Submit your post

Follow Us

पड़ताल: जयपुर में बिल ज़्यादा आया तो तलवार लेकर बिजली दफ़्तर पहुंच गया ये शख़्स?

दावा

सोशल मीडिया पर तलवार भांजते एक शख़्स का वीडियो वायरल हो रहा है. कई यूज़र्स ने दावा किया कि बिजली बिल ज़्यादा आने पर हाकिम मुल्ला नामक शख़्स तलवार लेकर बिजली ऑफिस पहुंच गया. इस वीडियो को राजस्थान के जयपुर का बताया जा रहा है.

फेसबुक यूज़र मधुकर पंडित ने वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा, (आर्काइव लिंक)

“बिजली का बिल जादा आने पर *हाकिम मुल्ला* तलवार लेके पहुचे बिजली विभाग यह जयपुर का सीन है ओर राजस्थान मे कांग्रेस की सरकार है”

वीडियो में आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग किया गया है. इसलिए हम वीडियो नहीं लगा रहे हैं. वीडियो देखने के लिए अपने विवेक का इस्तेमाल करें.

वायरल वीडियो का स्क्रीनशॉट
वायरल वीडियो का स्क्रीनशॉट

ट्विटर यूज़र @IAmBacckk ने ट्वीट किया,

बिजली का बिल ज़्यादा आ गया था

हाकिम मुल्ला तलवार लेके पहुँच गए

सीन राजस्थान का है सरकार कांग्रेस की है

#Anarchy के हालात महाराष्ट्र जैसे ही होंगे

(आर्काइव लिंक)

इसी तरह के और भी दावे आप यहां (आर्काइव लिंक) और यहां (आर्काइव लिंक) देख सकते हैं.

पड़ताल

‘दी लल्लनटॉप’ की पड़ताल में वायरल वीडियो भ्रामक निकला. वायरल हो रहा वीडियो 2018 का है. घटना राजस्थान के ही जोधपुर शहर की है.

इस वीडियो में बिजली ऑफिस के गेट पर एक फ़ोन नंबर दिख रहा है. हमने इस नंबर पर कॉल मिलाया तो पता चला,

ये मामला लगभग दो साल पुराना है और जोधपुर के कबीर नगर का है. बिजली विभाग की चेकिंग के दौरान अब्दुल हक़ीम के घर बिजली चोरी पकड़ी गई थी. उससे जुर्माना भरने के लिए कहा गया था. मगर वो जुर्माना नहीं भर रहा था. इतना ही नहीं, वो एक दिन बिजली ऑफिस पहुंच गया और तलवार लेकर कर्मचारियों को धमकाने लगा. पुलिस ने इस मामले में अब्दुल को गिरफ़्तार भी किया था.”

कीवर्ड्स के जरिये सर्च करने पर हमें 10 फरवरी, 2018 के जनसत्ता की एक रिपोर्ट मिली. इस रिपोर्ट में उस व्यक्ति की फ़ोटो भी लगी है, जो वीडियो में नज़र आ रहा है. इस रिपोर्ट का टाइटल है,(आर्काइव लिंक)

जोधपुर: बिजली चोरी पर एक्शन से भड़का शख़्स, विभाग के कर्मचारियों पर तानी तलवार.

हमें दैनिक भास्कर की तीन साल पुरानी एक रिपोर्ट भी मिली. इसके मुताबिक, जब से आरती सिंह ने कबीर नगर इलाके में जेईएन का पदभार संभाला, तब से इलाके में बिजली चोरी घटी है. आरती सिंह ने अखबार को बताया,

अब्दुल हक़ीम के ऊपर 9992 रुपये का जुर्माना लगाया गया था. उसने जुर्माना नहीं भरा तो ये रकम जनवरी के बिल में जोड़ दी गई थी. इसके बाद ही अब्दुल हक़ीम ऑफिस आकर जुर्माना हटाने की ज़िद करने लगा. जब ऐसा करने से मना किया गया, तब वो ऑफ़िस में तलवार लेकर पहुंच गया और कर्मचारियों को धमकाने लगा.

(आर्काइव लिंक)

11 फ़रवरी, 2020 की इंडिया टुडे की रिपोर्ट है. इस रिपोर्ट में राजस्थान में बिजली की दरों में हुई बढ़ोत्तरी का ज़िक्र है. बिजली की दर 11 प्रतिशत तक बढ़ गई थी. लोगों ने इस बढ़ोत्तरी के ख़िलाफ़ प्रदर्शन भी किया था. रेट कितने बढ़े थे-

50 यूनिट तक – 4.75 रुपये प्रति यूनिट

51-150 यूनिट तक – 6.10 से बढ़कर 6.50 रुपये प्रति यूनिट

151-300 यूनिट तक – 6.40 से बढ़कर 7.35 रुपये प्रति यूनिट

301-500 यूनिट तक – 6.70 से बढ़कर 7.65 प्रति यूनिट

500 यूनिट से ऊपर – 7.95 रुपये प्रति यूनिट.

(आर्काइव लिंक)

स्पष्ट है कि वायरल वीडियो 2018 का है और बिजली चोरी की घटना से संबंधित है. राजस्थान में फ़रवरी, 2020 में बिजली की दरों में वृद्धि के ख़िलाफ़ जनता ने प्रदर्शन किया था. वायरल वीडियो का इस वृद्धि से कोई संबंध नहीं है. वीडियो वाली घटना जोधपुर के कबीर नगर में घटी थी.

नतीजा

जयपुर के बिजली ऑफ़िस में शख़्स द्वारा तलवार भांजने के दावे के साथ वायरल वीडियो भ्रामक है. असल में, ये वीडियो साल 2018 का है. घटना जोधपुर की है. तब अब्दुल हकीम नामक शख़्स को बिजली चोरी में पकड़ा गया था और उसपर ज़ुर्माना भी लगाया गया था. ज़ुर्माना नहीं भरने पर रकम उसके बिजली बिल में जोड़ दी गई थी. इससे नाराज़ अब्दुल तलवार लेकर बिजली विभाग के ऑफ़िस पहुंच गया था.

फ़रवरी, 2020 में राजस्थान में बिजली की दरों में 11 प्रतिशत तक की बढ़ोत्तरी की गई थी. वायरल वीडियो का इस वृद्धि से कोई संबंध नहीं है.

पड़ताल अब वॉट्सऐप पर. वॉट्सऐप हेल्पलाइन से जुड़ने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.
ट्विटर और फेसबुक पर फॉलो करने के लिए ट्विटर लिंक और फेसबुक लिंक पर क्लिक करें.


पड़ताल: बुर्के के भीतर कटार छिपाकर घूम रहा शख्स मंदिर का पुजारी है?

पड़ताल: जयपुर में बिल ज़्यादा आया तो तलवार लेकर बिजली दफ़्तर पहुंच गया ये शख़्स?
  • दावा

    जयपुर में बिजली बिल ज्यादा आने पर तलवार लेकर बिजली ऑफ़िस पहुंच गया अब्दुल हक़ीम

  • नतीजा

    तलवार लेकर बिजली ऑफ़िस पहुंचने वाला वायरल वीडियो 2 साल पुराना है और जयपुर नहीं जोधपुर का है.

अगर आपको भी किसी जानकारी पर संदेह है तो हमें भेजिए, padtaalmail@gmail.com पर. हम पड़ताल करेंगे और आप तक पहुंचाएंगे सच.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें