमें कोलंबिया की न्यूज़ वेबसाइट El-Tiempo पर 14 जनवरी 2018 को पोस्ट किया गया एक आर्टिकल मिला.  (आर्काइव)

1
El-Tiempo की वेबसाइट पर मौजूद आर्टिकल का स्क्रीनशॉट.

आर्टिकल में मिली जानकारी के अनुसार, जब सेना के जवानों ने काउका इलाके के उत्तर से अवैध कब्ज़ा हटाने की कोशिश की तो स्थानीय लोगों और सेना के जवानों के बीच झड़प शुरू हो गई. साथ ही लिखा है कि पब्लिक सर्वेंट के खिलाफ हिंसा करने और किसी अन्य की संपत्ति को नुकसान पंहुचाने के अपराध में दो लोगों पर मुकदमा भी चलाया जाएगा.

नतीजा

‘दी लल्लनटॉप’ की पड़ताल में वायरल वीडियो के साथ किया जा रहा दावा भ्रामक निकला. वायरल वीडियो कोलंबिया में आर्मी के जवान और स्थानीय लोगों के बीच हुई झड़प का है. इसे साल 2018 में CABLE NOTICIAS TV यूट्यूब चैनल पर पोस्ट किया गया था. वायरल वीडियो का नागालैंड में हुई गोलीबारी से कोई संबंध नहीं है.

पड़ताल की वॉट्सऐप हेल्पलाइन से जुड़ने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.
ट्विटर और फेसबुक पर फॉलो करने के लिए ट्विटर लिंक और फेसबुक लिंक पर क्लिक करें.


पड़ताल: प्लेटफॉर्म टिकट से ट्रेन में यात्रा करने के वायरल दावे का सच

पड़ताल: नागालैंड में हुई फायरिंग के नाम पर कहीं और का वीडियो वायरल
  • दावा

    वीडियो नागालैंड में 4 दिसंबर 2021 को हुई गोलीबारी की घटना का है. दावा है कि उकसाये जाने पर आर्मी के जवान कभी पहले वार नहीं करते.

  • नतीजा

    ये वीडियो कोलंबिया में आर्मी के जवान और स्थानीय लोगों के बीच हुई झड़प का है. नागालैंड में हुई गोलीबारी से इस वीडियो का कोई संबंध नहीं है.

अगर आपको भी किसी जानकारी पर संदेह है तो हमें भेजिए, padtaal@lallantop.com पर. हम पड़ताल करेंगे और आप तक पहुंचाएंगे सच.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पड़ताल

पीएम नरेंद्र मोदी ने गाया राम भजन? दावे के साथ वीडियो वायरल

पीएम नरेंद्र मोदी ने गाया राम भजन? दावे के साथ वीडियो वायरल

सोशल मीडिया पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा एक भजन गाने का दावा वायरल हो रहा है.

लौकी में इंजेक्शन लगाने वाले वीडियो की असल कहानी ये है!

लौकी में इंजेक्शन लगाने वाले वीडियो की असल कहानी ये है!

सोशल मीडिया पर कुछ लोगों द्वारा लौकी की फसल में इंजेक्शन लगाने का वीडियो वायरल हो रहा है.

क्या सिर्फ मुस्लिम छात्रों की स्कूल फीस लौटा रही है केजरीवाल सरकार?

क्या सिर्फ मुस्लिम छात्रों की स्कूल फीस लौटा रही है केजरीवाल सरकार?

सोशल मीडिया पर केजरीवाल सरकार द्वारा दिल्ली के स्कूलों में पढ़ने वाले मुस्लिम छात्रों की फीस लौटाने का दावा वायरल हो रहा है.

जिसे ज्ञानवापी मस्जिद में मिला शिवलिंग बताया वो ओडिशा का निकला

जिसे ज्ञानवापी मस्जिद में मिला शिवलिंग बताया वो ओडिशा का निकला

सोशल मीडिया पर वाराणसी की ज्ञानवापी मस्जिद में शिवलिंग मिलने के नाम पर एक तस्वीर वायरल हो रही है.

जिसे ज्ञानवापी का शिवलिंग बताया गया वो फोटो तो विदेश की निकली

जिसे ज्ञानवापी का शिवलिंग बताया गया वो फोटो तो विदेश की निकली

सोशल मीडिया पर वाराणसी की ज्ञानवापी मस्जिद में शिवलिंग मिलने का दावा वायरल हो रहा है.

ज्ञानवापी से जोड़कर गलती से भी इन तस्वीरों को शेयर न करें! जानिए क्यों भारी पड़ेगा शेयर करना

ज्ञानवापी से जोड़कर गलती से भी इन तस्वीरों को शेयर न करें! जानिए क्यों भारी पड़ेगा शेयर करना

सोशल मीडिया पर ज्ञानवापी का बताकर दो तस्वीरें वायरल हैं.

बेलपत्र चढ़ाकर पास कराने वाले कथावाचक प्रदीप मिश्रा का बेटा सच में फेल हुआ या झूठ फैलाया गया?

बेलपत्र चढ़ाकर पास कराने वाले कथावाचक प्रदीप मिश्रा का बेटा सच में फेल हुआ या झूठ फैलाया गया?

सोशल मीडिया पर कथावाचक प्रदीप मिश्रा से जुड़ा दावा वायरल है.

पीएम मोदी के वीडियो से छेड़छाड़ कर झूठ फैलाया गया. फैक्ट-चेक हुआ तो खुल गई पोल!

पीएम मोदी के वीडियो से छेड़छाड़ कर झूठ फैलाया गया. फैक्ट-चेक हुआ तो खुल गई पोल!

सोशल मीडिया पर पीएम मोदी का माणिक से जुड़ा बयान वायरल हो रहा है.

मोदी और जर्मन चांसलर की मुलाकात के बीच नेहरू की तस्वीर कहां से आई?

मोदी और जर्मन चांसलर की मुलाकात के बीच नेहरू की तस्वीर कहां से आई?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की विदेश यात्रा से जुड़ा दावा वायरल हो रहा है.

जहांगीरपुरी के बाद दिल्ली के संगम विहार में सांप्रदायिक हिंसा का दावा करता वीडियो वायरल

जहांगीरपुरी के बाद दिल्ली के संगम विहार में सांप्रदायिक हिंसा का दावा करता वीडियो वायरल

सोशल मीडिया पर दो गुटों के बीच चल रही मारपीट का वीडियो वायरल है.