Submit your post

Follow Us

कुंभ के दौरान की तस्वीरें, कांग्रेस पार्टी की ओर से श्रमिकों के लिए चलाई गई बसों के नाम पर वायरल

दावा

लंबी कतार में खड़ी बसों की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है. दावा है कि इन बसों का प्रबंध कांग्रेस पार्टी ने किया है. इनका इस्तेमाल प्रवासी मजदूरों को उत्तर प्रदेश में उनके घर तक पहुंचाने के लिए किया जाएगा.(आर्काइव लिंक)

दावे में बिना किसी भाषाई सुधार के, ज्यों का त्यों लिख रहे हैं-

बसों की लाइन दिख सकती है तो देखिये….

#यूपी सरकार बसों को केवल इसलिए नहीं प्रवेश करने दे रहे है, क्योंकि इनका किराया #प्रियंकागांधी जी ने दिया है, ?

दुश्मनी गांधी से रखो मजदूरों से नहीं ।

मजदूरों देखो आपके साथ कौन खड़ा है ?

यही दावा फेसबुक पर भी किया जा रहा है.(आर्काइव लिंक)


पड़ताल

‘दी लल्लनटॉप’ ने वायरल दावे की पड़ताल की. दावे में बसों की कतार को कांग्रेस की ओर से किया गया प्रबंध बताता दावा झूठ निकला. यह जानकारी सही है कि कांग्रेस पार्टी ने उत्तर प्रदेश के प्रवासी मजदूरों को उनके घर तक पहुंचाने के लिए बसों का प्रबंध किया है. लेकिन वायरल हो रही तस्वीर उस घटना की नहीं है.

पड़ताल के लिए हमने वायरल हो रही फोटो को रिवर्स सर्च किया. रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें असली तस्वीर मिल गई. यह तस्वीर 2019 की है. उत्तर प्रदेश सरकार ने कुंभ मेले के लिए बस सेवा चलाई थी. रिवर्स सर्च करने पर हमें स्कूप-वूप का एक लिंक मिला. इसमें वायरल हो रही तस्वीर का इस्तेमाल किया गया.

आर्टिकल में ANI एजेंसी का एक ट्वीट भी था. इसमें वायरल हो रही तस्वीर भी पोस्ट की गई थी. ANI ने यह ट्वीट 28 फरवरी, 2019 को किया था. ट्वीट के मुताबिक, उत्तर प्रदेश सरकार ने कुंभ के दौरान 500 बसों का काफिला खड़ा कर 3.2 किलोमीटर लंबी कतार बनाई थी. गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज होने की कोशिश की गई थी. देखिए असली ट्वीट-

इससे पहले 17 मई को कांग्रेस महासचिव और उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने एक वीडियो ट्वीट किया था. वीडियो में प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से गुज़ारिश करती हैं कि कांग्रेस पार्टी ने प्रवासी मजदूरों को उनके घर तक पहुंचाने के लिए 1000 बसों का इंतजाम किया है. मुख्यमंत्री इन बसों को न रोकें और प्रदेश की सीमा में आने की अनुमति दें.

प्रियंका गांधी के इस ट्वीट के एक दिन बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने कांग्रेस पार्टी की ओर से मजदूरों के लिए चलाई जा रही 1000 बसों को प्रदेश में आने की अनुमति दे दी है.

नतीजा

कांग्रेस पार्टी की ओर से प्रवासी मजदूरों को उनके घर तक पहुंचाने के लिए प्रबंध की गई 1000 बसों के नाम पर वायरल हो रही तस्वीर पुरानी है. यह 28 फरवरी, 2019 की तस्वीर है, जब उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने कुंभ के दौरान गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में नाम दर्ज करवाने के लिए 500 बसों के काफिले से 3.2 किलोमीटर लंबी कतार बनाई थी.

अगर आपको भी किसी ख़बर पर शक है
तो हमें मेल करें- padtaalmail@gmail.com पर.
हम दावे की पड़ताल करेंगे और आप तक सच पहुंचाएंगे.

कोरोना वायरस से जुड़ी हर बड़ी वायरल जानकारी की पड़ताल हम कर रहे हैं.
इस लिंक पर क्लिक करके जानिए वायरल दावों की सच्चाई.

कुंभ के दौरान की तस्वीरें, कांग्रेस पार्टी की ओर से श्रमिकों के लिए चलाई गई बसों के नाम पर वायरल
  • दावा

    तस्वीर कांग्रेस पार्टी की ओर से श्रमिकों के लिए प्रबंध की गई बसों की है

  • नतीजा

    यह 28 फरवरी 2019 की तस्वीर है, जब उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने कुंभ के दौरान 500 बसों के काफिले की 3.2 किलोमीटर लंबी कतार बनाई थी.

अगर आपको भी किसी जानकारी पर संदेह है तो हमें भेजिए, padtaalmail@gmail.com पर. हम पड़ताल करेंगे और आप तक पहुंचाएंगे सच.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें