Submit your post

Follow Us

क्या ज़ायरा ने इस्लाम के लिए फ़िल्म लाइन छोड़ दी?

जब आमिर खान की फिल्म दंगल रिलीज़ हुई थी तो उस फिल्म में एक लड़की के काम ने सबको प्रभावित किया था. उसका नाम था जायरा वसीम. छोटे-छोटे बाल और छोटे-छोटे कपड़ों में दंगल लड़ती हुई एक लड़की. फिल्म को भी शोहरत मिली और जायरा वसीम को भी. इसके बाद जायरा को नेशनल अवार्ड भी मिला और जायरा दुनिया के लिए सिक्रेट सुपरस्टार हो गई. 2017 में उसने इस नाम की फिल्म भी की. इस फिल्म में भी जायरा ने कट्टरपंथियों से लड़ते हुए खुद को सुपर स्टार के तमगे से नवाजा. बुर्का पहने हुए गाना गाने वाली लड़की फिल्म में सुपरस्टार बन गई. और फिर वो शोहरत की बुलंदियों की ओर पहुंचने लगी.

zaira
फिल्म दंगल में जायरा वसीम. छोटे बालों और कपड़ों को लेकर उन्हें खूब ट्रोल किया गया था.

लेकिन वो फिल्म थी, ये हकीकत है. और हकीकत ये है कि जायरा वसीम ने इस्लाम के लिए फिल्मी दुनिया को अलविदा कह दिया है. फेसबुक और इंस्टाग्राम पर लंबा-चौड़ा पोस्ट लिखकर जायरा ने कहा है कि अब वो फिल्मी दुनिया को अलविदा कह रही हैं. देखिए जायरा ने लिखा क्या है-

इस लंबी-चौड़ी पोस्ट का मजमून ये है कि जायरा अब फिल्मी दुनिया को अलविदा कहकर इस्लाम की सेवा करना चाहती हैं. जायरा ने लिखा है-

5 साल पहले के मेरे फैसले ने मेरी ज़िंदगी बदल दी. मैंने बॉलीवुड में कदम रखा और खासी शोहरत मिली. मुझे युवाओं के रोल मॉडल के तौर पर देखा जाने लगा. लेकिन अब जह मैंने इस इंडस्ट्री में अपने पांच साल पूरे कर लिए हैं, तो मैं अपनी इस शोहरत और अपने इस काम से खुश नहीं हूं.

जायरा ने लिखा है-

मुझे मेरा रास्ता मिल गया है. मैं अल्लाह की तरफ लौट रही हूं. यह दुनिया सिवाय एक छलावा और गुमराही के कुछ नहीं है. यहां मैंने सफलता हासिल की. लोगों ने तारीफ कीं. लेकिन जब मैंने अपने भीतर झांका तो पाया कि दरअसल, यह झूठी सफलता है.

zaira
जायरा को दंगल फिल्म के लिए नेशनल अवार्ड भी मिल चुका है.

जायरा ने फेसबुक पर बॉलिवुड को अलविदा कहते हुए लिखा है-

हालांकि मुझे इस इंडस्ट्री में जितना प्यार मिला है, उससे मैं खुश हूं, लेकिन इसकी वजह से मैं अपने ईमान से भटक गई थी. अगर मैं इस माहौल में काम करना जारी रखती तो मैं अपने धर्म-ईमान से और भी दूर चली जाती. मैं पिछले कुछ समय से खुद को समझाने की कोशिश कर रही थी कि मैं जो कर रही हूं, वो ठीक है. लेकिन आखिरकार अब मुझे समझ आ गया है कि अपने धर्म इस्लाम की बताई हुई राह पर चलने में मैं एक बार नहीं, 100 बार असफल रही हूं.

जायरा ने कुरआन की आयतों और अल्लाह का जिक्र करते हुए लिखा है-

मैं अपनी छोटी सी जिंदगी में इतनी लंबी लड़ाई नहीं लड़ पा रही हूं और बहुत सोच समझकर फिल्मी दुनिया को अलविदा कह रही हूं.

जायरा फिल्मी दुनिया में रहें या फिर उसे अलविदा कहें, ये उनका निजी फैसला है. उन्हें ही तय करना है कि वो क्या करना चाहती हैं. और इसका सम्मान भी होना चाहिए. लेकिन इस लंबी-चौड़ी पोस्ट को लिखते हुए जायरा वसीम ने बार-बार जिस एक शब्द का जिक्र किया है, वो है ईमान. वो बार-बार कह रही हैं कि वो अपने ईमान से भटक गई थीं. वो बार-बार लिख रही हैं कि इस इंडस्ट्री में वो अपने ईमान पर कायम नहीं रह पाईं.

जायरा के मामले में अब पुलिस की जांच पूरी होने का इंतजार है.
जायरा को कश्मीर के कुछ कट्टरपंथियों ने हमेशा ही ट्रोल करने की कोशिश की है.

और जायरा को इस ईमान की याद कुछ कट्टरपंथियों ने उसी वक्त दिला दी थी, जब फिल्म दंगल के कुछ पोस्टर सामने आए थे. कट्टरपंथियों को उनके छोटे कपड़ों पर ऐतराज था, उनके छोटे बालों पर ऐतराज था. इसे इस्लाम के खिलाफ करार दिया गया था. परिवारवालों को जान से मारने की धमकी तक दी गई थी. उस वक्त तो जायरा ने कट्टरपंथियों को जवाब दे दिया था, लेकिन बाद के दिनों में जब जायरा के खिलाफ फतवे जारी होने शुरू हो गए, तो वो माफी मांगने लगीं. उस वक्त जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री रहीं महबूबा मुफ्ती से मुलाकात पर ट्रोल हुईं तो फिर से माफी मांगी. फेसबुक पर पोस्ट लिखी और डीलीट कर दी.

zaira 2
जायरा की स्काई इज द पिंक आखिरी फिल्म हो सकती है.

और अब जायरा वसीम ने अपने ईमान पर टिके रहने के लिए फिल्म इंडस्ट्री ही छोड़ देने का फैसला किया है. हो सकता है कि ये उन्हीं कट्टरपंथियों का दबाव हो, जो बार-बार जायरा को उसके ईमान की याद दिलाते हुए ट्रोल करते हों और उन्हें माफी मांगने पर मज़बूर करते हों. इसकी गुंजाइश इसलिए है, क्योंकि जायरा के मैनेजर तुहीन की एक बात सामने आ रही है, जिसमें उन्होंने कहा है कि फेसबुक या इंस्टाग्राम पर जो लिखा गया है, उसे जायरा ने नहीं लिखा है. तुहीन ने ही बताया है कि जायरा मुंबई नहीं, कश्मीर में हैं.

अगर फैसला जायरा का है द स्काई इज पिंक उनकी आखिरी फिल्म हो सकती है, जिसमें वो प्रियंका चोपड़ा और फरहान अख्तर के साथ नज़र आएंगी. और अगर फैसला जायरा का नहीं है तो हो सकता है कि आने वाले दिनों में जायरा की कुछ और भी फिल्में देखने को मिल जाएं.


क्या हुआ जब दंगल की पूरी टीम के सामने ज़ायरा ने सब की नकल उतारी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

क्या अब कांग्रेस ने भी BJP विधायकों में सेंधमारी कर दी है?

दो दिन से पॉलिटिकल थियेटर बना है एमपी.

क्या यस बैंक के मालिक पर प्रियंका गांधी से 2 करोड़ में पेंटिंग खरीदने का दबाव डाला गया?

YES बैंक के मामले में राणा कपूर गिरफ्तार हो चुके हैं.

कांग्रेस ने ज्योतिरादित्य सिंधिया का दो साल पुराना वीडियो ढूंढकर क्यों ट्वीट किया?

सिंधिया के जाने के बाद मध्य प्रदेश कांग्रेस उन पर हमलावर है.

MP में राजनीतिक कंगाली की ओर बढ़ते राहुल फ़िलहाल तेल की कीमत पर गरम हो रहे

इकॉनमी को लेकर तंज कसते हुए मोदी सरकार को टिप दिया.

कांग्रेस अगर ज्योतिरादित्य सिंधिया की सिर्फ ये दो बातें मान लेती तो सरकार जाने की नौबत ना आती

18 साल बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस छोड़ दी

18 साल बाद कांग्रेस छोड़ने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपने इस्तीफे में क्या लिखा?

मध्य प्रदेश में सिंधिया समर्थक 20 विधायकों ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है.

कांग्रेस के 20 विधायकों के इस्तीफे के बाद मध्य प्रदेश में अब नंबर गेम क्या है?

मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बचना मुश्किल.

पीएम मोदी और अमित शाह से मिलने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया का कांग्रेस से इस्तीफा

मध्य प्रदेश में कमलनाथ की सरकार संकट में.

वो कांग्रेसी जिसने राहुल गांधी को नेता मानने से इनकार कर दिया था

अब वह हमारे बीच नहीं हैं.

राणा कपूर की तीन बेटियां, जिन पर CBI-ED की नजर है

यस बैंक के फाउंडर राणा कपूर ED की हिरासत में हैं.