Submit your post

Follow Us

पड़ताल: मुस्लिम समुदाय ने नहीं बनाया राम मंदिर निर्माण रुकने की आशंका जताता वीडियो

दावा

आबादी के हिसाब से देश के सबसे बड़े राज्य- उत्तर प्रदेश में 2022 की शुरुआत में विधानसभा चुनाव होने हैं. चुनाव के करीब आते ही सूबे में रोज़ सियासी घटनाक्रम बदल रहे हैं. सूबे की हर पार्टी जमीन से लेकर इंटरनेट तक प्रचार-प्रसार में जुटी है.

अब समाजवादी पार्टी, मुस्लिम समुदाय और राम मंदिर को जोड़ता एक वीडियो वायरल हो रहा है. वायरल वीडियो में समाजवादी पार्टी से कथित तौर पर जुड़ा एक गाना सुनाई दे रहा है. गाने के लिरिक्स को वीडियो में लिखकर भी चलाया जा रहा है. इन लिरिक्स में बिना किसी भाषाई सुधार किए, हम ज्यों का त्यों लिख रहे हैं-

“आई सपा तो मंदिर का निर्माण रुकेगा
लेहरेगा हरा झंडा और भगवा झुकेगा
गजवा-ए-हिंद एजेंडा फिर नहीं रुकेगा
आई सपा तो मंदिर का निर्माण रुकेगा
लेहरेगा हरा झंडा और भगवा झुकेगा”

दावा किया जा रहा है कि वीडियो में सुनाई दे रहा गाना मुस्लिम समुदाय ने बनाया है.

वायरल वीडियो को ट्विटर यूजर जयराम राबरी ने ट्वीट करते हुए कैप्शन दिया,

वायरल वीडियो को फेसबुक यूजर्स भी मुस्लिम समुदाय से जोड़कर शेयर कर रहे हैं.

Facebook Viral
फेसबुक पर वायरल वीडियो का स्क्रीनशॉट.

इसके अलावा पड़ताल की वॉटसऐप हेल्पलाइन पर भी लल्लनटॉप के कई पाठकों ने दावे की सच्चाई जाननी चाही है.

पड़ताल

‘दी लल्लनटॉप’ ने वायरल दावे की पड़ताल की. पड़ताल में ये दावा ग़लत साबित हुआ. वायरल गाना संदीप आचार्य ने बनाया है और वो खुद को हिंदू बताते हैं.

दावे की पड़ताल के लिए हमने कीवर्ड्स सर्च की मदद ली. वायरल हो रहे वीडियो का पूरा वर्ज़न हमें यूट्यूब पर मिला. यूट्यूब चैनल Rudra Music ने 30 सितंबर, 2021 को वायरल गाने के फुल वर्जन को अपलोड किया था. फुल वर्जन में 55 सेकेंड के बाद वायरल वीडियो से मिलती-जुलती लिरिक्स को सुना जा सकता है.

Rudra Music के इस वीडियो में सिंगर के तौर संदीप आचार्य का नाम और नंबर भी लिखा है. इन्हीं संदीप आचार्य का नाम और नंबर वायरल वीडियो में भी देखा जा सकता है.

फेसबुक पर संदीप आचार्य नाम के एक पेज पर Rudra Music यही वीडियो अपलोड किया गया है. वीडियो के कैप्शन में लिखा है,

कुछ हिन्दू भाइयों को ये गीत हिन्दू विरोधी लग रहा हैं, जबकि मैने आपको आगाह करने के लिए ये गीत गाया हैं के सपा जीत ग‌ई तो ऐसा होगा,फर्जी किसी के बहकावे में ना आए

Posted by Sandeep Acharya on Thursday, 7 October 2021

वायरल दावे के बारे में ज्यादा जानकारी के लिए हमने वायरल वीडियो पर दिए गए नंबर पर संपर्क किया. ये नंबर संदीप आचार्य का है. खुद को हिंदुत्व और भाजपा समर्थक बताने वाले संदीप ने बताया,

“वायरल वीडियो में सुनाई दे रहा गाना किसी मुस्लिम ने नहीं बल्कि स्वयं मैंने गाया है. असल में ये गाना 4 से 5 मिनट का है जिसके हिस्से को काटकर गलत रूप से प्रसारित किया जा रहा है. ये गाना मैंने भाजपा के समर्थन में गाया है और गाने को लेकर मेरी सोच थी कि 1990 में जो पार्टी रामभक्तों के ऊपर गोलियां चलवा सकती है, वो पार्टी अगर सत्ता में आती है तो राम मंदिर निर्माण के कार्यक्रम में अवरोध पैदा कर सकती है. इसी सोच के तहत मैंने हिंदुओं को आगाह करते हुए ये गीत गाया कि सपा जैसी पार्टी को वोट मत देना.”

संदीप के फेसबुक पेज पर उत्तर प्रदेश के CM योगी आदित्यनाथ और बीजेपी के समर्थन में गाए कई गाने मौजूद हैं.

नतीजा

हमारी पड़ताल में वायरल दावा भ्रामक साबित हुआ. वायरल हो गाने के लिरिक्स तो सही हैं लेकिन इसे किसी मुस्लिम व्यक्ति ने नहीं गाया है. वायरल गाने के फुल वर्जन को संदीप आचार्य ने गाया हैं जो खुद को हिन्दू बता रहे हैं.

पड़ताल की वॉट्सऐप हेल्पलाइन से जुड़ने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.
ट्विटर और फेसबुक पर फॉलो करने के लिए ट्विटर लिंक और फेसबुक लिंक पर क्लिक करें.


वीडियो: क्या सुशांत सिंह राजपूत के ADGP बहनोई की सड़क हादसे में मौत हो गई?

पड़ताल: मुस्लिम समुदाय ने नहीं बनाया राम मंदिर निर्माण रुकने की आशंका जताता वीडियो
  • दावा

    दावा है कि मुस्लिम समुदाय ने सपा सरकार आने पर राम मंदिर को रोकने वाला गाना बनाया है.

  • नतीजा

    वायरल गाने को संदीप आचार्य ने लिखा है. संदीप खुद को हिंदू और हिंदुत्व का समर्थक बताते हैं. संदीप के पूरे गाने में से एक हिस्से को काटकर वायरल किया जा रहा है.

अगर आपको भी किसी जानकारी पर संदेह है तो हमें भेजिए, padtaal@lallantop.com पर. हम पड़ताल करेंगे और आप तक पहुंचाएंगे सच.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पड़ताल

पड़ताल: क्या केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि मोदी के रहते नहीं हो सकता किसानों का हित? जानिए सच

यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या के वायरल वीडियो का सच ये है.

पड़ताल: योगी आदित्यनाथ कार में भजन सुनते नज़र आ रहे हैं? जानिए सच

सोशल मीडिया पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कार में भजन सुनने का दावा वायरल हो रहा है.

पड़ताल: स्वामी विवेकानंद को 1857 क्रांति से जोड़ PIB ने इतिहास बदला, बाद में गलती मानी

PIB इंडिया ने रमण महर्षि को भी 1857 के स्वतंत्रता आंदोलन से जोड़कर दिखाया.

पड़ताल: मोदी की कैबिनेट बैठक में सिखों को सेना से हटाने पर हुई चर्चा? जानिए सच

सोशल मीडिया पर प्रधानमंत्री मोदी की केंद्रीय मंत्रियों के साथ चल रही बैठक का वीडियो वायरल हो रहा है. दावा है कि कैबिनेट बैठक में आर्मी से सिखों को निकालने की बात पर चर्चा हुई.

पड़ताल: शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान के एयरपोर्ट पर पेशाब करने का दावा वायरल. जानिए सच.

सोशल मीडिया पर बॉलीवुड एक्टर शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान के एयरपोर्ट पर पेशाब करने का दावा वायरल हो रहा है.

पड़ताल: लड़की के स्कूल बंक कर लड़के के साथ होटल जाने का वीडियो वायरल. जानिए सच

दावा है कि होटल में पकड़ी गई लड़की घर से तो स्कूल जाने के लिए निकलती थी लेकिन बाहर जाते ही वो अपने प्रेमी के साथ होटल चली जाती थी.

पड़ताल: यूपी विधानसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान का दावा वायरल. जानिए सच

सोशल मीडिया पर दावा है कि 2022 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 7 चरणों में होंगे, जिसकी तारीखें 4 फरवरी, 8, 11, 15, 19, 23 और 28 फरवरी बताई जा रहीं हैं.

पड़ताल: न्यूज़ 24 चैनल ने अखिलेश यादव से माफी मांगी? जानिए सच

सोशल मीडिया पर 'न्यूज़ 24' चैनल के अखिलेश यादव से माफी मांगने का ट्वीट वायरल हो रहा है. साथ ही वायरल ट्वीट में पीयूष जैन को बीजेपी का सदस्य बताया है.

पड़ताल: क्या पाकिस्तान में हिन्दू होने के कारण महिला का अपहरण हुआ? जानिए सच

सोशल मीडिया पर एक महिला के अपहरण से जुड़ा वीडियो वायरल हो रहा है. वीडियो में कुछ आदमी सड़क किनारे महिला को घसीटते नजर आ रहे हैं.

पड़ताल: कोलकाता के वीडियो को मुंबई लोकल ट्रेन में नमाज़ पढ़ने से जोड़कर जिहाद के बारे में पूछा

सोशल मीडिया पर एक मुस्लिम आदमी के ट्रेन की सीट पर नमाज़ पढ़ने का वीडियो वायरल हो रहा है.