Submit your post

Follow Us

पिछले आठ साल में इंग्लैंड में जो नहीं हुआ वो WTC Final में हो गया!

काइल जेमिसन की बोलिंग के बाद डेवन कॉन्वे की बैटिंग ने वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में इंडियन टीम की मुश्किलें बढ़ा रखी हैं. वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप के तीसरे दिन भारत की पारी 217 रनों पर सिमटी. जिसके बाद किवी टीम ने बल्ले से भी शानदार शुरूआत की है. तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक न्यूज़ीलैंड की टीम ने दो विकेट के नुकसान पर 101 रन बना लिए हैं. वो भारत के स्कोर से महज़ 116 रन पीछे है.

ये तो बात हुई अब तक के मैच की. लेकिन इस मैच में दोनों टीमों के ओपनर्स ने एक खास कमाल कर दिया है. ये कमाल ऐसा है जो पिछले आठ सालों में इंग्लैंड के मैदान पर कभी भी नहीं हुआ था.

कौन सा रिकॉर्ड बन गया?

आपको याद होगा शनिवार को जब भारत की बैटिंग शुरू हुई तो रोहित शर्मा और शुभमन गिल ने टीम को एक अच्छी शुरूआत दी थी. दोनों ओपनर्स ने दो-चार नहीं बल्कि 20 ओवर से ज़्यादा बैटिंग की. बस यही एक रिकॉर्ड है. रविवार को किवी टीम के ओपनर्स ने भी 20 ओवर से ज़्यादा बैटिंग कर ली है. 2013 के बाद पहली बार इंग्लैंड में दोनों टीमों के ओपनर्स ने 20 ओवर से ज़्यादा बैटिंग की है.

जहां इंडियन टीम के ओपनर रोहित शर्मा और शुभमन गिल 20.1 ओवर खेले. वहीं किवी टीम के ओपनर डेवन कॉन्वे और टॉम लेथम 34.2 ओवर बैटिंग करके गए.

भारत के लिए रोहित शर्मा ने 34, जबकि शुभमन गिल ने 28 रन बनाए. वहीं न्यूज़ीलैंड टीम के लिए टॉम लेथम ने 30, जबकि डेवन कॉन्वे ने 54 रनों की पारी खेली.

इस तरह से आठ सालों से इंग्लैंड की कंडीशन्स में जो ओपनर्स जल्दी-जल्दी विकेट देकर चले जाते थे. वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में वो जमकर खेले.

कहां पर खड़ा है मैच:

भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच इस ऐतिहासिक टेस्ट में तीन दिन के खेल के बाद किवी टीम का पलड़ा भारी है. पहले तो उन्होंने भारत को 217 रनों पर आउट कर दिया और फिर इसके बाद 101/2 रन बना लिए हैं. वो भारत के स्कोर से 116 रन पीछे हैं.

भारतीय टीम को अगर इस मैच में वापसी करनी है तो उसे चौथे दिन किवी टीम को बड़ी बढ़त बनाने से पहले ही ऑल-आउट करना होगा. जिससे की वो दूसरी पारी में बैटिंग कर न्यूज़ीलैंड के सामने एक बड़ा लक्ष्य रख सके.


स्नेह राणा कौन है, जिसने अकेले ही इंग्लैंड की महिला बॉलर्स को छका दिया? 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

नेमावर हत्याकांड: आरोपी सुरेंद्र चौहान की प्रॉपर्टी पर चली जेसीबी, CBI जांच की मांग उठी

नेमावर हत्याकांड: आरोपी सुरेंद्र चौहान की प्रॉपर्टी पर चली जेसीबी, CBI जांच की मांग उठी

कांग्रेस का आरोप है कि भाजपा नेता होने के चलते सुरेंद्र चौहान को इस मामले में संरक्षण मिला.

जम्मू एयरफोर्स स्टेशन पर धमाका, DGP दिलबाग सिंह बोले-ड्रोन से हुआ हमला

जम्मू एयरफोर्स स्टेशन पर धमाका, DGP दिलबाग सिंह बोले-ड्रोन से हुआ हमला

दो संदिग्धों को हिरासत में लिया गया है.

आंदोलन के सात महीने पूरे, किसानों ने देशभर में राज्यपालों को सौंपे ज्ञापन,कुछ जगहों पर झड़प

आंदोलन के सात महीने पूरे, किसानों ने देशभर में राज्यपालों को सौंपे ज्ञापन,कुछ जगहों पर झड़प

चंडीगढ़ और पंचकुला में बवाल.

कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ही नहीं, शशि थरूर का अकाउंट भी लॉक कर दिया था ट्विटर ने

कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ही नहीं, शशि थरूर का अकाउंट भी लॉक कर दिया था ट्विटर ने

ट्विटर ने क्या वजह बताई?

एक्ट्रेस पायल रोहतगी को अहमदाबाद पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया

एक्ट्रेस पायल रोहतगी को अहमदाबाद पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया

मामला एक वायरल वीडियो से जुड़ा है.

CBSE और ICSE की परीक्षाएं रद्द करने के खिलाफ याचिकाओं को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज किया

CBSE और ICSE की परीक्षाएं रद्द करने के खिलाफ याचिकाओं को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज किया

नंबर देने के फॉर्मूले से सुप्रीम कोर्ट भी सहमत.

LJP में कलह की वजह बताए जा रहे सौरभ पांडेय के बारे में रामविलास पासवान ने चिट्ठी में क्या लिखा था?

LJP में कलह की वजह बताए जा रहे सौरभ पांडेय के बारे में रामविलास पासवान ने चिट्ठी में क्या लिखा था?

चिराग को राजनीति में आने की सलाह किसने दी थी?

सरकार फिल्मों के सर्टिफिकेशन में क्या बदलाव करने जा रही, जो फ़िल्ममेकर्स की आज़ादी छीन सकता है?

सरकार फिल्मों के सर्टिफिकेशन में क्या बदलाव करने जा रही, जो फ़िल्ममेकर्स की आज़ादी छीन सकता है?

कुछ वक़्त से लगातार हो रहे हैं फ़ेरबदल.

यूनिवर्सिटी-कॉलेजों में लग रहे 'थैंक्यू मोदी' के बैनर पर बवाल क्यों हो रहा है?

यूनिवर्सिटी-कॉलेजों में लग रहे 'थैंक्यू मोदी' के बैनर पर बवाल क्यों हो रहा है?

क्या यूनिवर्सिटीज़ और कॉलेजों को सरकारी प्रचार के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है?

ये किन दो नेताओं को चुनाव से ठीक पहले योगी आदित्यनाथ ने बड़ा काम दे दिया है?

ये किन दो नेताओं को चुनाव से ठीक पहले योगी आदित्यनाथ ने बड़ा काम दे दिया है?

कौन हैं रामबाबू हरित और जसवंत सैनी?